छोटे बच्चों से लेकर बड़े-बुज़ुर्गों तक सबकी जुबान पर आजकल एक ही स्वाद है, वो स्वाद है Pulse का. काले-हरे रैपर्स में लिपटी हुई Mango-Flavoured टॉफ़ी किसे नहीं भाती. खट्टे-मीठे अनोखे स्वाद वाली इस टॉफ़ी ने सबका दिल जीत लिया है. इस टॉफ़ी ने जितने कम प्रयासों में लोगों के मुंह तक अपने स्वाद की पहुंच बनाई है, वो सबके बस की बात नहीं है.

2015 में लॉन्च Pulse ने दो साल के भीतर ही कामयाबी का शिखर हासिल कर लिया है. आपको ये जानकर आश्चर्य होगा कि इन दो सालों में Pulse Candy ने बिक्री में 300 करोड़ का आंकड़ा पार लिया है. इतना ही नहीं, इस आंकड़ें तक पहुंचकर Pulse ने सालों से मार्केट में जमे कई ब्रांड्स जैसे Coca Cola और Oreo को मात भी दे दी है.

नीचे की तस्वीर में देखिये Pulse ने बाकियों के मुक़ाबले में कितनी तरक्की की.

आपको बता दें कि Pulse को बनाने वाली कंपनी DS ग्रुप नॉएडा में है, जो रजनीगंधा पान मसाला, पास-पास माउथ फ्रेशनर और पानी की बोतल भी बनाती है. सबसे पहले इसे राजस्थान, गुजरात और दिल्ली में ही लॉन्च किया गया था. पर इसकी जबरदस्त सफ़लता की वजह से इसे देशभर में लॉन्च कर दिया गया. ये इसकी सफ़लता ही थी कि एक साल के भीतर इसका Guava फ्लेवर भी लॉन्च किया गया.

Source: ytimg

हमारे देश में Candy मार्केट लगभग 6600 करोड़ रुपये का है. इस मार्केट में कई कम्पनियां ऐसी हैं, जो सालों से यहां अपना प्रभुत्त्व बनाये बैठी हैं और कुछ जो इसको कड़ी टक्कर देने वाली हैं. Pulse को जब मार्केट में चेक करने के लिए उतारा गया था, तभी इसकी वैल्यू इतनी हो गई थी कि बिना किसी मार्केटिंग और पब्लिसिटी के लोग इसकी कीमत से 50 परसेंट ज़्यादा तक देने को तैयार थे. विशेषज्ञों ने इसकी सफ़लता का सारा श्रेय इसके बेमिसाल स्वाद को दिया है. इनका ये भी मानना है कि इसकी पब्लिसिटी इसको खाने वालों ने ही की है. Mouth-To-Mouth पब्लिसिटी का इससे बेहतरीन Example देखने को नहीं मिल सकता. अब ये कुछ कैंडीज़ से ही पीछे है, जो मार्केट में दशकों से अपनी पैठ बनाये हुए हैं. इन कैंडीज़ में Parley Mango Bite और Alpenlibe है.