Important Leaders of 1857 Revolt: 1857 के विद्रोह को सिपाही विद्रोह या भारत का प्रथम स्वतंत्रता संग्राम भी कहा जाता है. ये 10 मई 1857 को मेरठ में ब्रिटिश ईस्ट इंडिया कंपनी की सेना के विद्रोह के रूप में शुरू किया गया था. ये विद्रोह पटना से लेकर राजस्थान की सीमा तक पूरे क्षेत्र में फैल गया था. 


इन क्षेत्रों में विद्रोह के मुख्य केंद्र दिल्ली, बिहार, कानपुर, लखनऊ, बरेली, झांसी, ग्वालियर और आरा रहे. 1857 से पहले भी कई छोटे-मोटे विद्रोह अंग्रेज़ी सेना के खिलाफ़ होते रहे, लेकिन ये काफ़ी बड़ा था, क्योंकि ये उस समय के बड़े नायकों (Important Leaders of 1857 Revolt) के अंतर्गत लड़ा गया था. 

हालांकि, ये विद्रोह विफ़ल रहा, लेकिन इसने अंग्रेज़ी सेना की जड़े हिलाकर रख दीं थी. इस बड़े विद्रोह से उन्हें भारत की असल ताक़त का अंदाज़ा हो गया था. आइये, इसी क्रम में हम आपको दिखाते हैं 1857 के उन मुख्य नायकों की तस्वीरें, जिन्होंने इस बड़े विद्रोह का नेतृत्व किया.     

आइये, अब विस्तार से नज़र डालते हैं तस्वीरों (Important Leaders of 1857 Revolt) पर. 

1. मंगल पांडे, जब वे पश्चिम बंगाल के बैरकपुर में तैनात थे, तब उन्होंने यहीं से अंग्रेज़ी सेना के खिलाफ़ विद्रोह शुरू कर दिया था. इसी विद्रोह से 1857 की लड़ाई की चिंगारी मिली थी. 

mangal pandey
Source: news9live

2. बहादुर शाह ज़फ़र, जिन्होंने दिल्ली में 1857 के विद्रोह का नेतृत्व किया था. 

bahadur shah jafar
Source: williamdalrymple

3.  लखनऊ से बेगम हजरत महल इस विद्रोह का नेतृत्व किया था. लखनऊ से बिरजिस कादिर, अहमदुल्ला (अवध के पूर्व नवाब के सलाहकार) ने भी समर्थन दिया था. 

Begum Hazrat Mahal
Source: knocksense

4. कानपुर से नाना साहेब नेतृत्व किया था. वहीं, इनके साथ राव साहब (नाना के भतीजे), तांतिया टोपे, अजीमुल्ला ख़ान (नाना साहब के सलाहकार) भी खड़े थे. 

nana saheb
Source: fineartamerica

5. मध्य प्रदेश के झांसी से रानी लक्ष्मीबाई ने इस विद्रोह का समर्थन किया और अंग्रेज़ों से लड़ते-लड़ते वो वीरगति को प्राप्त हुईं. 

Rani Laxmibai
Source: postoast

ये भी पढे़ं: जानिए आख़िर क्या है 1857 की क्रांति के हीरो नाना साहेब पेशवा की मौत का रहस्य?

6. बिहार से कुंअर सिंह 

kunwar singh
Source: wikipedia

7. बनारस और इलाहबाद (अब प्रयागराज) से मौलवी लियाक़त अली

Maulvi Liaquat Ali
Source: twitter

8. फ़ैज़ाबाद से मौलवी अहमदुल्लाह, जिन्होंने अंग्रेज़ी सेना के खिलाफ़ इस विद्रोह को जिहाद का नाम दिया था.  

maulavi ahmadullah
Source: navbharattimes

9. फ़र्रुखाबाद से तफ़ज्जुल हुसैन ख़ान

Tafazzul Hussain Khan
Source: wikipedia

10. बरेली से ख़ान बहादुर ख़ान 

khan bahadur khan
Source: uniinfos

ये भी पढ़ें: 1857 के विद्रोह से पहले के वो 5 स्वतंत्रता सेनानी जिन्होंने कभी अंग्रेज़ों के आगे घुटने नहीं टेके

11. ग्वालियर से तात्या टोपे 

tantya Tope
Source: webdunia

12. दिल्ली से जनरल बख्त ख़ान

General Bakht Khan
Source: quora

13. असम से मनीराम दीवान 

manram diwan
Source: wikipedia

14. लाला प्रताप सिंह, जो कलाकांकर के बिसेन राजपूत वंश से संबंध रखते थे. 

lal pratap singh
Source: wikipedia

इनके अलावा भी और भी कई नेता (Important Leaders of 1857 Revolt) थे, जिन्होंने 1857 के विद्रोह का नेतृत्व किया, जैसे बिजनौर से मोहम्मद ख़ान, मुरादाबाद से अब्दुल अली ख़ान, मंदसौर से फ़िरोज़ शाह, असम से कांडापरेश्वर सिंह, ओडिशा से सुरेंद्र शाही और उज्वल शाही, राजस्थान से जयदयाल सिंह और हरदयाल सिंह, गौरखपुर से गजधर सिंह और मथुरा से सेवी सिंह और कदम सिंह.