Sanchita pathak

मैं संचिता, लिखना ज़रूरी है सर्वाइवल के लिए इसलिए काम भी वही पकड़ लिया है. सामाजिक मुद्दों, महिलाओं से जुड़े मुद्दों, ह्यूमर, इतिहास जैसे विषयों पर लिखती हूं. मुझे किताबें पढ़ना, लिखना (नोट, चिट्ठी, कविता आदि) गाने सुनना पसंद है. कुछ लेखक, कुछ स्वतंत्रता सेनानी, ऐतिहासिक किरदार मुझे इंस्पायर करते हैं. यूं समझ लीजिए पॉप कल्चर, सोशल मीडिया की वजह से आप तक पहुंच ज़रूर गई हूं लेकिन कई बार ये बहुत बेमानी लगता है, अजनबी, समझ के परे. ज़िन्दगी में चाहिए तो पहाड़ पर एक कॉटेज, 2 कमरे, 2 बिल्लियां, और बढ़िया सी चाय, वैसे चाय की टंकी भी लगाई जा सकती है.

बॉलीवुड की 15 फ़िल्में, जिनके नाम इतने लंबे हैं कि पढ़ते-पढ़ते Interval हो जाये

गुजरात के सोमनाथ मंदिर की 11 पुरानी तस्वीरें, जो सुनाती हैं इतिहास के काले अध्याय की कहानियां

क़िस्सा मिस्त्र के हिन्दू मंदिर जैसे दिखने वाले महल का, जिसे वहां के लोग भूतहा कहते हैं

हिंदुस्तान में है एक ऐसा मंदिर जहां की रहस्यमयी शक्ति का जवाब विज्ञान के पास भी नहीं है

प्रकृति ने इन 20 कीड़ों को बेहद प्यार से सजाया है, जिन्हें देखकर इंसान भी Aww ही करेंगे

इतिहास के पन्ने से: 8 युद्ध जिनकी वजह से हमेशा के लिये बदल गया हिन्दुस्तान का इतिहास

अतुल्य भारत: देश के 6 ऐसे मंदिर जहां किसी दैवी शक्ति की नहीं बल्कि पशुओं की होती है पूजा

18 बॉलीवुड अभिनेता जिनके नाम और फ़ोटो के साथ भारत में जारी किया गया डाक टिकट