‘मेड इन इंडिया’… ‘मेड इन इंडिया’… ‘मेड इन इंडिया’ 

90 के दशक के इस गीत से हमारी बहुत सी यादें जुड़ी हुई हैं. 90 के दशक का शायद ही कोई ऐसा बच्चा होगा जो आज भी इस गाने को याद न करता हो? इस गाने को अलीशा चिनॉय ने जितनी ख़ूबसूरती से गाया था, उतनी ख़ूबसूरती से इसे फ़िल्माया भी गया था. 1995 में आये इस गाने ने अलीशा चिनॉय को संगीत की दुनिया का स्टार बना दिया था. कमाल की बात ये है कि ‘मेड इन इंडिया’ उनका पहला एलबम था, जिसके बाद उनके सितारे बलुंदियों पर थे. 

timesofindia

अलीशा चिनॉय को लोगों ने ख़ूब इसलिये भी पसंद किया, क्योंकि उनके गाने का स्टाइल उस दौर के बाकि सिंगर से काफ़ी अलग था. पर्दे पर उनकी प्रस्तुति और गीत दोनों बेहद अलग थे. इतना ही नहीं, ‘मेड इन इंडिया’ ने अलीशा चिनॉय को ऐसी कामयाबी दी कि ये उनके सफ़ल एलबम में से एक बन गया. इसके साथ ही उन्हें ‘क्वीन ऑफ़ इंडीपॉप’ का ख़िताब भी दे दिया गया. 

radioandmusic

‘मेड इन इंडिया’ की सफ़लता के बाद उन्होंने कई एलबम निकाले. बॉलीवुड में बहुत सारे गाने गाये. हर तरफ़ उनके गानों की चर्चा भी होती थी. मतलब सिंगिंग की दुनिया में उनका अलग ही जलवा कायम था, लेकिन तभी किस्मत ने सारा खेल पलट दिया. दरअसल, अलीशा चिनॉय के पिता को कैंसर हो गया, जिसकी वजह से उन्होंने करियर से ब्रेक लेते हुए अपना सारा ध्यान पिता पर लगाया. 

muxiv

आलीशा कहती हैं कैंसर होने के बावज़ूद उनके पिता जी 6 साल तक जीवित रहे. वो उनके बेहद करीब थीं. इसलिये करियर से पहले उनके लिये उनके पिता थे. अगर आज भी अलीशा चिनॉय सिंगिंग की दुनिया में वापसी करती हैं, तो बेशक कुछ अलग ही लेकर आयेंगी. फिलहाल फ़ैंस के लिये वो सोशल मीडिया पर दस्तक दे चुकी हैं. 

अपने गीत के ज़रिये हमारे बचपन को ख़ूबसूरत बनाने के लिये शुक्रिया अलीशा. 

Happy Birthday, IndiPop Queen! 

Entertainment के और आर्टिकल पढ़ने के लिये ScoopWhoop Hindi पर क्लिक करें.