साल 1977 में हम किसी से कम नहीं नाम की एक फ़िल्म रिलीज़ हुई थी. फ़िल्म में ऋषि कपूर, ज़ीनत अमान, तारिक़ ख़ान और काजल किरन मुख्य किरदारों में नज़र आये थे. इनके अलावा अमज़द ख़ान, टॉम ऑल्टर, अजित और ओम शिवपुरी जैसे दिग्गज़ कलाकार भी नज़र आये थे. ये फ़िल्म बॉक्स ऑफ़िस सुपरहिट साबित हुई थी. फ़िल्म ने न केवल ऋषि कपूर, ज़ीनत अमान और काजल किरन को, बल्कि तारिक़ ख़ान (Tariq Khan) को भी काफ़ी शोहरत दिलाई थी.

ये भी पढ़ें: 46 साल पहले एक्टर दीपक पराशर बने थे देश के पहले Mr. India, जानिए वो अब कहां हैं

Bollywood Actor Tariq Khan

ये फ़िल्म इसलिए भी याद की जाती है क्योंकि इसके गाने काफ़ी मशहूर हुए थे. खासकर इसके गानों ‘क्या हुआ तेरा वादा, वो क़सम, वो इरादा’, ‘चांद मेरा दिल, चांदनी हो तुम’, ‘ये लडका हाय अल्लाह कैसा है दीवाना’, ‘मिल गया, हम को साथी मिल गया’, ‘बचना ऐ हसीनों लो मैं आ गया’, ‘तुम क्या जानो, मोहब्बत क्या है’ और ‘है अगर दुश्मन जमाना, गम नहीं’ ने इस फ़िल्म को फ़ैंस की ‘ऑल टाइम फ़ेवरेट मूवी’ बना दिया है.

‘यादों की बरात’ फ़िल्म से की थी शुरुआत

इस फ़िल्म की एक और ख़ासियत थी और वो थे इसके चॉकलेटी हीरो तारिक़ ख़ान. आज हम बात इस फ़िल्म से रातों-रात स्टार बने तारिक़ ख़ान की ही करने जा रहे हैं. वैसे तो तारिक़ ने अपने फ़िल्मी करियर की शुरुआत साल 1973 ‘यादों की बरात’ जैसी सुपरहिट फ़िल्म से की थी. इसके बाद वो साल 1975 में ‘ज़ख़्मी’ फ़िल्म में भी नज़र आये, लेकिन उन्हें असल पहचान ‘हम किसी से कम नहीं’ फ़िल्म से मिली.

ये भी पढ़ें- 90’s में कांचा चीना और कात्या जैसे किरदारों को यादगार बनाने वाले Danny Denzongpa आजकल कहां हैं?

आज भी इस फ़िल्म का ‘क्या हुआ तेरा वादा, वो क़सम, वो इरादा’ गाना बजते ही आंखों के सामने बेहद स्मार्ट से दिखने वाले तारिक़ ख़ान का चेहरा नज़र आने लगता है. फ़िल्म में तारिक़ ख़ान (Tariq Khan) की एक्टिंग एक तरफ़ और स्टेज पर गिटार की धुन पर इस गाने पर अपना इमोशन दिखाते तारिक़ को देख उस दौर की लड़कियों उन पर मर मिटने लगी थीं. लेकिन 70’s का वो सुपरस्टार अचानक कहां ग़ायब हो गया किसी को भी नहीं मालूम.

alchetron

इन फ़िल्मों में भी किया काम

तारिक़ ख़ान (Tariq Khan) बैक-टू-बैक 3 म्यूजिकल सुपरहिट फ़िल्म देने के बाद ज़माने को दिखाना है (1981), शौकिन (1982), पसंद अपनी अपनी (1983), बात बन जाए (1986), ज़बरदस्त (1985), मंज़िल मंज़िल (1984) समेत कुल 16 फ़िल्मों में नज़र आये. लेकिन तारिक़ का करियर जिस रफ़्तार के साथ शुरू हुआ था. 90’s के दशक तक लगभग ख़त्म हो गया था. तारिक़ ख़ान की आख़िरी फ़िल्म ‘मेरा दामाद’ थी, जो साल 1995 में रिलीज़ हुई थी.

dailymotion

तारिक़ ख़ान (Tariq Khan) ने कई साल पहले अपने एक इंटरव्यू में ख़ुलासा किया था कि, ‘फ़िल्मों की लगातार असफ़लता और काम की कमी के चलते वो इंडस्ट्री में असुरक्षित महसूस करने लगे थे. उन्हें लगने लगा था कि वो एक ऐसे पड़ाव पर पहुंच गए हैं जहां उनका करियर सुरक्षित नहीं है. इसलिए वो एक ऐसी नौकरी चाहते थे जहां उनका करियर सुरक्षित हो’.

pinterest

बॉलीवुड के ख़ान परिवार से रखने हैं ताल्लुक

तारिक़ ख़ान (Tariq Khan) बॉलीवुड के एक बड़े फ़िल्मी परिवार से ताल्लुक रखते हैं. वो बीते ज़माने के मशहूर निर्माता-निर्देशक नासिर हुसैन के भतीजे और बॉलीवुड सुपरस्टार आमिर ख़ान के कजिन हैं. बॉलीवुड के ख़ान परिवार ने इंडस्ट्री को नासिर हुसैन, ताहिर हुसैन, मंसूर ख़ान, आमिर ख़ान, फैज़ल ख़ान, इमरान ख़ान जैसे आर्टिस्ट दिए हैं.

hindustantimes

आजकल कहां हैं और क्या रहे हैं तारिक़ ख़ान

तारिक़ ख़ान (Tariq Khan) पिछले 27 सालों से बॉलीवुड से दूर हैं. वो अब फ़िल्मी इवेंट्स में भी बेहद कम नज़र आते हैं. उन्होंने ट्रैवल टिकटिंग और कार्गो फॉरवर्डिंग में डिप्लोमा भी किया था. तारिक आज एक जानी-मानी शिपमेंट कंपनी में सुपरवाइजिंग एक्जीक्यूटिव हैं.

hindustantimes

70’s के सुपरस्टार तारिक़ ख़ान (Tariq Khan) अब ऐसे नज़र आते हैं.

ये भी पढ़ें: जानिए 90’s की फ़िल्मों का घूसखोर पुलिसवाला महावीर शाह अब कहां हैं और क्या कर रहा है