ब्राज़ील हमेशा से ही अपने शानदार समुद्रीय तटों के लिए जाना जाता है. यहां हर साल लाखों पर्यटक घूमने-फिरने आते हैं. आज हम आपको ब्राज़ील के एक ऐसे आइलैंड के बारे में बता रहे है, जहां इंसान कदम भी नहीं रख सकता है. क्योंकि इस आइलैंड पर ज़हरीले 'गोल्डन लांसहेड पिट वाइपर' सांपों की हुक़ूमत चलती है. ब्राज़ील के Sao Paulo शहर से मात्र से 93 मिल दूर Ilha De Queimada Grande आइलैंड ज़हरीले सांपों के लिए जाना जाता है. इसीलिए इसे 'स्नेक आइलैंड' भी कहते हैं.

Source: soulperuibe

कहा जाता है कि इस आईलैंड के हर एक वर्ग मीटर में तक़रीबन पांच से दस सांप रहते हैं. 'गोल्डन लांसहेड पिट वाइपर' सांप की गिनती दुनिया के सबसे ज़हरीले सांपों में होती हैं. इसका अंदाजा आप इसी बात से लगा सकते हैं कि इस सांप के काटने से इंसान 10 से 15 मिनट के अंदर मर जाता है. ब्राज़ील में सांपों के काटने से होने वाली मौतों में से 90 प्रतिशत मौत इस सांप के काटने से ही होती हैं.

Source: bhaskarhindi

इस आइलैंड का कुल एरिया 4,30,000 वर्ग मीटर है इस हिसाब से अंदाज़ा लगाएं, तो इस आइलैंड पर क़रीब 20 लाख ज़हरीले 'गोल्डन लांसहेड पिट वाइपर' सांप हैं. यहां पर आपको ज़मीन से लेकर पेड़ हर जगह सांप लटकते हुए दिख जायेंगे. ज़हरीले सांपों की अत्यधिक संख्या होने के चलते ब्राज़ीलियन नेवी ने आम लोगों के लिए इस क्षेत्र को प्रतिबंधित किया है. नेवी ने इस द्वीप पर एक लाइट हाउस भी बनाया हुआ है.

Source: strugalajm

इस आईलैंड पर केवल सर्प विशेषज्ञों को ही रिसर्च के लिए जाने दिया जाता है. विशेषज्ञ भी इस आईलैंड के तटीय इलाक़ों में ही रिसर्च करके लौट आते हैं. जबकि अति संवेदनशील जगहों पर जाने की किसी की भी हिम्मत नहीं होती.

Source: marsemfim

हाल ही में विशेषज्ञों की गणना के मुताबिक़ इस आईलैंड पर क़रीब 3 से 4 हज़ार 'गोल्डन लांसहेड पिट वाइपर' सांप मौजूद हैं. 'गोल्डन लांसहेड पिट वाइपर' इस द्वीप के अलावा पूरी दुनिया में कहीं नहीं मिलता है. इस सांप की क़ीमत इंटरनेशनल मार्केट में क़रीब 18 लाख रुपए है.

इस आइलैंड की एक ख़ौफ़नाक कहानी

Source: pikabu

बताया जाता है कि इस आइलैंड के पास बने लाइट हाउस में ब्राज़ीलियन नेवी का एक कर्मचारी ड्यूटी किया करता था. जो अपनी पत्नी और तीन बच्चों के साथ लाइट हाउस में बने एक कॉटेज में रहता था. धीरे-धीरे यहां सांपों की संख्या लगातार बढ़ने लगी, तो एक दिन कुछ ज़हरीले 'गोल्डन पिट वाइपर' सांप उनके कॉटेज की खिड़की से अंदर घुस गए. ज़हरीले सांपों के कॉटेज में घुसने से पूरा परिवार जान बचाने के लिए तटीय इलाक़े की ओर भागने लगा. जब तक वो लोग नाव तक पहुंच पाते रास्ते में ही सांपो का शिकार बन गए.

Source: chdinamazing

एक दिन बाद जब नेवी का जहाज़ सामान उतारने पहुंचा, तो उन सबकी लाशें लाइट हाउस की ओर जाने वाले रास्ते पर पड़ी मिली. उनके पूरे शरीर में ज़हर फैल जाने के कारण उनकी बॉडी एकदम काली पड़ चुकी थी. इस घटना के बाद लाइट हाउस को हमेशा के लिए बंद कर दिया गया और इस आइलैंड पर इंसानों का जाना प्रतिबंधित कर दिया गया.

Source: livehindustan

विशेषज्ञों के मुताबिक़ पिछले 15 सालों में इस आईलैंड पर 'गोल्डन लांसहेड पिट वाइपर' सांपों की संख्या में 15 प्रतिशत की कमी हुई है.