Sanchita pathak

मैं संचिता, लिखना ज़रूरी है सर्वाइवल के लिए इसलिए काम भी वही पकड़ लिया है. सामाजिक मुद्दों, महिलाओं से जुड़े मुद्दों, ह्यूमर, इतिहास जैसे विषयों पर लिखती हूं. मुझे किताबें पढ़ना, लिखना (नोट, चिट्ठी, कविता आदि) गाने सुनना पसंद है. कुछ लेखक, कुछ स्वतंत्रता सेनानी, ऐतिहासिक किरदार मुझे इंस्पायर करते हैं. यूं समझ लीजिए पॉप कल्चर, सोशल मीडिया की वजह से आप तक पहुंच ज़रूर गई हूं लेकिन कई बार ये बहुत बेमानी लगता है, अजनबी, समझ के परे. ज़िन्दगी में चाहिए तो पहाड़ पर एक कॉटेज, 2 कमरे, 2 बिल्लियां, और बढ़िया सी चाय, वैसे चाय की टंकी भी लगाई जा सकती है.

विदेशियों के ये 15 जुगाड़ देखकर इन्हें जुगाड़ का नोबेल देने का मन करेगा

बुरा होने वाला है या कुछ और... आख़िर क्या है बाईं आंख के फड़कने के पीछे की वजह?

बिहार में है एक ऐसी गुफ़ा जिसके अंदर है करोड़ों का ख़ज़ाना, आज तक कोई इंसान अंदर नहीं जा पाया

इन 13 मशहूर शख़्सियतों की वो तस्वीरें, जो उनकी आख़िरी फ़ोटो बन गई

मधुमक्खियां इंसानों को काटने के बाद ख़ुद ही क्यों मर जाती हैं?

एक डॉक्टर ने बीते 2 हफ़्तों की ज़िन्दगी की आपबीती सुनाई, अंदर तक दहला देने वाला मंज़र आया सामने

ये 20 तस्वीरें इस बात का सुबूत हैं कि प्रकृति भी इंसान की मौज लेती है

लड़कों के Bathroom की 20 तस्वीरें, जिन्हें देखने के बाद Public Toilet अच्छे लगने लगेंगे!