किताबों में आपने कई रहस्ययमी और डरावनी कहानियों को पढ़ा ज़रूर होगा. वहीं, कई काल्पनिक डरावनी फ़िल्में भी ज़रूर देखी होंगी. लेकिन दोस्तों, इतिहास में कई ऐसी घटनाएं घट चुकी हैं जो हॉरर फ़िल्मों और किताबों से कहीं ज़्यादा डरावनी और होश उड़ा देने वाली हैं. इस लेख में हमने इतिहास की उन 8 रहस्यमयी घटनाओं का ज़िक्र किया है, जो किसी की भी रातों की नींद उड़ा देने के लिए काफ़ी हैं. आइये, क्रमवार जानते हैं उन रहस्यमयी और ख़ौफ़नाक घटनाओं के बारे में.    

1. सीरियल किलर की वॉइस रिकॉर्डिंग 

ये वॉइस रिकॉर्डिंग उस सीरियल किलर की है जिसने लगभग 50 रेप और लगभग 12 से ज़्यादा मर्डर किये थे. इसे ‘ऑरिजनल नाइट स्टॉकर’ और ‘ईस्ट एरिया रेपिस्ट’ के नाम से भी जाना गया. इसकी एक वॉइस रिकॉर्डिंग मिली जिसमें से एक विक्टिम को मारने की बात कर रहा है. ये कॉल Law Enforcement द्वारा रिकॉर्ड किया गया था. हालांकि, इसका अब तक पता नहीं चल पाया है.  

2. स्टेशन नाइट क्लब फ़ायर  

Station night club fire
Source: reddit

अमेरिका के Rhode Island के एक स्टेशन नाइट क्लब में लगी आग की घटना (20 फ़रवरी 2003) काफ़ी ज़्याद सूर्खियों में रही. ये आग एक रॉक कॉन्सर्ट के दौरान लगी थी. कहा जाता है कि इस क्लब को आग में झुलसने में पांच मिनट से भी कम का वक़्त लगा था. इस दुर्घटना में लगभग 100 लोगों की मौत हुई थी और क़रीब 230 लोग घायल हुए थे. ये अपने आप में ही एक चौंकाने वाली बात थी कि इतने कम समय में आग कैसे इतनी जल्दी फैल गई.  

3. मास सुसाइड 

mass suicide
Source: monsterchildren

कहा जाता है कि 1997 में Heaven's Gate Cult (अमेरिका का एक धार्मिक आंदोलन) के 39 सदस्यों ने ये सोच कर एक घर में आत्महत्या कर ली कि उनकी आत्माएं अंतरिक्ष यान में सवार होकर Comet Hale-Bopp नामक धूमकेतु के पीछे जाएंगी. ऐसा कहा जाता है कि मरने वाले लोगों ने वोदका में मिर्गी की दवा (Phenobarbital) और एप्पल सॉस मिलाकर पिया था. इसके साथ ही उन्होंने अपने सिर को प्लास्टिक बैग से कवर कर लिया था. सभी ने काले कपड़े और नए जूते पहने थे. ये आत्महत्याएं तीन दिनों तक चली. पहले दिन 15 लोग मरे, फिर दूसरे दिन 15 और तीसरे दिन बाकी बचे सदस्य.  

4. बड़ा धमाका  

Stony Tunguska River side air blast
Source: bbc

रूस की Stony Tunguska River के पास 30 जून 1908 को एक ऐसा बड़ा धमाका हुआ जिसने नदी के पास 2 हज़ार वर्ग इलाक़े में फैले जंगल को जलाकर राख कर दिया था. इस धमाके में 8 करोड़ पेड़ तबाह हो गए थे. ये धमाका इतना बड़ा था कि इसने धरती को हिलाकर रख दिया था.   

5. 9 स्की हाइकर्स की रहस्यमयी मौत  

ski hikers death
Source: newscientist

ये घटना फ़रवरी 1959 की है. रूस के युराल पर्वत के उत्तरी हिस्से में 9 स्की हाइकर्स अपने कैंप के पास मृत पाए गए थे. किसी को इनकी मौत की सही वजह नहीं पता चल रही थी. इसके बाद Soviet criminal investigation द्वारा जांच की गई और ये निष्कर्ष निकाला गया कि कोई प्राकृतिक बल द्वारा ही इन पर्वतारोहियों की मृत्यु हुई है. लेकिन, सटीट वजह का पता नहीं चल सका.  

6. लाफ़टनर एपीडेमिक 

laughter epidemic
Source: historynaked

30 जून 1962 को तंजानियां की सीम के पास एक बॉर्डिंग स्कूल में तीन लड़कियां अचानक ज़ोर-ज़ोर से हंसने लगीं. उनकी हंसी रुक नहीं रही थी. इसके बाद ये हंसने वाली समस्या 95 छात्रों में फैल गई. इसक वजह से स्कूल बंद करा दिए गए और बच्चों को घर भेज दिया गया. ये बीमारी पास के गांव में भी फैल गई थी. वहीं, इस बीमारी से पीड़ित व्यक्ति 18 महीने बाद मर गए थे. इस बीमारी को Hysteria के नाम से जाना जाता है, जो तनाव से जुड़ी मानी जाती है.  

7. अजीबो-ग़रीब लाइट  

UFO
Source: buzzfeed

13 मार्च 1997 को एरिज़ोना के Phoenix शहर के लोगों ने आसमान में अजीबो-ग़रीब काला, V शेप और पांच लाइटो वाला एक विमान देखा. प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार लाइन एक अनोखे पैटर्न में जल रहीं थी. इसके बाद वो विमान ग़ायब हो गया. ऐसा माना गया कि ये UFO थ्योरी का ही हिस्सा है.

8. Gloria Ramirez की मृत्यु 

Gloria Ramirez
Source: buzzfeed

Gloria Ramirez को टॉक्सिक लेडी और टॉक्सिक वुमन के नाम से भी जाना जाता है. ये कैलिफ़ोर्निया की रहने वाली थीं. 19 फ़रवरी 1994 को इन्हें एक जनरल हॉस्पिटल में एडमिट किया गया था. ग्लोरिया सर्वाइकल कैंसर के लास्ट स्टेज़ में थी. जब उन्हें एडमिट किया गया तब उनकी धड़करने तेज़ थीं. वहां मौजूद स्टॉफ़ ने नोटिस किया कि उनकी शरीर तैलीय हो चुका है और उनके मुंह से लहुसन जैसी गंद आ रही थी. जब उनका ब्लड लिया गया, तो देखा गया कि ट्यूब में ammonia जैसी गंध फैल रही थी और बल्ड में अजीब कण तैर रहे थे. 

वहीं, जो अस्पताल का स्टॉफ़ उनका इलाज कर रहा था उनमें से कई अचानक बीमार पड़ गए और बाद में उनकी मृत्यु हो गई. हालांकि, उनका इलाज जारी रहा, लेकिन ग्लोरिया की वजह से 23 लोग बीमार पड़ गए, जिनमें से कई को अस्तपताल में ही एडमिट करना पड़ा. जो लोग मरे उनकी मौत का कारण किडनी फेल्योर बताया गया था. हालांकि, इस पर कई तरह के मत रखे गए, लेकिन आज तक सटीक कुछ पता नहीं चल सका.