90s Kids Funny Things: 90s के दौर में पैदा हुए बच्चे बड़े मासूम थे. कभी बेचारे दूरदर्शन पर रामायण देख हनुमान जी की तरह मुंंह फुलाए घूमते थे तो कभी ‘चंद्रकांता’ देख ‘यक्कू पिताजी’ कह इधर-उधर नाचते रहते थे. जीवन में रस के नाम पर सिर्फ़ रसना और मंजन के नाम पर बस लाल दंत मंजन था.

gifer

मोबाइल और सोशल मीडिया की बात तो छोड ही दो. यहां तो वीडियो गेम के नाम पर भी बस मारियो था. ऊपर से घुमाने के नाम पर घर वाले या तो चिड़ियाघर ले जाते थे या फिर भरी दुपहरिया में ले जाकर किसी पार्क में बैठा देते थे.

ऐसे में रंगबाज़ी पेलने के हमारे पास ज़्यादा तरीके थे नहीं. फिर भी किसी तरह मैनेज करते थे. कैसे करते थे? अमा यही बताने तो आए हैं. न..न.. 90s Kid को नहीं. वो तो आज बस बैठकर नॉस्टेलजिया फ़ील करेंगे. बताना तो 21वीं सदी की फ़सल को है. तो चलिए जानते हैं उन चीज़ों के बारे में जो आज भले ही आपको मूर्खता लगे, मगर 90s के मासूम रंगबाज़ों को बहुत Cool लगती थीं.

तो चलिए देखते हैं किन तरीकों से 90s के बच्चे रंगबाज़ बनते थे. (90s Kids Funny Things)

1.कॉलर खड़े कर घूमना

90s की सबसे छिछोरी हरकतों में से एक था. बेमतलब की रंगबाज़ी थी. मगर इसका असर इतना था कि एक समय टीशर्ट्स तक खड़े कॉलर में बनने लगी थीं.

scoopwhoop

2.आस्तीन खोल कर चलना

कुछ चीज़ें फ़ैशन होती हैं या रंगबाज़ी, समझ नहीं आता. अब शर्ट की आस्तीन खोलने का मामला भी ऐसा है. सोचिए आज अगर शर्ट की आस्तीन के बटन खुले हों तो कितना उलझन लगेगी. मगर 90s में ये कूल फ़ैशन था.

bollywoodlife

3.बेल्ट को पैंट की जेब में खोसना

महीन कमर पर पैंट न सरके इसलिए अपन बेल्ट लगाते हैं. 90s में भी ऐसा ही करते थे. बस फ़र्क इतना था कि बेल्ट लगाने के बाद उसके पट्टे को जेब में खोस लिया करते थे. क्यों? कसम से इसका रहस्य CID वाले भी न सुलझा पाएंगे.

ftcdn

4.हाथ छोड़ कर साइकिल चलाना

साइकिल हैंडल छोड़ कर चलाना बहुत तूफ़ानी काम लगता था. हालांकि, इस चक्कर में कई बार हथेलियां छिली और मुंह टूटे हैं. (90s Kids Funny Things)

Youtube

5.शक्तिमान की ड्रेस पहनना

ये तो मतलब सपना ही होता था. मां-बाप के आगे हम लोट जाते थे कि बस इसे दिला दो, मगर कभी मुराद पूरी न हुई. क्योंकि, बैल बुद्धि हम थे, पेरेंट्स नहीं. मगर जिनके मां-बाप भावनाओं में बहकर दिला देते थे, वो तो मतलब पूरे मोहल्ले में गदर काट देता था.

imimg

6.चप्पल हाथ में लेकर दौड़ना

ये रंगबाज़ी सबने की है. जहां भागना पड़ा, चप्पल सट से पैरों से निकल कर हाथ में आ जाती थी. पता नहीं क्या मिलता था तब.

7.दांतों के बीच माचिस की तीली रखना

रंगबाज़ी की ये चुल्ल सुनील शेट्टी की देन थी. उसे ही देख कर हम भी अपने दांतों में तीली दबा कर घूमते थे. (90s Kids Funny Things)

8. साइकिल के कैरियर पर खड़े होना

साइकिल के साथ वाक़ई कई तरह की रंगबाज़ियां जुड़ी हैं. हैंडल छोड़ना तो बता ही दिया मगर कुछ ऐसे भी थे जो कैरियर पर खड़े हो जाते थे. मेरे तो घुटने में आज भी इस रंगबाज़ी के सुबूत मिल जाएंगे.

wikimedia

9.बीच की मांग निकालना

जी हां, शीशे के सामने ये काम सबने घंटो किया है. एकदम खड़ा कंघा कर बीच से मांग निकालना, ताकि दुनिया हमें बच्चा नहीं बड़ा समझे और रंगबाज़ भी. तेरे नाम आने के बाद तो सबने छीछालेदर ही मचा दी थी.

Twitter

10.स्वीटी सुपारी खाना

उस समय गुटखा आज जितना पॉपुलर नहीं था. लोग या तो पान खाते थे या फिर तंबाकू. बच्चे दोनों ही नहीं खाते थे तो कंपनियों को चिंता हुई कि भइया भविष्य के नए ग्राहक कैसे जुटेंगे. तो स्वीटी सुपारी आ गई. सारे बच्चे यही खाकर अपने को बड़ों जैसा फ़ील करा लेते थे.

projecteagle

ये भी पढ़ें: 80s के बच्चों लिए अप्पू घर “Wonderland” से कम नहीं था, देखें Appu Ghar की 10 प्यारी तस्वीरें

तो भइया इनमें से आपने कौन-कौन सी रंगबाज़ी की है?