तू शायर है, मैं तेरी शायरी...


बोले चूड़ियां, बोल कांगना...

लड़की बड़ी अंजानी है...

इस तरह के न जाने कई गानों से हमारे बचपन की सुनहरी यादें जुड़ी हैं. कोई गाना सुनते ही मार्केट में टेप लेने पहुंच जाता था, तो कोई अपने प्यार के बारे में सोचने लगता था. याद है स्कूल के फ़ंक्शन में कई बार बोले चूड़ियां गाने पर परफ़ॉर्म किया होगा. आय... हाय... कई क्यूट मूमेंट जुड़े हुए इन गीतों. समझ ही नहीं आ रहा शुरुआत किस किस्से से की जाये.

bole-chudiyan
Source: timesofindia

वैसे हमारी इन सारी ख़ूबसूरत यादों का क्रेडिट महान गायिका अलका याग्निक को जाता है. अगर वो अपनी मधुर आवाज़ में इतने ख़ूबसूरत गाने न गाती, तो शायद आज हम इन किस्सों की बात भी न कर रहे होते. 90 के दशक की ये गायिका इतनी टैलेंटेड हैं कि अपनी आवाज़ के दम पर ये कई रिकॉर्ड और अवॉर्ड अपने नाम कर चुकी हैं.

alka
Source: sikhnet

अगर बात करें इनके गाए हुए गानों की, तो वो बचपन में किसी थैरिपी से कम नहीं थे. बचपन ही क्यों आज भी जब मन को शांति और सुकून चाहिये होता है, तो अलका याग्निक के गाने बिल्कुल किसी दवा की तरह काम करते हैं. अलका याग्निक के गाने में सादगी, सुकून और फ़ील होता था, जो हमारी दोस्ती और प्यार में अलग ही जान डाल देते थे. इन गानों को कितनी बार भी सुनो आप कभी बोर नहीं होंगे.

Singer
Source: pinkvilla

याद है कैसे अलका याग्निक के गाये हुए गाने 'एक दो तीन चार'... पर हम घर के किसी फ़ंक्शन में कैसे पैर थिरकाया करते थे. वहीं अगर छुट्टियों में कज़िन घर आ जायें तो इस गाने पर कौन अच्छा डांस करेगा, इस पर कॉम्पिटीशन होने लगता था. चलो इसी बात पर एक बार इस गाने पर फिर से थिरक लो.

वहीं दूसरी ओर उस टाइम पर 'जा सजन तुझको भूला दिया सॉन्ग भी ख़ूब चला था. कौन-कौन है जिसने ब्रेकअप के बाद ये गाना नहीं सुना है? शायद ही कोई ऐसा होगा, जिसका जवाब न हो. दोबारा सुनने का मन हो गया न? तो सुन लो.

'राह में उनसे मुलाक़ात हो गई', तब्बू और अजय देवगन पर फ़िल्माया गया ये गाना जब आया, तो न जाने कितने ही दिल खिल उठे. ऐसा लगता था मानो जैसे इसे अलका जी से बेहतर कोई गा ही नहीं सकता था. सफ़र के दौरान अकसर ही ये गाना बजते हुए मिल जाता है. भाई पूरा सफ़र कैसे बितता था पता ही नहीं चलता. इसके साथ ही करवा चौथ पर 'गली में आज चांद निकला' गाना बजने लगा. महिलाएं जब छत पर चांद देखने जातीं, तो हर ओर यही गाना बजता हुआ सुनाई देता.

अच्छा ये बताओ 'तू धरती पर चाहे जहां भी रहे' गाने पर जमकर डांस किया है या नहीं. यार सही में इस गाने ने दोस्तों यारो में धूम मचा रखी थी. ओढ़ ली चुनारिया, ताल से ताल मिला, अलका याग्निक ने और न जाने कितने गाने ऐसे हैं, जिनसे आज भी हमारी कई यादें जुड़ी हुई हैं.

बेहतरीन सिंगिंग के लिये अलका याग्निक को बेस्ट प्लेबैक सिंगर का फ़िल्मफ़ेयर और नेशनल अवॉर्ड दिया जा चुका है. किसी की शादी हो या टैंपो में सफ़र कर रहे हों, हर तरफ़ इन्हीं गानों की धूम होती है. जिन्हें आज भी सुनो तो पुरानी यादें ताज़ा हो जाती हैं. एक इंटरव्यू के दौरान अलका याग्निक ने आज के रिमिक्स गानों पर बात करते हुए उन्हें फ़ास्ट फ़ूड का दर्जा दिया था. इसके अलावा ये भी कहा था कि ये गाने इसलिये हिट हैं, क्योंकि वो पहले से ही हिट होते हैं.

बॉलीवुड में बहुत कम शानदार प्लेबैक सिंगर हैं, लेकिन जब भी बात बचपन के गानोंं के जादू की होगी, तब-तब अलका जी का नाम जुंबा पर होगा.

Happy Birthday, Mam!

Entertainment के और आर्टिकल पढ़ने के लिये ScoopWhoop Hindi पर क्लिक करें.