हिंदी सिनेमा के इतिहास में टॉम ऑल्टर (Tom Alter) का नाम ही काफ़ी था. बॉलीवुड अभिनेता होने के साथ-साथ वो एक थियेटर आर्टिस्ट भी थे. क्रिकेट प्रेमी टॉम ने 10 सालों से अधिक समय तक देश के कई अख़बारों और पत्रिकाओं के लिए कॉलम भी लिखे. बतौर खेल पत्रकार सन 1988 में भारतीय क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर का वीडियो साक्षात्कार करने वाले वो पहले व्यक्ति थे. टॉम ऑल्टर एक ऐसे अभिनेता थे जिन्हें लोग समझते तो विदेशी थे, लेकिन वो थे सौ फ़ीसदी हिंदुस्तानी. ऑल्टर ने अपने 4 दशकों से अधिक करियर में 100 से अधिक बॉलीवुड फ़िल्मों में काम किया था. 29 सितंबर, 2017 को टॉम ऑल्टर का मुंबई में निधन हो गया था.

ये भी पढ़ें: 46 साल पहले एक्टर दीपक पराशर बने थे देश के पहले Mr. India, जानिए वो अब कहां हैं 

असल ज़िंदगी में कौन थे Tom Alter

टॉम ऑल्टर (Tom Alter) का जन्म 22 जून 1950 उत्तराखंड के मसूरी में हुआ था. उनके दादा-दादी नवंबर 1916 में अमेरिका के ओहायो से भारत के मद्रास (चेन्नई) आये और उसके बाद लाहौर (तत्कालीन भारत) में बस गए. उनके पिता Barry Alter का जन्म सियालकोट में हुआ था.विभाजन के बाद ‘ऑल्टर परिवार’ भी दो भागों में बंट गया. टॉम ऑल्टर के दादा-दादी ने पाकिस्तान में रहना चुना, जबकि उनके माता-पिता भारत चले आये. इलाहाबाद (प्रयागराज), जबलपुर और सहारनपुर में रहने के बाद सन 1954 में वो उत्तराखंड के देहरादून और मसूरी के बीच में स्थित राजपुर में बस गए.

thehindu

टॉम ऑल्टर (Tom Alter) की बड़ी बहन Martha Chen हार्वर्ड विश्वविद्यालय में पढ़ाती हैं और भाई John Alter एक कवि हैं. जबकि मशहूर लेखक Stephen Alter उनके चचेरे भाई हैं. टॉम ऑल्टर के बेटे Jamie Alter हैं जबकि बेटी का नाम Afshaan Alter है. जेमी ऑल्टर भारत के मशहूर खेल पत्रकार हैं. टॉम ऑल्टर की हिंदी इतनी अच्छी थी कि उन्हें भारत में ‘हिंदी का ब्रांड एम्बेसडर’ भी कहा जाता था. 

Tom Alter का फ़िल्मी सफ़र

टॉम ऑल्टर (Tom Alter) ने साल 1975 में Mrig Trishna फ़िल्म से बॉलीवुड में डेब्यू किया था. इस फ़िल्म में उन्होंने ‘कर्नल लारेंस’ का किरदार निभाया था. इसके बाद उन्होंने ‘हम किससे कम नहीं’, ‘परवरिश’, ‘देश प्रदेश’, ‘क्रान्ति’, ‘कुदरत’, ‘गांधी’, ‘विधाता’, ‘स्वामी दादा’, ‘नास्तिक’, ‘राम तेरी गंगा मैली’, ‘सल्तनत’, ‘कर्मा’, ‘ख़ून भरी मांग’, ‘त्रिदेव’, ‘परिंदा’, ‘आशिक़ी’, ‘फ़रिश्ते’, ‘गुमराह’, ‘सरदार’, ‘चैंपियन’, ‘वीर ज़ारा’, ‘द राइज़िंग: मंगल पांडे’, ‘भेजा फ़्राई’ समेत 100 से अधिक हिंदी, इंग्लिश, पंजाबी, मराठी, गुजराती और साउथ फ़िल्मों में भी काम किया.

ndtv

Tom Alter का टीवी करियर 

टॉम ऑल्टर (Tom Alter) ने केवल फ़िल्मों में ही नहीं, बल्कि कई टीवी धारावाहिकों में भी काम किया था. टॉम ने ‘भारत एक खोज’, ‘द स्वॉर्ड ऑफ़ टीपू सुलतान’, ज़बान संभालके,  ‘शक्तिमान’, ‘कैप्टन व्योम’, ‘आहट’, ‘हातिम’, ‘संविधान’ समेत क़रीब 20 टीवी धारावाहिकों में काम किया था. 

चलिए आज टॉम ऑल्टर (Tom Alter) के करियर के 10 बेहतरीन किरदारों को याद कर लेते हैं

1- शतरंज के खिलाड़ी (1977) 

सत्यजीत रे की ये फ़िल्म मुंशी प्रेमचंद की लघुकथा पर आधारित थी. ये फ़िल्म 1857 के भारतीय विद्रोह की पूर्व संध्या पर दो अमीर भारतीय पर आधारित है, जो ईस्ट इंडिया कंपनी के अधिकारियों के बीच शतरंज के खेल में शामिल होते हैं. फ़िल्म में टॉम ऑल्टर ने ‘कैप्टन वेस्टन’ की भूमिका निभाई थी. 

shop10

2- देस परदेस (1978)

देव आनंद द्वारा निर्मित और निर्देशित ये फ़िल्म समाज में व्याप्त तत्कालीन सामाजिक बुराइयों पर आधारित थी. इस फ़िल्म में टॉम ऑल्टर ‘इंस्पेक्टर मार्टिन’ की भूमिका नज़र आये थे.

shop10

3- क्रांति (1981)

मनोज कुमार द्वारा निर्देशित ‘क्रांति’ फ़िल्म में 19वीं शताब्दी की की कहानी दिखाई गई थी. जब भारत स्वतंत्रता के साथ संघर्ष कर रहा था. इस फ़िल्म में टॉम ऑल्टर ने एक ‘ब्रिटिश अधिकारी’ की भूमिका निभाई थी. 

4- गांधी (1982)

महात्मा गांधी की ज़िंदगी पर बनी Richard Attenborough की इस हॉलीवुड फ़िल्म में टॉम ऑल्टर ने जेल में महात्मा गांधी और कस्तूरबा गांधी की देखभाल करने वाले एक ‘डॉक्टर’ की भूमिका निभाई थी. ये भले ही छोटी भूमिका थी, लेकिन उन्होंने इसे बेहतरीन ढंग से निभाया. 

shop10

5- परिंदा (1989)

विधु विनोद चोपड़ा द्वारा निर्देशित ‘परिंदा’ एक क्राइम ड्रामा फ़िल्म है. इसमें टॉम ऑल्टर को एक अलग किरदार में दिखाया गया था. मुंबई-अंडरवर्ल्ड पर आधारित इस फ़िल्म में उन्होंने ‘गैंगस्टर मूसा’ की भूमिका निभाई थी. 

shop10

6- आशिक़ी (1990)

टॉम ऑल्टर ने 90’s की इस सुपरहिट म्यूज़िकल फ़िल्म में एक जिद्दी ‘हॉस्टल वार्डन’ की भूमिका निभाई थी, जो फ़िल्म अनु वर्गीज़ (अनु अग्रवाल) की ज़िंदगी को जहन्नुम बना देता है. ये उनके करियर के दमदार किरदारों में से एक है. 

cafeluvizotto

7- वीर-ज़ारा (2004)

शाहरुख ख़ान, प्रीति जिंटा, रानी मुखर्जी, मनोज बाजपेयी, अमिताभ बच्चन और हेमा मालिनी स्टारर ‘वीर-ज़ारा’ एक सुपरहिट फ़िल्म थी. इस फ़िल्म में टॉम ऑल्टर ने ‘डॉक्टर यूसुफ़’ की भूमिका निभाई थी. 

shop10

8- लोकनायक (2004)

प्रकाश झा द्वारा निर्देशित ये फ़िल्म लोकनायक जयप्रकाश नारायण (जेपी) की ज़िंदगी पर आधारित थी. इस फ़िल्म में टॉम ऑल्टर ने ‘अबूल कलाम आज़ाद’ का दमदार किरदार निभाया था. 

टॉम ऑल्टर (Tom Alter) की आख़िरी फ़िल्म उनकी मौत के बाद 2 साल बाद साल 2019 में रिलीज़ हुई थी. ये एक शॉर्ट फ़िल्म थी, जिसका नाम ‘KITAAB’ था. 

ये भी पढ़ें: जानिए ‘क्या हुआ तेरा वादा’ गाने से रातों-रात स्टार बनने वाले एक्टर तारिक़ ख़ान अब कहां हैं