देश-दुनिया की ख़बर रखने वाले प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी में जुटे छात्रों के बीच एक नाम बहुत फ़ेमस है. ये नाम कोई और नहीं, बल्कि ख़ान सर (Khan Sir) हैं. वो अपने 'यूट्यूब चैनल' पर जनरल साइंस के मुश्किल से मुश्किल टॉपिक को भी आसानी से समझा देते हैं. उनका समझाने का अंदाज़ ऐसा कि आम आदमी को भी ये आराम से समझ आ जाता है. ख़ान सर का यूनिक टीचिंग स्टाइल है, वो पढ़ाते समय भोजपुरी और मैथिली भाषा का प्रयोग करते हैं, जो उनको दूसरे टीचर्स से अलग बनाता है. इनके वीडियो सोशल मीडिया ही नहीं लोगों के व्हाट्सएप स्टेटस पर भी पाए जाते हैं. चलिए आज जानते हैं ख़ान सर के फ़ेमस होने की कहानी.

ये भी पढ़ें: फ़ातिमा शेख़: लड़कियों की शिक्षा में अहम योगदान देने वाली भारत की पहली मुस्लिम महिला शिक्षक

कौन हैं ख़ान सर (Khan Sir)? 

ख़ान सर पटना (बिहार) के रहने वाले मशहूर टीचर हैं, उनका जन्म एक मिडिल क्लास फ़ैमिली में गोरखपुर में हुआ था. इनका पूरा नाम तो किसी को नहीं पता, लेकिन कुछ लोगों का कहना है कि इनका नाम फैजल ख़ान है. वहीं कुछ का कहना है कि इनका नाम अमित सिंह है. मगर अभी तक उन्होंने स्वयं अपने नाम का खुलासा पब्लिक डोमेन में नहीं किया है. ख़ान सर टीचिंग के ज़रिये अपनी आजीविका चलाते हैं. वो ऑनलाइन और ऑफ़लाइन छात्रों को जी.एस की कोचिंग देते हैं.

khan sir
Source: blogspot

ये भी पढ़ें: ज़िन्दगी में आगे बढ़ना है, तो इन 9 सबसे बेहतरीन टीचर की सिखाई बातों को ध्यान से समझना

ख़ान सर का यूट्यूब पर Khan GS Research Centre के नाम से चैनल है. इसके फ़िलहाल 13.9 मिलियन सब्सक्राइबर्स हैं. इनके वीडियो आते ही यूट्यूब पर वायरल हो जाते हैं जिन पर मिलियन की संख्या में व्यूज़ आते हैं. 

फ़ौज में जाने का देखते थे सपना

khan sir patna
Source: facebook

ख़ान सर बचपन से पढ़ने में इतने तेज़ नहीं थे, इसके चलते उनकी मां से उन्हें खूब डांट खानी पड़ती थी. 9वीं कक्षा पास करने के बाद उनके अंदर फ़ौजी बनने का सपना पनपने लगा. 12वीं पास करने के बाद उन्होंने NDA की परीक्षा दी. इसमें वो पास हो गए, लेकिन मेडिकल टेस्ट में फ़ेल हो गए. टेस्ट में उनके हाथ सीधे न होने के चलते उन्हें फ़ेल कर दिया गया था. इसके बाद ख़ान सर निराश हो गए. वो सोचने लगे अब क्या किया जाए. 

दोस्त ने दिया था टीचिंग के फ़ील्ड में उतरने का आइडिया

 Khan Sir Biography
Source: facebook

मां-बाप के समझाने पर पढ़ाई जारी रखी. इसके बाद इन्होंने इलाहाबाद यूनिवर्सिटी से एम.एस.सी. की पढ़ाई पूरी की. इन्होंने आईआईटी एंट्रेंस की तैयारी की, लेकिन एग्ज़ाम के दिन ये सोते रह गए और वो टेस्ट न दे सके. इसके बाद वो निराश हो गए और तब इनके बचपन के दोस्तों ने इनको टीचिंग करने का आइडिया दिया. होम ट्यूशन से इनके पढ़ाने का सफ़र शुरू हुआ और पटना के कोचिंग सेंटर तक पहुंचा. यहां उनका पढ़ाने का स्टाइल बच्चों को बहुत पसंद आने लगा, वो अकसर बच्चों को उनके कोर्स से अधिक पढ़ा दिया करते थे. इस पर कोचिंग सेंटर्स को आपत्ति होने लगी.

कैसे हुई ख़ान सर (Khan Sir) की क्लासेस की शुरुआत?

तब उन्होंने ख़ुद का कोचिंग सेंटर शुरू किया. कुछ पार्टनर ने कोचिंग सेंटर में पैसा लगाया, लेकिन बाद में धोखा दिया. उन्होंने क्लासेस चलने के बाद उसे हड़प लिया. अब फिर से ख़ान सर निराश हो गए और उनके पास घर लौटने तक के पैसे नहीं बचे. तब वो निराशा में गंगा किनारे बैठे रहे. उन्हें फिर से कोचिंग सेंटर शुरू करने में छात्रों ने भी मदद की. उन्होंने जिन ग़रीब बच्चों को मुफ़्त में पढ़ाया था उनमें से कुछ ने आकर नया कोचिंग सेंटर शुरू करने में मदद की.   

 Khan GS Research Centre
Source: creatorsbio

कोचिंग सेंटर पर हुआ बम से हमला

कोचिंग सेंटर चलने लगा तो एक बार उनकी कोचिंग के बाहर बम फट गया. उनके कैंपस के बाहर सारे कोचिंग सेंटर बंद हो गए. फिर छात्रों ने ही उनको कहा कि आप कोचिंग शुरू कीजिए डरने की ज़रूरत नहीं है. सुबह बम फटा था और शाम को क्लास लगी. इसके बाद आ गई कोरोना महामारी. इसकी वजह से पूरे देश में लॉकडाउन लग गया. तब इन्हें घर आना पड़ा. यहां उन्हें ऑनलाइन कोचिंग देने का आइडिया दोस्तों ने बताया.   

 khan sir real name
Source: mastkhabar

लॉकडाउन में क्लीनर बन कर पटना पहुंचे थे

अब गांव में कुछ व्यवस्था नहीं थी तो एक कोचिंग सेंटर में किसी तरह वीडियो बनाकर पढ़ाना शुरू किया. मगर वीडियो की आवाज़ क्लीयर न होने के कारण उसे रोकना पड़ा. अब ऑनलाइन कोचिंग देने के लिए भी उनको पटना जाने की दरकार थी. तब वो लॉकडाउन में एक ट्रक ड्राइवर के क्लीनर बनकर गांव से पटना पहुंचे थे. यहां बांस पर ट्यूबलाइट बांधकर एक कमरे में Khan Sir ने बच्चों के लिए वीडियो बना कर ऑनलाइन क्लास शुरू की.   

 khan sir official
Source: news18

App पर भी उपलब्ध है ख़ान सर की क्लासेस

इसके बाद इनके एक दोस्त ने कैमरे और बाकी टेक्निकल चीज़ों में इनकी मदद की. लोगों को समझ आने लगा और इनकी क्लासेस हिट होने लगी. यूट्यूब चैनल के बाद ख़ान सर ने APP (KHAN SIR OFFICIAL) भी बना ली. अब उनकी सामग्री उस पर भी उपलब्ध थी. ख़ान सर के वीडियो यूट्यूब पर आते ही हिट हो जाते हैं. इनके वीडियो की ख़ासियत ये है कि ये समस्याओं के हल भी अंत में बताते हैं. इसलिए इनके वीडियो सेलेब्स भी अपने सोशल मीडिया पर शेयर करते हैं.

khan sir classes
Source: wikibioinfos

टीचर हो तो ख़ान सर (Khan Sir) जैसा.