कहा जाता है कि हर काम के लिए एक उम्र निर्धारित है, लेकिन ये कहने की बातें हैं, बहाने हैं. लतिका चक्रवर्ती का उदाहरण देख कर तो ऐसा ही लगता है. 89 साल की उम्र में उन्होंने ऑनलाइन बिज़नेस में कदम रखा है. इस उम्र में लतिका अपने हाथ से बने बैग्स दुनिया तक पहुंचा रही हैं.

Image Source: Latika's

उनके पति कृष्णा लाल चक्रवर्ती एक सर्वे आफ़ इंडिया में सर्वेक्षक थे. पति के निधन के बाद वो अपने बेटे के साथ रहने लगीं, उनके बेटे कैप्टन राज चक्रवर्ती नौसेना में थे. पति और बेटे का काम ऐसा था, जिसकी वजह से वो लगातार भारत के अलग-अलग शहरों में घूमती रहती थी.

Image Source: Latika's

उम्र के इस पड़ाव पर अपने तजुर्बे और कला की मदद से उन्होंने एक ऑनलाईन शॉप शुरू की है, जिसमें वो हाथ से बने हैंड बैग और पोटली बेचती हैं. उस पर बिकने वाला सभी समान लतिका चक्रवर्ती द्वारा तैयार किया हुआ है. सभी पोटलियां और हैंडबैग पुरानी साड़ियों और कुर्ते से बने होते हैं. ये वो साड़ियां और सूट हैं जिसे उन्होंने अपने ज़िंदगी में विभिन्न पड़ावों पर ख़रीदा था. इ समें भारत के कोने-कोने की मशहूर कलाओं का मिश्रण दिखता है.

Image Source: Latika's

दावे के साथ कहा जा सकता है कि वैसा डिज़ाइन कहीं और देखने के लिए भी नहीं मिलेगा क्योंकि उस कलाकार के पास 64 बरस का अनुभव नहीं होगा. 89 साल की इस बिज़नेसवुमन को अपना प्यार आप इनमें से एक पोटली ख़रीद कर पहुंचा सकती हैं.

Source: Latika's