कुछ समय पहले का वो वाकया, तो आपको याद ही होगा, जब सैफ़ अली खान और करीना कपूर ने अपने बेटे का नाम तैमूर अली खान रखा था. ये बात हमारे कुछ भाइयों को इतनी बुरी लगी कि उन्होंने इस बच्चे की तुलना क्रूर शासक तैमूरलंग से कर दी और सोशल मीडिया के ज़रिये सैफ़-करीना पर जम कर अपनी भड़ास निकाली.

हालांकि इस बात पर तैमूर के नाना, ऋषि कपूर ने कई लोगों की ट्विटर पर क्लास ली, जबकि सैफ़ अली खान ने ख़ामोशी बनाये रखी. खैर, इतने दिनों बाद आख़िरकार सैफ़ अली खान ने अपनी इस ख़ामोशी को तोड़ते हुए उन सभी तथाकथित भक्तों को जवाब दिया है. एक इंटरव्यू में सैफ़ अली खान ने अपने बेटे तैमूर के बारे में बात करते हुए कहा कि:

'जिस तैमूर के नाम का चुनाव हमने अपने बेटे के लिए किया है, वो किसी तुर्क शासक से प्रभावित नहीं है. अगर आप इतिहास को ध्यान से पढ़ें, तो आपको ये जानकारी मिलेगी कि जिस शासक के बारे में लोग बात कर रहे थे, उसका नाम तिमूर था. जबकि तैमूर, फ़ारसी का एक शब्द है, जिसका अर्थ लोहे से जुड़ा हुआ है. ये नाम और इसका अर्थ मुझे और मेरी बीवी दोनों को पसन्द आया इसलिए हमने अपने बेटे का नाम तैमूर रखा.'

नाम को लेकर ट्विटर पर हुए बवाल पर सैफ़ मजाकिया अंदाज़ में कहते हैं कि:

हर फ़िल्म की शुरुआत में दिखाई जाने वाली चेतावनी की तरह ही मैंने भी बेटे के नाम की घोषणा करने से पहले कहा था कि इसका किसी जीवित या मृत व्यक्ति से कोई संबंध नहीं है, अगर ऐसा पाया गया तो ये मात्र एक संयोग होगा. बेशक कुछ लोगों को इस नाम से दिक्कत थी, पर बहुत से लोग मेरी तरफ से उन लोगों का जवाब देते हुए दिखाई दिए, जिसके बाद मुझमें भी आत्मविश्वास आया हम किसी राईट विंग सोसाइटी में नहीं रहते. बहुत से लोगों में अब भी सोच और समझ बाकि है.

इसके साथ ही सैफ ने कहा कि 'मेरी और करीना की तरह ही हमारा बेटा एक इंटरनेशनल स्टार बनेगा और लोगों के इस्लामोफ़ोबिया को दूर करेगा.'

Source: topyaps