P. C Sorcar : भारत में जादू का इतिहास काफी पुराना है. पहले के जादूगर गांव-गांव व शहर-शहर घूमकर जादू का शो दिखाकर पैसा कमाते थे. हालांकि, वक़्त के साथ ऐसे जादूगरों की संख्या कम हो गई और आधुनिक यानी प्रोफ़ेशनल मैज़िशियन पैदा हो गए. ये प्रोफ़ेशनल मैज़िशियन नई-नई ट्रिक्स की मदद से बड़े-बड़े जादू के शोज़ करते हैं. लेकिन, भारत का एक जादूगर ऐसा हुआ जिसने न सिर्फ़ देश बल्कि विदेशों में भी ख़ूब नाम कमाया. वो ऐसा भ्रम जाल बुनते थे कि व्यक्ति को वो ही दिखता था जो वो दिखाते थे. इनका नाम था पी.सी सरकार. 

आइये, इस ख़ास लेख में जानते हैं जादूगर P. C Sorcar के बारे में, जिनके जादू विदेशियों को भी सकते में डाल दिया करते थे. 

बंगाल का जादूगर P. C Sorcar

PC SARKAR
Source: wikipedia

पी.सी सरकार बंगाल के रहने वाले थे. उनका जन्म (23 फरवरी, 1913) राज्य के टंगाइल ज़िले के एक छोटे से गांव अशेकपुर में हुआ था. उनका पूरा नाम था प्रोतुल चंद सरकार. बाद में उनका नाम पी.सी सरकार के नाम से लोकप्रिय हुआ. कहते हैं कि वो गणित में काफ़ी अच्छे थे. लेकिन, उनका दिल जादूगरी में लगता था. 

छोटे स्तर से की शुरुआत   

PC SARKAR
Source: scroll
PC Sarkar
Source: bbc

जैसा कि हमने बताया कि पी. सी सरकार का दिल जादूगरी में लगता था, इसलिए उन्होंने इसे करना शुरू कर दिया था. पहले उन्होंने क्लब, थियेटर व सर्कस में अपने जादू का खेल दिखाना शुरू किया था. वक़्त के साथ वो अपने क्षेत्र में काफी अच्छा कर रहे थे. वहीं, ज़्यादा नाम कमाने के लिए उन्होंने ख़ुद को दुनिया का सबसे महान जादूगर घोषित कर दिया, उनकी ये तरक़ीब काम आई और उन्हें देशभर से जादू के शो के लिए बुलाया जाने लगा. इसके बाद उन्होंने अपना कदम विदेश की ओर बढ़ाया. वो चाहते थे कि उनका शो पूरी दुनिया देखे.

उलझे कई विवादों से  

pc sarkar
Source: totallyhistory

P. C Sorcar के जादू का करियर उतना आसान भी नहीं था. उन्हें कई विवादों से भी गुज़रना पड़ा. पहले तो यही था कि उन्होंने ख़ुद को  दुनिया का सबसे महान जादूगर घोषित कर दिया था. इससे कई लोग धोखे के रूप में देखते थे. वहीं, कई लोग उनकी जादूगरी पर शक भी किया करते थे. वहीं, बीबीसी के अनुसार, हेलमट एवाल्ड स्क्रिवर (हीटलर के पसंदीदा) नाम के एक जर्मन जादूगर ने सरकार पर उनकी ट्रिक्स चुराने का आरोप लगाया था. हालांकि, उनके आरोप उनपर ही भारी पड़ गए. कई जादूगर सरकार के पक्ष में खड़े हो गए थे. वहीं, हेलमट एवाल्ड स्क्रिवर को बताया गया कि जिन ट्रिक्स को वो अपना कह रहे हैं, वो भी उन्होंने किसी ओर से चुराई थी. 

डरा दिया था ब्रिटेनवासियों को  

PC SARKAR
Source: getbengal

P. C Sorcar के शो को देख ब्रिटेन के लोग भी सकते में आ गए थे. दरअसल, ये उस समय की बात है जब ब्रिटेन में Panorama नाम का एक करंट अफ़ेयर्स कार्यक्रम आया करता था. ये बीबीसी पर आया करता था. इसी कार्यक्रम में ब्रिटेन के लोगों ने पी. सी सरकार का शो देखा. लेकिन, दर्शकों को लगा कि कोई बड़ी गड़बड़ी हो गई है. 

इस शो में पी.सी सरकार ने एक 17 साल की लड़की को वश में कर उसे मेज पर लिटा दिया था. टीवी स्क्रीन पर दर्शक देख रहे थे कि पी.सी सरकार ने लड़की के शरीर के दो हिस्से कर दिए हैं. लेकिन, जैसे ही सरकार ने लड़की के हाथ मलने शुरू किए, लड़की ने कोई भी प्रतिक्रिया नहीं की. इसके बाद लड़की पर काला कपड़ा डाल दिया गया. वहीं, कार्यक्रम के बीच में आकर शो के होस्ट ने कहा कि अब कार्यक्रम ख़त्म होता है. 
इसके बाद स्टूडियो में कई फ़ोन आए. फ़ोने करने वालों को पूरा यकीन था कि उन्होंने टीवी पर लाइव मर्डर होते देखा है. हालांकि, ऐसा कुछ था नहीं. शो को अचानक ख़त्म करने को लेकर जो स्पष्टीकरण दिया गया, उसमें कहा गया था कि समय-सीमा पार करने की वजह से उनके शो को बीच में बंद करना पड़ा. हालांकि, उनके क़रीबी जानते थे कि सरकार की टाइमिंग काफी अच्छी थी. इस शो के बाद P. C Sorcar काफ़ी चर्चा में आए थे. उस शो को उनके जीवन का टर्निंग प्वाइंट कहा जाता है.   

पी.सी सरकार की मौत  

PC Sarkar
Source: bbc

शोज़ के लिए P. C Sorcar को काफी ट्रैवल करना पड़ता था. एक वक़्त ऐसा आया कि डॉक्टरों ने उन्हें ट्रैवल न करने की सलाह दी. लेकिन, सरकार ने उनकी बात न मानी और जापान के लिए रवाना हो गए. 6 जनवरी 1970 को सरकार ने जापान के Shibetsu शहर में अपना इंद्रजाल का शो किया. लेकिन, जैसे ही बाहर निकले उन्हें दिल का दौरा पड़ा और उनकी मौत हो गई. इस तरह दुनिया में अपने जादू का डंका बजाने वाले पी.सी सरकार दुनिया को अलविदा कहकर चले गए.