बॉलीवुड स्टार शाहरुख़ ख़ान (Shah Rukh Khan) 6 फ़रवरी को स्वर कोकिला लता मंगेशकर (Lata Mangeshkar) की अंतिम यात्रा में शामिल हुये थे. इस दौरान अन्य हस्तियों की तरह ही शाहरुख़ ने भी भी लता दीदी को अंतिम विदाई दी, लेकिन इस दौरान की एक तस्वीर इन दिनों सोशल मीडिया पर काफ़ी वायरल हो रही है. इस तस्वीर में शाहरुख़, लता दीदी की आत्मा की शांति के लिए अल्लाह से दुआ मांग रहे हैं. मगर सोशल मीडिया पर कुछ लोग इस तस्वीर को बेहद ग़लत तरीके से पेश कर रहे हैं. इस दौरान कईयों ने तो इस पर हिंदु-मुस्लिम का ताना-बाना भी बुनना भी शुरू कर दिया है, जो बेहद शर्मनाक है.

ये भी पढ़ें: गुलशन ग्रोवर: कभी घर-घर साबुन बेचकर भरी स्कूल फ़ीस, आज करोड़ों की संपत्ति के मालिक हैं 'बैडमैन'

लता मंगेशकर, Lata Mangeshkar
Source: aajtak

शाहरुख़ ख़ान (Shah Rukh Khan) ने 15 साल की उम्र में अपने पिता, जबकि 26 साल की उम्र में अपनी मां को खो दिया था. इसके बाद उन्होंने दिन रात कड़ी मेहनत की और आज वो 3 दशकों से बॉलीवुड पर राज कर रहे हैं. शाहरुख दिल्ली से ताल्लुक रखते हैं. इसलिए उनके अंदर आज भी वो 'दिल्ली का लड़का' बसता है, जो बेबाकी और अलहड़पन में ढेरों बातें करता है और बात-बात पर अपनी मां को याद किया करता है. यही कारण है कि उनकी इंसानियत की पूरी बॉलीवुड दीवानी है. बॉलीवुड ही क्या पूरी दुनिया में वो अपने नाम और शोहरत के लिए मशहूर हैं, जो उन्हें देश का आदर्श नागरिक भी बनाते हैं.

 Shahrukh Khan
Source: jansatta

चलिए जानते हैं शाहरुख़ ख़ान (Shah Rukh Khan) एक आदर्श भारतीय नागरिक क्यों हैं?

1- लता मंगेशकर को दी श्रद्धांजली

शाहरुख़ ख़ान (Shah Rukh Khan) ने कभी भी किसी भी धर्म का अपमान नहीं किया है. वो सभी धर्मों में विश्वास रखते हैं. एक मुस्लिम होने के नाते उन्होंने लता मंगेशकर के दर्शन के दौरान उनकी आत्मा के लिए दुआ मांगी थी. इसमें कुछ भी ग़लत नहीं था, लेकिन कुछ लोगों ने इसे धार्मिक रूप देने की कोशिश की और उन्हें ग़लत ठहरा दिया.

Lata Mangeshkar Funeral: Shahrukh Khan Touched Her Feet, Offered Dua
Source: lehren

2- ग़रीबों और ज़रूरतमंदो के लिए NGO

शाहरुख़ ख़ान और उनकी पत्नी गौरी ख़ान पिछले कई सालों से Meer Foundation के ज़रिए देशभर के ग़रीबों और ज़रूरतमंदो की मदद करते आ रहे हैं. वो अब तक करोड़ों लोगों की मदद कर चुके हैं. गंभीर रूप से बीमार सैकड़ों लोगों को उनकी मदद से दूसरी ज़िंदगी मिल चुकी है.

Meer Foundation
Source: thequint

3- शाहरुख़ ख़ान हैं स्वतंत्रता सेनानी के बेटे

शाहरुख़ ख़ान (Shah Rukh Khan) के पिता 'मीर ताज मोहम्मद ख़ान' भारत के सबसे युवा स्वतंत्रता सेनानियों में से एक थे, लेकिन उन्होंने कभी भी इस बात का ढिंढोरा नहीं पीटा. उल्टा लोगों ने उन्हें ही देशद्रोही करार दे दिया, जबकि उनके रंगों में एक स्वतंत्रता सेनानी का ख़ून दौड़ रहा है.

 Shahrukh Khan Father Freedom Fighter
Source: aajtak

4- समय पर इनकम टैक्स भरना  

शाहरुख़ ख़ान (Shah Rukh Khan) बॉलीवुड के उन चंद एक्टर्स में शुमार हैं जो समय पर इनकम टैक्स भरते हैं. आज तक एक बार भी ऐसा नहीं हुआ है जब उन पर टैक्स चोरी के आरोप लगे हों. इससे ये साबित होता है कि वो अपनी ज़िम्मेदारी कितनी गंभीरता से निभाते हैं.

 Shahrukh Khan Tax Payer
Source: winkreport

5- अपनी पत्नी का नहीं कराया धर्म परिवर्तन

शाहरुख़ ख़ान (Shah Rukh Khan) मुस्लिम हैं, जबकि उनकी पत्नी गौरी हिंदू हैं. शाहरुख़ और गौरी की लव मैरिज हुई थी. बावजूद इसके शादी के बाद उन्होंने अपनी पत्नी का धर्म परिवर्तन नहीं कराया क्योंकि वो न केवल गौरी का, बल्कि उनके धर्म का भी सम्मान करते हैं.

 Shahrukh Khan and Gauri Khan
Source: timesofindia

6- धर्मनिरपेक्ष नागरिक शख़्स

शाहरुख़ ख़ान भारत के एक धर्मनिरपेक्ष नागरिक हैं इसमें कोई दो राय नहीं है. शाहरुख़ और गौरी दोनों अलग-अलग धर्मों से ताल्लुक रखते हैं. लेकिन उन्होंने कभी भी अपने बच्चों को किसी एक धर्म को नहीं, बल्कि दोनों धर्मों का फ़ॉलो करना और इनका सम्मान करना सिखाया है.

 Shahrukh Khan With His Family
Source: magzentine

7- शाहरुख़ की फ़िल्मों ने बॉलीवुड को विदेशों में किया मशहूर

शाहरुख़ ख़ान की सुपरहिट फ़िल्म 'दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे' साल 1995 में रिलीज़ हुई थी. ये फ़िल्म भारत समेत पूरी दुनिया में ख़ूब पसंद की गई थी. ये भारत की पहली फ़िल्म थी जिसने बॉलीवुड को ग्लोबल तौर पर मशहूर बनाया. आज भी विदेशों में इस फ़िल्म का डायलॉग 'बड़े-बड़े देशों में ऐसी छोटी-छोटी बातें होती रहती हैं...सेनोरिटा' काफ़ी मशहूर है.

DDLJ
Source: vogue

8- शाहरुख़ के लिए सर्वोपरि है मां का सम्मान

शाहरुख़ ख़ान आज किसी पहचान के मोहताज नहीं हैं. अपनी कड़ी मेहनत के दम पर वो आज बॉलीवुड के 'किंग' कहलाते हैं. शाहरुख़ के पास आज दौलत, शौहरत सब कुछ है और इसका पूरा श्रेय अपनी मां को देते हैं. वो जब केवल 26 साल के थे और उनके पास कुछ भी नहीं था तब उन्होंने अपनी मां को खो दिया था. वो आज अपनी हर कामयाबी का श्रेय अपनी मां को ही देते हैं. 

 Shahrukh Khan And Mother
Source: bollywoodshaadis

9- शाहरुख़ की वजह से महिला को मिला विदेश यात्रा का मौका   

शाहरुख़ ख़ान किस तरह से पूरी दुनिया में भारत की पहचान हैं इसका एक उदहारण इसी साल जनवरी में तब सामने आया जब अश्वनी देशपांडे नाम की एक भारतीय महिला को अपनी मिस्र ट्रिप के दौरान मिस्र में एजेंट को पैसा ट्रांसफ़र करने में दिक्कत आ रही थी. इसके बाद एजेंट ने बिना पैसा लिए महिला की टिकिट ये कहते हुए बुक कर दी क्योंकि वो शाहरुख़ ख़ान के देश भारत से हैं.

शाहरुख़ ख़ान, Shah Rukh Khan)
Source: pardaphash

इसके अलावा भी शाहरुख़ ख़ान को देश-विदेशों में कई बड़े सम्मान मिल चुके हैं, जो उनके एक आदर्श भारतीय नागरिक होने के प्रमाण हैं. बावजूद इसके कुछ लोग उन्हें देशद्रोही कहने से बाज़ नहीं आते.

ये भी पढ़ें: जानिए स्वर कोकिला लता मंगेशकर अपने पीछे कितने अरब की संपत्ति छोड़ गई हैं