मुंबई में जिस तरह से 'मुंबई लोकल' को वहां की लाइफ़ लाइन कहा जाता है. ठीक उसी तरह 'दिल्ली मेट्रो' को दिल्ली की लाइफ़ लाइन कहा जाता है. अगर आप भी दिल्ली वासी हैं तो आप मेट्रो से ज़रूर सफ़र करते होंगे. इस दौरान आपने Metro Announcement भी सुनी ही होगी. 'अगला स्टेशन 'राजीव चौक' है', 'दरवाज़े दाईं तरफ़ खुलेंगे', 'मेट्रो में फ़ोटोग्राफ़ी और खाना-पीना वाजित है', 'महिलाओं की आरक्षित सीट पर न बैठें' आदि. दरअसल, ये एनाउंसमेंट पैसेंजरों को यात्रा संबंधित सूचना देने के लिए होती है.

ये भी पढ़ें- क्या आप जानते हैं दिल्ली मेट्रो के किस मेट्रो स्टेशन पर बना है, भारत का सबसे लंबा एस्केलेटर?

Delhi Metro
Source: livemint

दिल्ली मेट्रो (Delhi Metro) में सफर करने वाले कुछ लोगों को भले ही ये 'एनाउंसमेंट' अनोयिंग लगती हो, लेकिन ये अपनी मंज़िल तक पहुंचने वाले पैसेंजरों के लिए बेहद महत्वपूर्ण होती है. महत्वपूर्ण इसलिए भी क्योंकि दिल्ली से नॉएडा, गुरुग्राम, ग़ाज़ियाबाद और फ़रीदाबाद जाने वाले नौकरीपेशा लोगों के लिए ये 'एनाउंसमेंट' अलार्म का काम करती है. लंबे सफ़र के दौरान लोग अक्सर नींद की झपकी लेने लग जाते हैं और उनकी मंज़िल पीछे छूट जाती है. ऐसे में मेट्रो में हर 2 मिनट बाद गूंजने वाली मिठास भरी ये 'आवाज़' हमें सचेत करने का काम करती है.

हालांकि, कुछ लोगों को ये आवाज़ इतनी अच्छी लगती है कि वो इस एनाउंसमेंट को ख़ुद भी दोहराने लगते हैं. दरअसल, दिल्ली मेट्रो (Delhi Metro) में गूंजने वाली इस आवाज़ के पीछे 2 लोग हैं. इनमें से मेल वॉइस 70 और 80 के दशक के मशहूर न्यूज़ रीडर शम्मी नारंग (Shammi Narang) की है. जबकि फ़ीमेल वॉइस रिनी सिमोन खन्ना (Renee Simone Khanna) की है. आज हम रिनी सिमोन खन्ना की ही बात करने जा रहे है, वो कौन हैं और क्या करती हैं? 

Renee Simone Khanna

Renee Simone Khanna
Source: youtube

कौन हैं रिनी सिमोन खन्ना?

रिनी सिमोन खन्ना (Renee Simone Khanna) का जन्म सन 1964 में दिल्ली में हुआ था. उनके पिता 'इंडियन एयर फ़ोर्स' में ऑफ़िसर थे. इस वजह से रिनी को दिल्ली, पंजाब, मुंबई, जोधपुर, बागडोगरा, तांबरम के कुल 9 स्कूलों में पढ़ाई करनी पड़ी. आख़िर में सन 1981 में उन्होंने दिल्ली के सुब्रतो पार्क स्थित 'वायु सेना स्कूल' से अपनी स्कूली शिक्षा पूरी की. इसके बाद उन्होंने दिल्ली विश्वविद्यालय 'जीसस एंड मैरी कॉलेज' से अंग्रेज़ी साहित्य में स्नातक की उपाधि हासिल की फिर इतिहास में स्नातकोत्तर किया। इसके बाद रिनी खन्ना ने भारतीय जनसंचार संस्थान (IIMC), नई दिल्ली से पत्रकारिता में पीजी डिप्लोमा भी किया.

Renee Simone Khanna
Source: thevoiceoffashion

दूरदर्शन के लिए 'न्यूज़ रीडर' का काम किया  

दरअसल, रिनी सिमोन खन्ना ने 13 साल की उम्र से ही 'ऑल इंडिया रेडियो' पर 'साक्षात्कार' और 'शो होस्ट' करना शुरू कर दिया था. भारतीय जनसंचार संस्थान से पत्रकारिता करने के बाद सन 1982 में उन्होंने 'ऑल इंडिया रेडियो' के साथ एक न्यूज़कास्टर के रूप में अपने करियर की शुरुआत की थी. इसके बाद वो 'ऑल इंडिया रेडियो' पर प्राइमटाइम राष्ट्रीय समाचार रीडर की नौकरी करने लगीं. इस दौरान वो टेलीविजन और रेडियो के लिए न्यूज़ रीडिंग के अलावा स्वतंत्रता दिवस, गणतंत्र दिवस समेत कई महत्वपूर्ण अवसरों पर कमेंट्री भी करती थीं.

Renee Simone Khanna
Source: scroll

रिनी सिमोन खन्ना (Renee Simone Khanna) को सन 1985 में दूरदर्शन (Doordarshan) पर राष्ट्रीय समाचार की एंकरिंग के लिए चुना गया था. इस दौरान उन्हें न्यूज़ एंकर तेजेश्वर सिंह के साथ सह-एंकरिंग का मौका मिला था. रिनी ने सन 1985 से 2001 के बीच दूरदर्शन के साथ काम किया, जिसने उन्हें देशभर में मशहूर कर दिया था. अपने 16 साल के करियर में उन्होंने न्यूज़ रीडर के अलावा विभिन्न कार्यक्रमों के लिए पेशेवर वॉयस ओवर आर्टिस्ट और एंकर का काम भी किया किया. 

58 वर्षीय रिनी सिमोन खन्ना (Renee Simone Khanna) आज भी पतरकारिता की दुनिया में एक जाना पहचाना नाम हैं. ख़ूबसूरत आवाज़ की धनी रिनी अब भले ही न्यूज़ एंकरिंग न करती हों, लेकिन उनकी आवाज़ हमें कहीं न कहीं सुनाई ज़रूर देती है. वो आज भी डॉक्युमेंट्रीज़, विज्ञापनों और फ़ीचर फ़िल्मों के लिए वॉयस ओवर आर्टिस्ट के तौर पर काम करती हैं. इसके अलावा रिनी प्रतिष्ठित संगठनों, संयुक्त राष्ट्र एजेंसियों, कॉर्पोरेट समूहों और सरकारी एजेंसियों के लिए अंतरराष्ट्रीय और राष्ट्रीय सम्मेलनों, सांस्कृतिक कार्यक्रमों और सेमिनारों की भी एंकरिंग करती हैं.

रिनी सिमोन खन्ना (Renee Simone Khanna) ने बिज़नेसमैन दीपक खन्ना से शादी की है. ये दंपति नई दिल्ली के वसंत कुंज में रहते हैं और उनका एक 29 वर्षीय बेटा है जिसका नाम साहिल खन्ना है.