'स्टेचू ऑफ़ यूनिटी' के बाद अब राजस्थान के नाथद्वारा में भगवान शिव की 351 फ़ुट ऊंची प्रतिमा बनने जा रही है. इसके साथ ही ये दुनिया की सबसे ऊंची शिव प्रतिमा होगी. उदयपुर शहर से क़रीब 50 किलोमीटर की दूर श्रीनाथद्वारा के गणेश टेकरी में बन रही ये शिव मूर्ति अगले साल मार्च तक बनकर तैयार हो जाएगी.

Source: thevirallines

351 फ़ुट ऊंची इस प्रतिमा में पर्यटकों की सुविधा के लिये चार लिफ़्ट और तीन सीढ़ियां बनाई जा रही हैं. जिसके सहारे पर्यटक 110 फ़ीट की ऊंचाई तक जाकर दर्शन कर सकेंगे. जबकि इससे ऊपर कर्मचारियों और वीआईपी को ही जाने की अनुमति होगी. यहां नर्सरी, कैफ़ेटीरिया, कॉटेज, ओपन थियेटर, म्यूज़िकल लाइटिंग फ़ाउंटेन और रिसेप्शन प्लाज़ा जैसी कई सुविधाएं भी होंगी.

Source: thevirallines

इस प्रतिमा को 20 किलोमीटर दूर स्थित कांकरोली फ़्लाईओवर से आसानी से देखा जा सकता है. इस फ़्लाईओवर से आप इसे रात के समय में भी देख सकते हैं. क्योंकि इसमें अमेरिका से मंगवाई जा रही विशेष तरह की लाइट लगाई जा रही हैं.

Source: bhaskar.com

इस मूर्ति को बनाने का जिम्मा 'मिराज ग्रुप' को सौंपा गया है. इस ड्रीम प्रोजेक्ट का लगभग 85 प्रतिशत काम पूरा कर लिया गया है. 351 फ़ुट ऊंची इस विशालकाय मूर्ति का निर्माण 16 एकड़ क्षेत्र की पहाड़ी पर किया जा रहा है. इस बनाने के लिए 750 कारीगर और श्रमिक प्रतिदिन काम कर रहे हैं. इस प्रतिमा में भगवान शिव को ध्यान और आराम की मुद्रा में दिखाया जा रहा है.

Source: timesnownews

अगर इसके तकनीकी पक्ष की बात करें, तो इस प्रतिमा को स्टील रॉड के मॉड्यूल की सहायता से बनाया जा रहा है. स्टील से हर एक फ़ीट पर सरिये की मदद से ढांचा तैयार कर इसमें कंकरीट भरी जा रही हैं. इस प्रतिमा की सुरक्षा और गुणवत्ता की जांच सिडनी में की गई है. ऊंचाई पर होने के कारण हवा की तीव्रता और भूकंप के अधिकतम दबाव का भी विशेष ध्यान दिया गया है.

Source: gramino.com

इस परियोजना के प्रभारी राजेश मेहता का कहना है कि 351 फ़ुट ऊंची ये शिव मूर्ति भारत में दूसरी जबकि दुनिया में चौथे नंबर की सबसे ऊंची प्रतिमा होगी. पिछले चार वर्षों से चल रहे इस निर्माण कार्य में अब तक सीमेंट के लगभग तीन लाख बोरे, 2500 टन एंगल, 2500 टन सरिया इस्तेमाल हो चुके हैं.

बनने के बाद कुछ ऐसी दिखेगी शिव प्रतिमा

Source: bhaskar.com

मेहता ने साथ ही कहा कि इस मूर्ति के बनने से उदयपुर आने वाले पर्यटकों की संख्या में बढ़ोतरी होगी. अब पर्यटक श्रीनाथ जी मंदिर के साथ-साथ विश्व की सबसे ऊंची शिव प्रतिमा का आनंद ले सकेंगे.

विश्व की इस सबसे बड़ी 'शिव मूर्ति' का निर्माण मूर्तिकार नरेश कर रहे हैं. विश्व की सबसे ऊंची हनुमान जी की मूर्ति भी नरेश के ही हाथों बनायी गई है.

Source: republicworld