ट्रेन से हर रोज़ करीब 2.25 करोड़ लोग सफ़र करते हैं, जो कि ऑस्ट्रेलिया की जनसंख्या के बराबर है. ऐसे ही अब तक आपने इंडियन रेलवे से जुड़े कई रोचक तथ्य सुने होंगे, लेकिन शायद ही आपको भारतीय रेलवे की एक रहस्यमयी चीज़ के बारे में पता हो.

दरअसल, महाराष्ट्र के नगर पंचायत (नगर पालिका) के पास 'नवापुर' नामक एक रेलवे स्टेशन है. कमाल की बात ये है कि इसका संंबंध सिर्फ़ महाराष्ट्र से ही नहीं, बल्कि गुजरात से भी है. इस रेलवे स्टेशन का आधा हिस्सा महाराष्ट्र, तो दूसरा गुजरात में स्थित है. इसीलिए इस पर आधा क़ानून गुजरात का तो, आधा महाराष्ट्र का चलता है.

इस स्टेशन की ख़ास बात ये है कि इसके प्लेटफ़ॉर्म पर चार भाषाओं में अनाउंसमेंट किया जाता है. ऊर्जा मंत्री पीयूष गोयल इस बारे में लिखते हैं कि 'नवापुर स्टेशन दो राज्यों में स्थित है, जिसका आधा भाग महाराष्ट्र और आधा भाग गुजरात में है.'

वहीं जब स्टेशन पर ट्रेन महाराष्ट्र की ओर से आती है, तो उसका इंजन गुजरात की ओर होता है और जब वो गुजरात की तरफ़ से आती है, तो इंजन महाराष्ट्र की ओर होता है. ये स्टेशन कई मामलों में अद्वितीय और अद्भुत है, लेकिन ये ऐसा पहला स्टेशन नहीं है, जो कि दो राज्यों की सीमा से जुड़ा हुआ है. इसके अलावा भवानीमंडी ऐसा दूसरा रेलवे स्टेशन है, जो कि राजस्थान और मध्यप्रदेश दो राज्यों की सीमा के बीच बना हुआ है.

गुजरात और महाराष्ट्र के बीच स्थित इस रेलवे स्टेशन के बारे में जानकर आपको कैसा लगा?