Real Photos of Bollywood Movie Gangsters: कुछ लोग फ़िल्मी ज़िंदगी जीते हैं तो कुछ की ज़िंदगी पर ही फ़िल्म बन जाती है. दोनों में फ़र्क इतना है कि एक शौक़ से जीता है और दूसरा अपने ख़ौफ़ से मारता है. ऐसे ही खौफ़ पैदा करने वाले लोगों पर बॉलीवुड भी नज़र रखता है. वो इनकी रियल कहानियों को सिनेमा की रील पर उतार देता है. बॉलीवुड ने देश के कई मशहूर गैंगस्टरों पर फ़िल्में बनाई हैं. इनमें मान्या सुरवे से लेकर अरुण गवली, हाजी मस्तान और माया डोलस जैसे ख़तरनाक नाम शामिल हैं. आपने बड़े-बड़े एक्टर्स को इन गैंगस्टरों का क़िरदार निभाते तो देखा होगा, मगर क्या असल ज़िंदगी में इन लोगों की तस्वीर आपने देखी है?

तो चलिए आज हम आपको दिखाएंगे कि बॉलीवुड फ़िल्मों के गैंगस्टर असल ज़िंदगी में कैसे दिखते थे.

1. 'शूटआउट ऐट लोखंडवाला' फ़िल्म का 'माया डोलस'

Mata Dolus

इस फ़िल्म को 1991 के 'लोखंडवाला शूटआउट कांड' से प्रेरित बताया जाता है. इसमें पुलिस ने मुंबई के ख़तरनाक गैंगस्टर 'माया डोलस' और उसके साथियों का एनकाउंटर किया था. फ़िल्म में माया का क़िरदार विवेक ओबेरॉय ने निभाया था. बता दें, माया डोलस का पूरा नाम महेंद्र डोलस था. लेकिन लोग उसे माया बुलाते थे.

Real Photos of Bollywood Movie Gangsters

2. 'वन्स अपॉन अ टाइम इन मुंबई' फ़िल्म का 'सुल्तान मिर्ज़ा'

Hazi mastan

इस फ़िल्म में अजय देवगन ने सुल्तान मिर्ज़ा का क़िरदार निभाया था, जो असल ज़िंदगी के गैंगस्टर सुल्तान हाजी से इंस्पायर्ड था. हाजी मस्तान मुंबई का सबसे सेलिब्रेटेड गैंग्स्टर था. वो स्मगलिंग, फ़िल्म फाइनैंस और रियल एस्टेट का कारोबार भी करता था. कहते हैं कि दाऊद इब्राहिम, छोटा शकील, छोटा राजन और अरुण गवली को हाजी ने ही ट्रेन किया था. 

Real Photos of Bollywood Movie Gangsters

3. 'हसीना पारकर' फ़िल्म की 'हसीना'

Haseena

हसीना पारकर को मुंबई अंडरवर्ल्ड की क्वीन के तौर पर जाना जाता था. वो दाउद की बहन थी. कहते हैं हसीना के पति इब्राहिम पार्कर की मराठी गैंगस्टर अरुण गवली ने 1991 में हत्या कर दी थी. उसके बाद से वो भी अपराध में सीधे तौर पर सक्रिय हो गई. एक दौर ऐसा था जब साउथ मुंबई में हसीना की इजाज़त के बगैर पत्ता तक नहीं हिलता था. 'हसीना पारकर' फ़िल्म में श्रद्धा कपूर ने ये क़िरदार निभाया था.

4.  'रईस' फ़िल्म का 'डॉन'

Abdul Lateef

फ़िल्म 'रईस' में शाहरुख़ ख़ान ने गुजरात के शराब माफिया अब्दुल लतीफ शेख का कि़रदार निभाया था. वो गुजरात में शराब की स्मगलिंग करता था. साथ ही, मर्डर, कॉन्ट्रैक्ट किलिंग, एक्स्टॉर्शन, किडनैपिंग और स्मगलिंग जैसे अपराधों में भी वो लिप्त था. यही नहीं 1993 मुंबई ब्लास्ट केस में भी पुलिस उसे ढूंढ रही थी. उस पर बम ब्लास्ट के लिए RDX सप्लाई करने का गंभीर आरोप था. उसे 1995 में दिल्ली से गिरफ्तार किया गया और 2 साल बाद 1997 में अहमदाबाद में एक पुलिसवाले ने उसे गोली मार दी. (Real Photos of Bollywood Movie Gangsters)

Real Photos of Bollywood Movie Gangsters

5. 'डैडी' फ़िल्म का 'गवली'

Arun

मशहूर मराठी गैंगस्टर टर्न्ड पॉलिटिशन अरुण गवली की लाइफ़ पर फ़िल्म 'डैडी' बनी थी. फ़िल्म में अर्जुन रामपाल ने ये क़िरदार निभाया था. दाउद से अपनी दुश्मनी के लिए मशहूर गवली किसी ज़माने में मुंबई पुलिस का सिरदर्द बना हुआ था. दाउद की बहन के पति की हत्या में भी उसका नाम आता है. गवली को Tada ऐक्ट के तहत गिरफ्तार किया गया था. वो 9 साल जेल में रहा. जेल से बाहर आकर उसने दगड़ी चॉल इलाके से चुनाव लड़ा और MLA बन गया. अरुण गवली फ़िलहाल जेल में ही है. 

6. 'दयावान' फ़िल्म का 'शक्ति'

Dayawan

फ़िल्म 'दयावान' में दिवंगत एक्टर विनोद खन्ना ने शक्ति वेल्हू का क़िरदार निभाया, जो असल ज़िंदगी के डॉन वरदराजन मुदलियार पर बेस्ड थी. वरदराजन, हाजी मस्तान और करीम लाला की तिकड़ी ने मुंबई पर काफी लंबे समय तक राज किया. वो एक तरह से मुंबई में रहने वाले साउथ इंडियन्स का मसीहा बन गया था. हालांकि, पुलिस के पीछे पड़ने के कारण उसे तमिलनाडु भागना पड़ा और बेहद मुफ़लिसी में मरा. तब हाजी मस्तान ने प्राइवेट प्लेन से उसकी बॉडी तमिलनाडु से मुंबई मंगवाई और उसका अंतिम संस्कार किया था.

Real Photos of Bollywood Movie Gangsters

7. 'शूटआउट एट वडाला' फ़िल्म का 'मान्या सुरवे'

Manya Survey

'शूटआउट ऐट वडाला' फ़िल्म में मान्या सुरवे नाम के कुख्यात गैंगस्टर का किरदार जॉन अब्राहम ने निभाया था. मान्या एक पढ़ा-लिखा गैंग्स्टर था. वो ग्रेजुएट था. कहते हैं कि एक झूठे केस में उसे उम्र क़ैद की सज़ा हुई थी. मगर वो जेल से भाग निकला और अपराध की दुनिया से जुड़ गया. उसने इतने क्राइम किए कि उस वक़्त उसकी तुलना दाउद से होने लगी थी. हालांकि, बाद में पुलिस ने वडाला में उसका एनकाउंटर कर दिया था.

8. 'रंगबाज़' वेब सीरीज़ का 'शिव प्रकाश' 

Shiv Prakash Shukla

'रंगबाज़' एक वेब सीरीज़ थी, जिसमें एक्टर साक़िब सलीम ने शिव प्रकाश का क़िरदार निभाया था. ये क़िरदार उत्तर प्रदेश के सबसे चर्चित अपराधी श्रीप्रकाश शुक्ला पर बेस्ड था. श्रीप्रकाश एक कुख्यात अपराधी था. उसके ग़ैर-क़ानूनी काम यूपी, बिहार, दिल्ली, पश्चिम बंगाल और नेपाल तक फैले थे. उसके नाम से ही लोग कांप उठते थे. क्या आम आदमी और क्या पॉलिटिशियन, उसने किसी को भी नहीं छोड़ा. वो AK-47 से हर किसी को छलनी कर देता था. हालांकि, जब उसने यूपी सीएम कल्याण सिंह की सुपारी उठा ली तो उसका अंत भी क़रीब आ गया. महज़ 25 साल की उम्र में वो पुलिस एनकाउंटर में मारा गया.

9. 'गंगूबाई काठियावाड़ी' फ़िल्म का 'करीम लाला'

Kareem Lala

फ़िल्म गंगूबाई काठियावाड़ी में अजय देवगन ने करीम लाला का रोल निभाया. करीम लाला को मुंबई का सबसे पहला माफिया डॉन माना जाता है, जिसे अंडरवर्ल्ड डॉन हाजी मस्तान भी रियल डॉन मानता था. कहा जाता है कि मुंबई में करीम लाला के नाम का बोलबोला था. वो जहां भी कदम रख दे, लोग डर से थर-थर कांपने लगते थे. मुंबई डॉन रहते हुए उसका नाम कई गैर-कानूनी कामों में शुमार था.

ये भी पढ़ें: मुन्ना बजरंगी: यूपी का वो माफ़िया डॉन, जो पुलिस की 11 गोली खाकर भी जिंदा बच गया था