Nawazuddin Siddiqui’s Look as Trans Woman In Film Haddi: नवाज़ुद्दीन सिद्दीकी बॉलीवुड के वर्सटाइल एक्टर है. जिन्हें परिचय की ज़रूरत नहीं है. वो हर एक रोल को बख़ूबी निभाना जानते हैं. हर बार की तरह इस साल भी उनकी कमाल की परफॉरमेंस दिखने वाली है. जिसमें वो एक ट्रांस-वुमन का क़िरदार निभाने जा रहे हैं. इस फ़िल्म की रिलीज़ ईयर 2023 है. लेकिन क्या आप जानते हैं, इस लुक को रियल और ऑथेंटिक बनाने में नवाज़ुद्दीन के पसीने छूट गए थे. चलिए बाकी की डिटेल्स हम आपको इस आर्टिकल में बताते हैं. (Nawazuddin Siddiqui’s Trans Woman Role)

ये भी पढ़ें: नवाज़ुद्दीन सिद्दीक़ी के स्ट्रगल के कई वो पहलू, जो पहली बार दुनिया के सामने आये हैं

आइए बताते हैं नवाज़ुद्दीन को ट्रांस वुमन का लुक क्रिएट करने में कितना टाइम लगा (Nawazuddin Siddiqui’s Look in Film Haddi)

नवाज़ुद्दीन सिद्दीकी स्टारर इस फ़िल्म में अनुराग कश्यप, श्रीधर दुबे, इला अरुण, राजेश कुमार जैसे और कई कलाकार अहम भूमिका निभा रहे हैं. इस फ़िल्म के निर्देशक अक्षत अजय शर्मा और निर्माता राधिका नंदा हैं. (Nawazuddin Siddiqui’s Kinnar Movie)

इस लुक को क्रिएट करने में आधा साल और 80 साड़ियां लगी थी

Nawazuddin Siddiqui’s Kinnar Movie Name: बेशक़ फ़िल्म में ऑथेंटिसिटी बहुत मायने रखती है. ट्रांस वुमन लुक को बिलकुल रियल बनाने के लिए मेकर्स ने नवाज़ुद्दीन सिद्दीकी के ऊपर बहुत मेहनत की थी. फ़िल्म की निर्माता ने बताया कि “हमने पूरी शूटिंग के दौरान लगभग 80 साड़ियों का इस्तेमाल किया था. नवाज़ुद्दीन पहली बार खुद को आईने में देखकर बहुत हैरान हो गए थे, क्योंकि उन्होंने खुद को कभी इस तरह नहीं देखा था”.

ये भी पढ़ें: सच में टोपा ही हैं ये कनपुरिये, एक सेल्फ़ी के लिए नवाज़ुद्दीन सिद्दीकी को गला पकड़कर पीछे खींच लिया

पूरे लुक को क्रिएट करने में लगे 6 महीने

राधिका ने बताया कि “हर दिन, वो तैयार होने में कम से कम तीन घंटे लगाते थे. साड़ी पहनने के लिए 30 मिनट और मेकअप के लिए तीन घंटे. हमने इस फ़िल्म में प्रोस्थेटिक्स का भी इस्तेमाल किया, लेकिन आईडिया ज़्यादा से ज़्यादा रियल दिखने का था.”

इस फ़िल्म में नवाज़ुद्दीन 80 ट्रांस वुमन के साथ काम कर चुके हैं.

नवाज़ुद्दीन अपने एक्सपीरियंस के बारे में बताते हैं कि “रियल लाइफ़ में ट्रांस महिलाओं के साथ काम करना एक बहुत ही अच्छा अनुभव रहा, समुदाय के बारे में अधिक समझने और सीखने का मौका मिला. उनकी उपस्थिति सशक्त थी.”

नवाज़ुद्दीन सिद्दीकी की फ़िल्म रिपोर्ट्स के मुताबिक 15 जुलाई को रिलीज़ होगी.