Navratri 2021 : बचपन से लेकर अब तक की नवरात्री (Navratri) में बहुत कुछ बदल चुका है. अगर कुछ नहीं बदला है तो वो हैं फ़ाल्गुनी पाठक (Falguni Pathak) के मधुर नवरात्री गीत. देश में हर साल नवरात्री उत्सव मनाया जाता है और हर बार फ़ाल्गुनी पाठक अपने गानों से त्योहार की रौनक बढ़ा देती हैं. सच कहें तो उनके गानों के बिना नवरात्री उत्सव, नवरात्री उत्सव लगता ही नहीं.

नवरात्री के दिनों में हर जगह उनके गानों की धूम देखी जाती है, जिसे सुनकर लगता है कि आने वाले कई सालों में उनके गानों की रौनक कम नहीं होने वाली.

ये भी पढ़ें: Shardiya Navratri 2021: नवरात्र के नौ दिनों में क्या करना चाहिए और क्या नहीं, जान लो 

1. रम्जो रम्जो रे

2. सानेडो सानेडो

3. परी हूं मैं

4. खेल खेल रे भवानी मां

5. रंग तारी रे मां

6. कुमकुम न पगला पद्य 

7. इंधाना विन्वा गई थी मोर सैयां

8. मदी तारा मंदिरायम 

9. मैंने प्याल है छनकाई 

11. मेरी चुनर उड़ उड़ जाये

11. सावन में मोरनी बनके 

ये भी पढ़ें: Navratri 2021: नवरात्रि में मां दुर्गा के 9 रूपों के दर्शन और पूजा करें, दूर होंगे दुःख और कष्ट 

फ़ाल्गुनी पाठक के इन गानों के साथ सभी को नवरात्री की शुभकामनाएं!