Excuses For Not Going To Gym: आज के समय में ऐसे बेहद कम ही लोग होंगे, जो ख़ुद को फ़िट नहीं रखना चाहते हों. बदलती लाइफ़स्टाइल और माहौल की वजह से हेल्दी और फ़िट रहना और भी ज़रूरी हो गया है. इसी वजह से आजकल यूथ से लेकर बड़े-बुजुर्ग तक भी बॉडी शेप में लाने के लिए जिम (Gym) की ओर भागते हैं. हालांकि, उसके लिए सही डाइट, वर्कआउट और एक हेल्दी रूटीन की ज़रूरत होती है, जिसे अचीव कर पाना सबके बस की बात नहीं होती. कुछ लोग तो शुरुआत में जिम जाने का प्लान करते हैं, लेकिन कुछ समय बाद उनका ये जोश आलस में तब्दील हो जाता है और वो जिम न जाने के लिए तरह-तरह के बेफिज़ूल के बहाने बनाने लगते हैं.

चलिए आज आपको बताते हैं जिम न जाने के कुछ ऐसे ही कॉमन बहाने (Excuses For Not Going To Gym), जिसे ज़्यादातर हर व्यक्ति ने अपने दोस्तों या फ़ैमिली वालों पर चेपा होगा.

1. मेरे पास जिम जाने का टाइम नहीं है.

ये जिम न जाने का सबसे कॉमन बहाना है. ऐसे कई लोग हैं, जो अपने बिज़ी शेड्यूल और टाइम का हवाला देकर जिम जाने से बचते हैं. लेकिन जनाब अगर किसी चीज़ के लिए टाइम निकालने की शिद्दत हो, तो उसके लिए 1 घंटा आसानी से मैनेज हो सकता है.

no time
Source: byrslf

2. मैंने आज उतना ज़्यादा नहीं खाया, इसलिए आज मुझे एक्सरसाइज़ की ज़रूरत नहीं है.

एक्सरसाइज़ करना आपके ज़्यादा खाने या कम खाने पर निर्भर नहीं होता है. अगर आपने ज़्यादा नहीं भी खाया, तो भी एक्सरसाइज़ करने में कोई बुराई नहीं है. ये आपको तंदुरुस्त रखती है.

didnt eat much
Source: medicalnewstoday

Excuses For Not Going To Gym

3. एक दिन जिम स्किप करने से मेरा वेट बढ़ या घट नहीं जाएगा.

जब शुरुआत में वर्कआउट के दौरान लोगों को हल्का-हल्का बॉडी में दर्द सहना पड़ता है, तो लोग जिम जाने से बचने लगते हैं. वो धीरे-धीरे एक दिन ये बहाना मारकर जिम स्किप करते हैं और फिर 1 दिन पूरी तरह से गोला मार देते हैं. (Excuses For Not Going To Gym)

thinking indian
Source: pixahive

ये भी पढ़ें: स्वस्थ शरीर के लिये अगर जिम करना जानते हो, तो हाइजीन से ये जुड़ी 8 बातें याद रखना

4. बहुत गर्मी हो रही है, जिम जा कर क्या करूंगी.

अब एक्सरसाइज़ भी मौसम को देख कर करोगे, तो उसके लिए बिल्कुल परफ़ेक्ट मौसम न जाने कौन से जनम में आ पाएगा. इसलिए आज ही ये फालतू बहाने छोड़ कर जिम जाने का रूटीन बना लो.

hot
Source: economictimes

5. सोने से पहले रात में योग कर लूंगी, तब जिम जाने की ज़रूरत नहीं पड़ेगी.

हम अक्सर ख़ुद को घर पर ही योग या एक्सरसाइज़ करने के लिए मनाकर जिम जाने के लिए बहाना मार लेते हैं. फिर उस योगा वाले रूटीन का पत्ता कहां कट जाता है, ये ख़ुद को भी नहीं पता रहता. (Excuses For Not Going To Gym)

yoga in bed
Source: healthshots

6. अलार्म कब बज गया, पता ही नहीं चला. 

आपने कई लोगों को ये कहते सुना होगा कि सुबह-सुबह अलार्म बजता रहता है और उनकी नींद नहीं खुलती. इसलिए वो लोग जिम नहीं जा पाते. लेकिन अगर अपने हर काम की तरह फ़िटनेस के लिए भी अलर्ट रहेंगे, तो ऐसा हो ही नहीं सकता कि आपकी नींद न खुले. जब ट्रेन पकड़नी होती है या कोई ज़रूरी काम होता है, तब भी तो नींद खुल जाती है न.

alarm ringing
Source: drairatxediaz

7. वर्कआउट से शरीर में दर्द होता है.

शुरुआत में जब आप जिम ज्वाइन करेंगे, तो आपको मांसपेशियों में खिंचाव की वजह से दर्द होना नॉर्मल है. ये इस बात का संकेत है कि अभी तक आप कंफ़र्ट ज़ोन में थे और आपने अपनी बॉडी पर कोई भी लोड नहीं डाला था. फिर आप जैसे-जैसे इस पर लोड डालेंगे, वैसे-वैसे आपको इसकी आदत हो जाएगी. शुरुआत में दर्द के कारण जिम जाना मत बंद करें.

workout pain indian
Source: indianexpress

ये भी पढ़ें: भंगार के सामान से तैयार हुए इस जिम में हैं कुछ ऐसे उपकरण, जो आपको महंगी से महंगी जगह नहीं दिखेंगे

8. अकेले जिम जाने में अजीब लगता है.

ज़िंदगी में ज़्यादातर काम अकेले ही करने पड़ते हैं. अगर किसी का साथ न होने से आप जिम नहीं जा रहे हैं, तो इससे आपकी बॉडी ही फ़िट नहीं रहेगी. इसके साथ ही जिम दोस्ती-यारी निभाने के लिए बल्कि आपकी बॉडी को शेप में रखने के लिए ज्वाइन किया जाता है. तो दूसरों के साथ की चिंता छोड़कर ख़ुद की हेल्थ पर फ़ोकस करना शुरू कर दीजिए.

gym fear
Source: blog.myfitnesspal

9. जिम की फ़ीस नहीं अफॉर्ड कर सकती.

ऐसे कई लोग हैं, जो अक्सर पार्टी करने या पिज़्ज़ा-बर्गर मंगवाने के लिए धड़ल्ले से रुपये ख़र्च करते हैं, लेकिन जिम का नाम सुनकर ही उनके पास कंगाली छा जाती है. आपको ये सोचने की ज़रूरत है कि आप ये ख़र्च बचाकर जिम का पेमेंट कर सकते हैं. अगर सच में आपके पास फ़ाइनेंशियल समस्या है, तो आप रोज़ रनिंग या घर में कुछ आसान वर्कआउट की आदत बनाएं.

no money
Source: bizbuilder

10. मैं एक हफ़्ते जिम गई, मुझे कोई रिज़ल्ट्स नहीं मिले.

हमेशा ये याद रखें कि हर टारगेट को अचीव करने के लिए सब्र और मेहनत की ज़रूरत होती है. अगर आप एक हफ़्ते या दो हफ़्ते में ही रिज़ल्ट्स पाना चाहते हैं, तो ऐसा होना नामुमकिन है. इसलिए आपको किसी भी निष्कर्ष पर पहुंचने से पहले 2 से 3 महीने का इंतज़ार करना चाहिए.

no results in gym
Source: muscleandstrength

इन बहानों से आज ही दूरी बना लें.