हमारे देश में लाखों बच्चे UPSC की परीक्षा देते हैं क्योंकि यही वो परीक्षा है जिससे हमें आईएएस, आपीएस और पीसीएस ऑफ़िसर मिलते हैं. इसमें अच्छी रैंक बनाने के लिए बच्चे रात दिन जी तोड़ मेहनत करते हैं. मगर इस परीक्षा को पास करना आसान नहीं होता इसलिए कई बार गिरते हैं फिर उठते हैं और दोबारा परीक्षा देते हैं.

Meet Dr Apala Mishra, a dentist who secured AIR 9 in UPSC exam 2020
Source: amarujala

ऐसी ही कुछ कहानी है 9वीं रैंक हासिल कर रिकॉर्ड बनाने वाली डॉ. अपाला मिश्रा की. तो आइए जानते हैं कौन हैं अपाला मिश्रा, जिन्होंने इतिहास रच दिया है.

Dr Apala Mishra tasted success

ग़ाज़ियाबाद में वसुंधरा के सेक्टर 5 की रहने वाली डॉ. अपाला मिश्रा आचार्य हजारी प्रसाद द्विवेदी (Hajari Prasad Dwivedi) की पोती हैं. इनके पिता का नाम अमिताभ मिश्रा है, जो आर्मी में कर्नल रहे हैं और मां अल्पना मिश्रा दिल्ली विश्वविद्यालय की हिंदी की प्रोफ़ेसर हैं और भाई मेजर है.

Dr Apala Mishra tasted success in her third attempt
Source: tosshub

डॉ. अपाला मिश्रा की पढ़ाई की बात करें तो 10वीं की पढ़ाई देहरादून से करने के बाद वो 11वीं और 12वीं की पढ़ाई के लिए दिल्ली आ गई हैं. इसके बाद इन्होंने हैदराबाद के Army College of Dental Sciences से डेंटल सर्जरी में ग्रेजुएशन की डिग्री ली और एक प्रोफ़ेशनल डेंटिस्ट बन गईं. इसीलिए उनका पूरा नाम डॉ. अपाला मिश्रा है.

success story hajari prasad dwivedi's granddaughter apala mishra
Source: twimg

डेंटिस्ट बनने के बाद ही डॉ. अपाला मिश्रा ने UPSC परीक्षा देने का फ़ैसला लिया. इसकी शुरूआत उन्होंने 2018 से की. इस पर उनका कहना है कि,

मैंने साल 2018 में यूपीएससी (UPSC) की परीक्षा के बारे में पढ़ने और कोर्स को समझने की कोशिश की. इसके अलावा अपनी ताक़त और कमज़ोरियों पर ध्यान दिया क्योंकि इसका कोर्स मेरे लिए काफ़ी अलग था इसलिए पैटर्न को समझने में समय लगता है.

                    - डॉ. अपाला मिश्रा

Dr Apala Mishra, who lives in Ghaziabad's Vasundhara Sector-5
Source: newsnc

आगे बताया, 

मैं रोज़ 7 से 8 घंटे पढ़ाई करती थी. मैंने शुरू में कोचिंग से भी पढाई की. हालांकि कुछ दिनों के बाद मैंने ख़ुद ही पढ़ने का निर्णय लिया और अपने तरीक़े से पढ़ाई करना शुरू कर दी. मेरे पिता सेना में कर्नल हैं, इसलिए मुझे यूपीएससी के लिए बहुत जोश के साथ तैयारी करनी पड़ी. मैं कई घंटों तक अपने पिता से सेना के बारे में जानकारी लेती थी और उससे जुड़ी बातों को समझती थी. इसके अलावा, मेरी मां अल्पना मिश्रा ने मुझे साहित्य को समझने में मदद की.

                    - डॉ. अपाला मिश्रा

Dr Apala Mishra studied up to 10th from Dehradun
Source: wp

इसके बाद लगातार तीन बार उन्होंने यूपीएससी की परीक्षा दी और जिसमें से दो बार असफल हुईं और तीसरी बार सफ़लता के सारे रिकॉर्ड तोड़ दिए. अपाला ने 2020 में तीसरी बार UPSC परीक्षा दी और 9वीं रैंक हासिल कर आईएएस ऑफ़िसर बन गईं. इन्होंने आईएएस ऑफ़िसर के इंटरव्यू के दौरान 215 अंक हासिल किए जो अब तक के सबसे ज़्यादा अंक हैं. इससे पहले इंटरव्यू राउंड में सबसे अधिक अंकों का रिकॉर्ड 212 अंकों का था, जिसे डॉ. अपाला मिश्रा ने तोड़ दिया है.