'History-Geography बड़ी बेवफ़ा, रात भर याद करी सवेरे सफा'. इतिहास की बात हो और ये कहावत ज़हन में न आए, ऐसा तो हो ही नहीं सकता. वैसे अगर आपने 10वीं क्लास के बाद इतिहास विषय नहीं चुना, तो हम समझ सकते हैं कि कितना प्यार है आपको, भारत और ​दुनिया के बीते कल से. इतिहास के पन्ने पलटते वक्त हमने भी वही तस्वीरें देखी हैं जो आपने देखी हैं. पर जो तस्वीरें हम आपको दिखा रहे हैं, ये आपने शायद किसी ​इतिहास की किताब में नहीं देखी होंगी.

1. ये आदमी इन महिला तैराकों के स्विमसूट का साइज़ नाप रहा है, कि कहीं वो छोटा तो नहीं है. मज़े की बात तो तब हो जब ये आदमी आज की महिला तैराकों की ड्रेस नाप कर दिखाए.

2. ये औरतें शराब के विरोध में प्रोटेस्ट कर रही हैं. इनका मानना है कि शराब पीना शैतान का काम है. इनके मुताबिक जो शराब को मुंह लगाए, वो इन्हें मुंह न लगाए.

3. पता नहीं 1920 में लोग अपना मुंह क्यों छिपाते फिरते थे. ये मास्क क्लो​रीन से बचने के लिए है या सूरज से, ये हम नहीं बता सकते.

4. साल 1920 में लोग ऐसे दूसरों की आवाज़ दबाते थे. ये Noise Canceling Mask कोई फोटोशॉप की उपज नहीं है ​बल्कि असली है. इसे लगा कर लोगों को शोर कम सुनाई देता था और वो अपने काम में ध्यान केंद्रित कर सकते थे.

5. ये डबल डेकर बस इतनी झुकी होने के बावजूद भी नहीं गिरेगी. यही बताने की कोशिश कर रहे हैं इस डबल डेकर बस के निर्माता अपने ग्राहकों को.

6. अकेले हिटलर ये क्या करने की कोशिश कर रहा है?

7. आज भले ही लड़कियों की सिगरेट पीते हुए तस्वीरें आम हैं, पर 1940 में काफी मुश्किल था.

8. अगर आज आपको लगता है कि Technology ने बहुत तरक्की कर ली है, तो ज़रा इस तस्वीर पर गौर कीजिए. ऐसी कार पार्किंग आपने ज़िदगी में नहीं देखी होगी. इसमें लोग एक बार में 25 से 30 कार पार्क कर सकते थे.

9. शायद इतिहास की इससे ज़्यादा रोमांटिक तस्वीर आपने नहीं देखी होगी.

10. विश्वास मानिए यहां किसी रोबोट के बच्चे डिलीवरी नहीं हो रही है. ये बच्चे इंसान के ही हैं.

11. ज़माना तो वो हुआ करता था जनाब, जब वेंडिंग मशीन से व्हिस्की ​गिरा करती थी.

12. जीवन में सं​तुलन कितना ज़रूरी है वो आप इस तस्वीर से सीख सकते हैं.

13. जूतों को पाने की खुशी जो इस बच्चे के चेहरे पर दिख रही है, वो आज के बच्चों में दिखना मुश्किल है.

14. साल 1970 में लंदन के बकिंघम पैलेस के पास हो रही परेड के दौरन बेहोश पड़ा गार्ड.

15. पहले ज़माने में हर आदमी के अंदर एक खूबसूरत औरत होती थी.