साराभाई वर्सेस साराभाई की माया साराभाई यानि रत्ना पाठक शाह वो अभिनेत्री जो हर रोल में फ़िट हो जाती हैं. इन्होंने अपनी अदाकारी से लोगों को अपना लोहा मनवाया है. रत्ना पाठक शाह की मां दीना पाठक और बहन सुप्रिया पाठक दोनों ही दिगग्ज कलाकारों में शुमार होती हैं.

bollywoodcharcha

फ़िल्मी बैकग्राउंड और एक्टिंग में महारत हासिल करने वाली रत्ना पाठक शाह से जुड़ा एक चौंकाने वाला सच है. वो सच ये हैं कि रत्ना पाठक कभी भी अभिनेत्री नहीं बनना चाहती थीं. दरअसल, वो पायलट या एयरहोस्टेस बनना चाहती थीं.  

इनकी फ़िल्मी करियर की तरह इनकी लव लाइफ़ भी बहुत रोचक थी. रत्ना ने अपने से उम्र में 13 साल बड़े अभिनेता नसीरुद्दीन शाह से प्यार किया और फिर शादी. रत्ना 1975 में पहली बार नसीरुद्दीन शाह मिली थीं. तब रत्ना कॉलेज स्टूडेंट थीं और नसीरुद्दीन शाह FTII से ग्रेजुएशन कर रहे थे. 

इसी दौरान दोनों ने ‘संभोग से संन्यास तक’ नाम के प्ले में काम किया, जो सत्यदेव दुबे के डायरेक्शन में बना था. रत्ना ने अपनी पहली मुलाक़ात का ज़िक़्र करते हुए बताया था,

दुबे ने जब हमें मिलवाया था तब हम दोस्त तो दूर एक-दूसरे का नाम भी नहीं जानते थे. इसलिए हमारा प्यार पहली नज़र का प्यार नहीं था. जिस दिन हम मिले उसके अगले दिन हमने घूमना शुरू किया. 

उनके दो बेटे इमाद और विवान हैं और नसीरुद्दीन शाह की पहली पत्नी से उनकी एक बेटी हीबा शाह है. 

apna990

रत्ना की बेहतरीन फ़िल्मों की बात करें तो, इनमें मंडी, मिर्च मसाला, अलादीन, जाने तू या जाने ना, गोलमाल 3, एक मैं और एक तू, Beautiful In Hher Kitty है. उन्हें 2017 में फ़िल्म लिपस्टिक अंडर माय बुर्क़ा के लिए बेस्ट सपोर्टिंग एक्ट्रेस के लिए नॉमिनेट किया गया था.

Entertainment से जुड़े आर्टिकल ScoopwhoopHindi पर पढ़ें.