दुनिया के कई बुद्धिजीवी कई बार इतनी गहराई में चले जाते हैं कि उन्हें हर चीज़ आर्ट दिखने लगती है. आर्ट और Artistic फ़्रीडम के नाम पर कई रॉकस्टार्स क्रेज़ी घटनाओं में भी शामिल रहे हैं. कुछ बेहद साधारण दिखने वाली तस्वीरें भी लाखों-करोड़ों में नीलाम कैसे हो जाती हैं, ये ज़्यादातर लोगों की समझ से परे है. आर्टहाउस फ़िल्मों में Absurdism को लेकर भी कई मेनस्ट्रीम दर्शक मज़ाक बनाते रहे हैं. कहने का मतलब है कि आर्ट के नाम पर Bizzare घटनाएं होती रही हैं और ऐसा ही एक मामला इंग्लैंड में सामने आया है.

22 साल के रॉय ग्रे ने एक Pineapple यानि अनन्नास को 'मज़ाक' के तौर पर खरीदा था, लेकिन ये मज़ाक रॉबर्ट गॉर्डन यूनिवर्सिटी के कला-प्रेमियों के लिए 'आर्ट' बन गया.

दरअसल ग्रे ने ये अनन्नास अपने एक दोस्त को चिढ़ाने के लिए खरीदा था, लेकिन इसका कोई फ़ायदा नहीं हुआ. ग्रे अब इस अनन्नास के साथ फ़ंस चुके थे. वे इसे किसी ज़रूरतमंद को देना चाहते थे, लेकिन उससे पहले ही उन्हें एक आर्ट गैलरी दिखाई दी. ग्रे ने चुपके से जाकर अनन्नास को खाली जगह पर रख दिया. ग्रे और उसका दोस्त देखना चाहते थे कि ये कितनी देर तक इस आर्ट गैलरी में टिका रहता है.

बिज़नेस का छात्र ग्रे जब चार दिन बार इसी जगह पर अपने दोस्त के साथ लौटा तो वह हैरान रह गया. चार दिन बाद भी वो अनन्नास इस गैलरी में मौजूद था. उन्हें विश्वास ही नहीं हो रहा था कि ये आखिर कैसे हुआ. 10 मिनट तक वे लगातार हंसते रहे. ये पाइनएप्पल वहां बुधवार शाम तक पड़ा रहा. प्रदर्शनी खत्म होने के बाद ये वो आखिरी चीज़ थी जिसे इस प्रदर्शनी से हटाया गया.

लुक अगेन फेस्टिवल के डायरेक्टर ने कहा कि 'ये थोड़ा रहस्यमयी मामला है. हमें कोई आईडिया नहीं है कि ऐसा किसने किया. हमें अंदाज़ा हो गया था कि ये प्रैंक है, पर हमने इसे जाने दिया, क्योंकि हर तरह के लोगों का समावेश भी हमारे फ़ेस्टिवल की स्पिरिट का एक हिस्सा है'.

Source : Metro