प्याज़ की बढती कीमतों ने देशभर में हाहाकार मचा रखा है. आलम ये है कि कई जगहों पर इसके दाम 200 रुपये तक पहुंच चुके हैं. इसी कारण कई रेस्टोरेंट्स प्याज़ पराठा और डोसा बनाना तक बंद कर चुके हैं. ऐसे हालातों में अगर कोई शांति बनाये हुए है, तो वो हैं जैन लोग.

अब जैन लोग प्याज़ खाते नहीं, इसलिये उन्हें इसकी बढ़ती कीमतों से फ़र्क भी नहीं पड़ता. हांलाकि, उन्हें फ़र्क पड़े न पड़े, पर मीम के महारथियों को ज़रूर पड़ता है. इसलिये इधर प्याज़ के दाम बढ़े जा रहे हैं, उधर मीम.

जैनियों पर बने मीम को देख कर थोड़ा हंस लो, क्योंकि पता नहीं प्याज़ कब तक रुलाती रहेगी:

हांजी अगर आपको भी अपने जैन दोस्त से कोई ज्ञान मिला है, तो कमेंट सेक्शन में पोस्ट कर दो.

Humor के और आर्टिकल पढ़ने के लिये ScoopWhoop Hindi पर क्लिक करें.

Design Credits: Nupur Agrawal & Aprajita Mishra