बीते कुछ सालों में बॉलीवुड में बहुत सी बायोपिक बनाई जा चुकी है. कुछ बायोपिक को दर्शकों ने नकार दिया, तो कुछ को काफ़ी पसंद किया. इन बायोपिक की ख़ास बात सिर्फ़ कहानी ही नहीं, बल्कि वो स्टार्स भी थे जिन्होंने उन किरदारों के साथ न्याय किया.

इन स्टार्स ने बड़े पर्दे पर किरदार को निभाया और उसे हमेशा के लिये जीवित भी किया.

1. मंटो

लेखक मंटो के जीवन पर आधारित ये फ़िल्म 2018 में आई थी, जिसके मुख्य किरदार में अभिनेता नवाज़ुद्दीन सिद्दीकी थे. नवाज़ुद्दीन सिद्दीकी ने इस किरदार को ऐसे निभाया कि उसमें दर्शकों को मंटो की झलक दिखाई दी.

manto
Source: variety

2. पान सिंह तोमर

इस फ़िल्म में पान सिंह तोमर के रोल में इरफ़ान ख़ान थे, जिसे दर्शकों ने ख़ूब सराहा भी. एथलिट के किरदार में इरफ़ान ने ज़बरदस्त परफ़ॉर्मेंस दी.

irrfan khan
Source: thedemocraticbuzzer

3. शाहिद

राजकुमार राव अभिनीत ये फ़िल्म मानवाधिकार कार्यकर्ता शाहिद आज़मी की ज़िंदगी से प्रेरित थी, जिनकी 2010 में हत्या कर दी गई थी. इस फ़िल्म में राज कुमार राव दर्शकों की उम्मीदों पर खरे उतरे.

Shahid
Source: livemint

4. अलीगढ़

इस फ़िल्म ने दर्शकों की वाहवाही और सुर्खियां दोनों बटोरी थी. फ़िल्म AMU के एक ऐसे प्रोफ़ेसर पर आधारित थी, जिसे समलैंगिक रिश्तों के चलते बर्ख़ास्त कर दिया गया था. इस प्रोफ़ेसर का नाम रामचंद्र सीरस था.

aligarh
Source: screendaily

5. मैं और चार्ल्स

इस फ़िल्म में चार्ल्स शोभराज का किरदार रणदीप हुड्डा ने अदा किया था. इस करिदार में रणदीप हुबहू रणदीप की तरह लग रहे थे.

Charles
Source: livemint

6. ज़ुबैदा

ये फ़िल्म बीमार अभिनेत्री ज़ुबैदा बेगम की ज़िंदगी पर आधारित थी, जिसका मुख्य रोल करिश्मा कपूर ने निभाया था. जुबैदा की शादी जोधपुर के हनवंत सिंह से हुई थी.

zubeida
Source: t2online

7. मंजूनाथ

फ़िल्म में साशो सतीश सारथी ने मंजूनाथ की भूमिका निभाई थी और उसके साथ न्याय भी किया था. 2005 में भ्रष्टाचार की लड़ाई लड़ते हुए मंजूनाथ मारे गये थे.

Manjunath
Source: livemint

8. हवाईज़ादा

ये फ़िल्म वैज्ञानिक शिवकर बापूजी तलपड़े की ज़िंदगी पर बनी थी, जिसका मुख्य किरदार आयुष्मान ख़ुराना ने निभाया था. आयुष्मान के इस किरदार की जितनी तारीफ़ की जाये कम है.

hawaizaada
Source: prabhatkhabar

9. वीरप्पन

राम गोपाल वर्मा की इस फ़िल्म का लीड रोल संदीप भारद्वाज ने निभाया था. इस फ़िल्म में अगर इस रोल के साथ कोई न्याय कर सकता था, तो वो संदीप ही थे.

veerappan
Source: merisaheli

10. गौर हरि दास्तां

इस फ़िल्म की कहानी स्वतंत्रता सेनानी गौर हरि दास की ज़िंदगी से प्रेरित थी, जो कि एक सरल और ईमानदार व्यक्ति थे. स्वतंत्रता सेनानी की भूमिका के लिये विनय पाठक को चुना गया और ये उनके फ़िल्मी करियर के बेहतरीन रोल्स में से एक था.

gour hari dastaan
Source: inextlive

आपने इसमें से कौन-कौन सी फ़िल्म देखी है?

Entertainment के और आर्टिकल पढ़ने के लिये ScoopWhoop Hindi पर क्लिक करें.