Irrfan Khan Birth Anniversary: जिन लोगों ने इरफ़ान ख़ान की फ़िल्में देखी हैं या फिर उनकी फ़िल्में देखते हुए बड़े हुए हैं, उन्हें इस बात पर आज भी यक़ीन कर पाना मुश्किल होता है कि वो अब उनके बीच नहीं रहे. ख़ैर होनी को कौन टाल सकता है. इरफ़ान और हम सबका साथ इतना ही था.   

caknowledge

इरफ़ान ख़ान हिंदी सिने जगत के बेस्ट एक्टर्स में से एक थे. नेशनल अवॉर्ड विनिंग अभिनेता इरफ़ान ने हमें बहुत सारी यादगार फ़िल्में और नाटक दिए हैं. उनकी फ़िल्मों और जीवन के बारे में आपने बहुत कुछ पढ़ा-सुना होगा. आज हम आपको बताएंगे कि कैसे इरफ़ान को कल्ट फ़िल्म ‘मकबूल’ के लिए कास्ट किया गया था और इसकी शूटिंग के दौरान उन्होंने नसीरूद्दीन शाह से ऐसा क्या कहा कि वो दंग रहे गए.  

ऐसे मिला था इरफ़ान को ‘मकबूल’ में रोल

dnaindia

बात उन दिनों की है जब इरफ़ान ख़ान की फ़िल्म ‘हासिल’ रिलीज़ हुई थी. इस फ़िल्म उनकी एक्टिंग के चर्चे बी-टाउन ख़ूब थे. उसी दौरान डायरेक्टर विशाल भारद्वाज मकबूल फ़िल्म पर काम कर रहे थे. उसी समय डायरेक्टर विशाल और इरफ़ान के बच्चे एक ही स्कूल में पढ़ते थे. ऐसे ही एक दिन दोनों की मुलाकात स्कूल में हो गई और इरफ़ान ने उनसे इस फ़िल्म को देखने की गुजारिश की.  

Irrfan Khan Birth Anniversary

ये भी पढ़ें:  इरफ़ान ख़ान: वो उम्दा कलाकार जो क्रिकेटर बनना चाहता था, एक एक्टर नहीं! 

indianexpress

ये भी पढ़ें:  Irrfan Khan: इन 34 डायलॉग्स से इस अभिनेता ने लोगों पर ऐसी छाप छोड़ी जिसे भुलाना नामुमकिन है

उनके कहने पर विशाल ने वो फ़िल्म देखी और इरफ़ान को इसके लिए कॉल करने ही वाले थे कि उधर से इरफ़ान का फ़ोन आ गया. तब उन्होंने इरफ़ान से कहा कि वो शेक्सपियर के नाटक Macbeth पर एक फ़िल्म बना रहे हैं. क्या वो उसमें काम करेंगे. इरफ़ान ने हां कर दी और इस तरह ‘मकबूल मियाभाई’ का रोल उन्हें मिल गया.  

इस रोल के लिए पहली पसंद नहीं थे इरफ़ान ख़ान

indianexpress

मज़े की बात ये है कि इस रोल के लिए वो पहली पसंद नहीं थे उनसे पहले विशाल इस रोल के लिए के.के. मेनन और कमल हासन से बात कर रहे थे. मगर वहां बात नहीं बनी तो इरफ़ान को ये किरदार मिल गया. अब इसकी शूटिंग शुरू हो गई. एक दिन फ़िल्म के एक सीन की काका(पीयूष मिश्रा)और इरफ़ान ख़ान रिहर्सल कर रहे थे. नसीरूद्दीन साहब वहीं खड़े दोनों को देख रहे थे. उन्हें पता नहीं चला और रिहर्सल शुरू हो गई.(Irrfan Khan Birth Anniversary)  

नसीरुद्दीन को लगा इरफ़ान गिरने वाले हैं  

indianexpress

रिहर्सल के दौरान काका चिता पर लेटे थे और इरफ़ान को दुखी होकर घुटने टेक देते हैं, तभी मृत शरीर आंखें खोल देता है तो उससे डरते हुए इरफ़ान को पीछे हटना था. अब इरफ़ान ने ऐसी एक्टिंग की कि पीछे खड़े नसीरुद्दीन शाह को लगा कि वो अपना संतुलन खोकर गिरने वाले हैं, तो उन्होंने पीछे से उनको थाम लिया. तब इरफ़ान ने उन्हें देखते हुए कहा-‘नसीर भाई मैं तो बस एक्टिंग कर रहा हूं, आप मेरी मदद क्यों कर रहे हैं.’   

नसीरुद्दीन ने की तारीफ़(Irrfan Khan Birth Anniversary)

cinestaan

नसीरुद्दीन ने इस वाकये को याद करते हुए एक इंटरव्यू में इसका ज़िक्र किया था. नसीरुद्दीन ने तब कहा था कि उन्होंने अपने जीवन में कभी ऐसे किसी एक्टर को एक्टिंग करते नहीं देखा जो एकदम असली लगती हो. 

amazon

‘मकबूल’ फ़िल्म में बहुत सारे बड़े-बड़े कलाकार थे, सभी मंझे हुए. इन सबके बीच इरफ़ान ख़ान जो इंडस्ट्री में तब नए-नए थे ख़ुद को नोटिस करवाने से लोगों को रोक नहीं पाए. इस फ़िल्म से ही उन्होंने इंडस्ट्री को बता दिया था कि वो बॉलीवुड के स्टार सिस्टम को बदलने वाले हैं और ऐसा हुआ भी.