अभी हाल ही में बॉलीवुड अभिनेता विवेक ओबरॉय ने छत्तीसगढ़ में शहीद हुए जवानों के परिवारों को 25 फ्लैट देने का ऐलान किया है. इससे पहले अक्षय कुमार और गौतम गंभीर भी शहीदों के परिवारों की आर्थिक मदद का ऐलान कर चुके है. अगर आप भी इन सेलीब्रिटीज़ की तरह शहीदों के परिजनों की मदद करना चाहते हैं, तो इसके लिए गृह मंत्रालय ने www.bharatkeveer.gov.in नाम की एक वेबसाइट लॉन्च की है. इस वेबसाइट के ज़रिए आप शहीदों के परिवार की सीधे तौर पर आर्थिक मदद कर सकेंगें. इस वेबसाइट को लॉन्च करने में अक्षय कुमार ने बड़ी भूमिका निभाई है. इसका सुझाव उन्होनें ही भारत सरकार को दिया था.

1. 10 रुपए से 15 लाख रुपए तक की कर सकते हैं मदद

Source- Bharatkeveer

कई लोग देश के प्रति अपनी ज़िम्मेदारी समझते हुए देश की रक्षा के लिए जान कुर्बान करने वाले शहीदों के परिवारों की मदद करना चाहते हैं, लेकिन वो ऐसा कर नहीं पा रहे थे. इसी को ध्यान में रखते हुए सरकार ने 'भारत के वीर' नाम की इस वेबसाइट की शुरुआत की है. इसके ज़रिए आप कम से कम 10 रुपए और ज़्यादा से ज़्यादा 15 लाख रुपए तक की आर्थिक मदद कर सकते है. पैसे जमा करने के बाद भारत सरकार की ओर से एक सर्टिफ़िकेट भी जारी किया जाएगा, जिसे डाउनलोड भी किया जा सकता है.

2. वेबसाइट पर मिलेगी शहीदों की पूरी जानकारी

Source- Bharatkeveer

इस वेबसाइट पर शहीद होने वाले सैनिकों की पूरी जानकारी है. मसलन वो कहां और कैसे शहीद हुए, उनकी रैंक, उम्र, पता और उनके बाद परिवार में कौन-कौन बचा है, जो उन पर आश्रित था. साथ ही ये भी जान पाएंगे कि शहीद के परिवार को कितनी आर्थिक मदद दी गयी है.

3. बेहद आसान है वेबसाइट पर आवेदन करना

Source- Bharatkeveer

इस वेबसाइट को बनाते समय ये ध्यान रखा गया है कि लोगों को आर्थिक मदद करने में कोई दिक्कत न आए. वेबसाइट के होम पेज पर जाकर आपको 'Enter' बटन पर क्लिक करना है. क्लिक करते ही आपको 'Bravehearts' का ऑप्शन नज़र आएगा. इस पर क्लिक करने पर आपको सारे शहीदों की जानकारी मिल जाएगी. अगर आप Contribute करना चाहते हैं, तो स्क्रीन पर दिख रहे उस शहीद की फ़ोटो पर क्लिक करें, जिसकी आप मदद करना चाहते हैं. क्लिक करने पर 'I Would Like To Contribute' का ऑप्शन दिखेगा. इस ऑप्शन पर क्लिक करते ही मांगी गई ज़रूरी जानकारी देकर आप Contribute कर सकते है. इसके ज़रिए अभी तक लोगों ने करीब 116 शहीदों के परिवारों की मदद की है.

हमारी सुरक्षा और सुकून भरी नींद के लिए दिन-रात जागने और अपनी जान कुर्बान करने वाले इन शहीदों के लिए हम उतना तो नहीं कर सकते, जितना इन्होंने हमारे लिए किया है, लेकिन इस वेबसाइट की मदद से कम से कम हम इनके परिवारों की मदद करके उनकी ज़िंदगी थोड़ी-सी आसान तो कर ही सकते है.

Feature Image Source- Bharatkeveer

Article Source- Naidunia