हिन्दुस्तान में कई महान राजा महाराजाओं ने जन्म लिया, जिनकी शौर्य गाथाएं हम आज भी सुनते हैं तो गर्व से चौड़े हो जाते हैं. ऐसे सच में ये हमारे लिए गर्व की बात है कि हमने ऐसे महान राष्ट्र में जन्म लिया है. भारतीय इतिहास में एक ऐसे राजा हुए जिनको सबसे ज़्यादा प्रगतिशील और समझदार में स्थान मिला है. वो शासक कोई और नहीं, बल्कि छत्रपति शिवाजी महाराज थे. उनकी विराट की गाथयें आज भी गयी जाती हैं.

छत्रपति शिवाजी महाराज ने अपनी वीरता से मुग़लों को घुटने टेकने पर मजबूर कर दिया था. मुग़ल शासन के समय मराठाओं की स्वतंत्रता के लिए शिवाजी महाराज ने बहुमूल्य योगदान दिया था. वीर योद्धा होने के साथ-साथ शिवाजी एक सैन्य रणनीतिकार भी थे. शिवाजी की सबसे बड़ी ख़ासियत ये थी कि वो एक महान योद्धा तो थे ही साथ ही बहुत दयालु भी थे.

कभी हार न मानने वाले और हमेशा मराठा शक्ति को बढ़ाने महान योद्धा छत्रपति शिवाजी महाराज ने बचपन से ही अपनी माता जीजाबाई से शिवाजी महाराज ने युद्ध कौशल और राजनीति की शिक्षा ग्रहण कर ली थी. उनको उनके अदम्य साहस, कूटनीति, बुद्धिमता, कुशल शासक और महान योद्धा के रूप में पूरा भारत जानता है.

अगर शिवाजी के लिए ये कहा जाए... 'उनकी बहादुरी की किस्से अनगिनत हैं और उनकी जीत की कहानियां असंख्य', तो अतिश्योक्ति नहीं होगी. लेकिन इतिहास गवाह है कि जहां महानता है, वहां हमेशा कुछ ग़लत धारणाएं ज़रूर होती हैं. जैसे कुछ लोगों ने शिवाजी महाराज को एक क्रूर तानाशाह के रूप में जाना है, जबकि कुछ ने उनके धर्मनिरपेक्ष होने की निंदा की है. ऐसी ही कई बातें हैं जो छत्रपति शिवाजी महाराज के बारे में लोग नहीं जानते होंगे.

आज शिवाजी महाराज की पुण्यतिथि पर जानते हैं उनके बारे में कुछ फ़ैक्ट्स, जो उन्‍हें महान बनाते हैं…

1.

2.

3.

4.

5.

6.

7.

8.

9.

10.

11.

12.

13.

14.

15.

16.

17.

18.

19.

20.

21.

22.

महान मराठा शासक छत्रपति शिवाजी महाराज हमेशा से साहस और शौर्य की जीती-जागती मिसाल थे, हैं और हमेशा रहेंगे। हिंदुस्तान के इस महान योद्धा को शत-शत नमन.

Designed By: Nupur Agrawal