Vallabhbhai Patel Rare Pictures : भारत के ‘लौह पुरुष‘ कहे जाने वाले सरदार वल्लभ भाई पटेल (Sardar Vallabhbhai Patel) आज़ाद भारत के पहले गृह मंत्री थे. उनको भारत गणराज्य के निर्माण के लिए पूर्व स्वतंत्र भारत में सभी 562 रियासतों का विलय करने का क्रेडिट दिया जाता है. वो सरदार पटेल ही थे, जिन्होंने भारत की आज़ादी के संघर्ष की लड़ाई का अग्रिम पंक्ति से नेतृत्व किया. 

आज हम आपको देश के इस महान स्वतंत्रता सेनानी की कुछ दुर्लभ तस्वीरें दिखाएंगे. 

Vallabhbhai Patel Rare Pictures

  1. सरदार पटेल पूरी तरह धरती से जुड़े हुए व्यक्ति थे. उनके अच्छे व्यवहार के चलते उन्होंने बड़ी आसानी से ग़रीबों के दिल में जगह बना ली थी.
indiatimes

2. वल्लभ भाई पटेल का जन्म एक किसान के परिवार में हुआ था. वो अपने पिता के साथ खेती में भी हाथ बटाया करते थे.

indiatimes

3. सरदार वल्लभभाई पटेल के साथ 9 जुलाई 1939 को बॉम्बे के बेलासिस रोड पर केमिकल, इंडस्ट्रियल और फार्मास्यूटिकल लैब का दौरा करते हुए महात्मा गांधी.

indiatimes

ये भी पढ़ें: 10 फ़ैक्टस जो हमें याद दिलाएंगे कि सरदार वल्लभभाई पटेल ‘लौह पुरुष’ क्यों हैं

4. महात्मा गांधी, कस्तूरबा गांधी और सरदार वल्लभभाई पटेल समेत आज़ादी के लीडर्स 1938 में कांग्रेस अधिवेशन अटेंड करने के लिए गुजरात आते हुए.

indiatimes

5. कांग्रेस नेता मौलाना अबुल कलाम आज़ाद, सरदार वल्लभभाई पटेल, ख़ान अब्दुल गफ़्फ़ार ख़ान, भूलाभाई देसाई और केएम मुंशी की 1 जनवरी 1947 के दौरान की एक मीटिंग की तस्वीर.

indiatimes

6. 1938 में हरिपुरा कांग्रेस सेशन के दौरान बाकी स्वतंत्रता सेनानियों के साथ सुभाष चंद्र बोस, सरदार वल्लभभाई पटेल और सरोजिनी नायडू.

indiatimes

7. 17 दिसंबर 1938 को नेशनल प्लानिंग कमिटी को संबोधित करते हुए सुभाष चंद्र बोस. यहां सरदार वल्लभ भाई पटेल और जवाहरलाल नेहरू भी मौजूद थे.

8. भारत के लौह पुरुष सरदार वल्लभभाई पटेल, पूर्व प्रधान मंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू और उनकी बेटी इंदिरा गांधी भारत की आजादी के तुरंत बाद बॉम्बे में एशियाई क्षेत्रीय सम्मेलन (एआरसी) के प्रतिनिधियों के स्वागत समारोह में.

indiatimes

9. हरिपुरा कांग्रेस सेशन में 20 फरवरी 1938 को प्रदर्शनी के उद्घाटन के दौरान म्यूज़िकल कॉन्सर्ट सुनते हुए महात्मा गांधी और सरदार वल्लभ भाई पटेल.

indiatimes

10. उप प्रधानमंत्री सरदार पटेल का 17 जनवरी 1949 को बंबई में स्वागत किया गया.

indiatimes

11. सरदार पटेल 19 सितंबर 1948 को बंबई में एक पब्लिक मीटिंग को संबोधित करते हुए.

indiatimes

12. भारत के पहले गवर्नर जनरल, सी राजगोपालाचारी 1 जनवरी, 1948 को डॉ राजेंद्र प्रसाद और सरदार वल्लभभाई पटेल से बात करते हुए.

13. 22 जनवरी, 1948 को अहमदाबाद हवाई अड्डे पर गार्ड ऑफ़ ऑनर का निरीक्षण करते हुए तत्कालीन केंद्रीय गृह मंत्री और भारत के उप प्रधान मंत्री सरदार वल्लभभाई पटेल.

indiatimes

14. सरदार वल्लभ भाई पटेल 04 जून 1949 को देहरादून में भारतीय सेना अकादमी के कैडेटों द्वारा मार्च पास्ट का अवलोकन करते हुए.

indiatimes

15. सरदार वल्लभभाई पटेल ने 20 मई, 1950 को बंबई के हरकिसानंद अस्पताल के सिल्वर जुबली सप्ताह का उद्घाटन किया.

indiatimes

ये भी पढ़ें: एक भारतीय स्वतंत्रता सेनानी के हाथों प्रज्वलित वो सिद्ध ‘अखण्ड दीपक’, जो 1926 से लगातार जल रहा है

16. एक महिला ने 31 अक्टूबर 1948 को बॉम्बे में उनके आवास पर, माथे पर कुमकुम ‘तिलक’ लगाकर उप प्रधान मंत्री सरदार वल्लभभाई पटेल को उनके 74वें जन्मदिन पर बधाई दी थी.

Vallabhbhai Patel Rare Pictures
indiatimes

17. सरदार वल्लभ भाई पटेल 01 जून, 1949 को देहरादून की भारतीय सेना अकादमी का दौरा करते हुए.

indiatimes

18. भारत के राष्ट्रपति, डॉ राजेंद्र प्रसाद 27 जनवरी 1950 को नई दिल्ली के गवर्नमेंट हाउस में भारत के पहले गृह मंत्री, सरदार वल्लभभाई पटेल को पद की शपथ दिलाते हुए.

indiatimes

19. 16 दिसंबर 1950 को बंबई में सरदार वल्लभ भाई पटेल के मृत शरीर वाली अर्थी को सैनिक द्वारा बिड़ला हाउस से बाहर लाया जा रहा है.

20. दयाभाई पटेल अपनी बहन मणिबेन पटेल के साथ 31 जनवरी 1950 को नई दिल्ली के विलिंगडन हवाई क्षेत्र में अपने पिता सरदार वल्लभभाई पटेल की अस्थियां कलश में ले जाते हुए.

indiatimes

ये तस्वीरें आइकॉनिक हैं.