कोरोना के प्रकोप के बीच कई दर्दनाक कहानियां भी सामने आ रही हैं. ऐसी ही दर्दभरी कहानी सिंगर-एंकर-एक्टर मियांग चेंग ने भी साझा की है. 

epositiveentertainment

हाल ही में बॉम्बे टाइम्स को दिये इंटरव्यू में मियांग चेंग ने बताया कि ‘मैं डेली जॉगिंग के लिये जाता हूं. एक दिन बाइक सवार दो लड़के मेरे बगल से कोरोना चिल्लाकर हंसते हुए भाग गये. मैं भी गाली देना चाहता था, पर मुझे लगा इससे कोई फ़ायदा नहीं है. आप लोगों की अज्ञानता के लिये उन्हें कैसे दंडित कर सकते हैं? काफ़ी सालों से मैं ऐसी टिप्पणियों का आदी हो चुका हूं. हां, इससे दुख पहुंचता है. मैं आगे बढ़ने और आशावादी बनने की कोशिश करता हूं, पर ये आप पर असर करता है.’ 

spotboye

इंटरव्यू के दौरान मियांग ने ये भी बताया कि कोरोना के प्रकोप के चलते उनके दोस्तों ने उन्हें ‘कोरोनावायरस’ भी कहना शुरू कर दिया है. मियांग कहते हैं कि वो हिंदुस्तान में बड़े हुए हैं, उनके पूर्वज चीन के थे और वही उनकी जींस में हैं. मियांग ने साफ़ कर दिया है कि वो भारतीय हैं, पर उनके जीन्स चाइनीज़ हैं. इसके साथ ही मियांग ने ये भी कहा है कि भयानक महामारी के समय में वो लोगों से थोड़ी संवेदना की उम्मीद करते हैं. 

ये घटना सिर्फ़ मियांग के साथ ही नहीं हो रही है, बल्कि कुछ समय पहले दिल्ली में रहने वाले कुछ नॉर्थ ईस्ट छात्रों ने सोशल मीडिया पर लिखा था कि वो रेसिजम झेल रहे हैं. चाइनीज़ लुक्स की वजह से लोग उन्हें कोरोना बुला रहे हैं. और हाल ही में एक मणिपुरी लड़की के साथ भी ऐसा ही कुछ हुआ. 

यार… हिंदुस्तानियों हम ऐसे कबसे करने लगे, जो देश कई सभ्यताओं और संस्कृतियों से भरा हुआ है, वो भला भेदभाव कैसे करना लगा? 

Entertainment के और आर्टिकल पढ़ने के लिये ScoopWhoop Hindi पर क्लिक करें.