अभी तक दुनिया में ऐसे बहुत से Case हुए हैं, जब किसी 'Deformed' जानवर को लोगों ने दानव/ राक्षस और भूत समझा हो. ऐसा कई बार ज्ञान और पढ़ाई के अभाव में होता है. इन लोगों को तर्क दे कर समझाया जा सकता है कि ऐसा किसी श्राप की वजह से नहीं, बल्कि प्राकृतिक तरीके से हुआ है. लेकिन तब क्या हो, जब कोई इंसान का बच्चा किसी Deformity के साथ पैदा हो?

उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ में करिश्मा और अरशद के घर पैदा हुए इस बच्चे को देख कर भी लोगों ने कुछ ऐसे ही React किया. इस बच्चे की नाक और मुंह नहीं थे और आंखें बाहर निकली हुई थीं.

बच्चे के पिता का कहना है कि वो नॉर्मल डिलीवरी से ही हुआ. वो बच्चे की ख़बर सुन कर बेहद ख़ुश था लेकिन जब उसने उसके चेहरे की तरफ़ देखा, तो उसके होश उड़ गए. उसके बच्चे की आंखें पूरी तरह बाहर निकली हुई थी. बच्चे के जन्म के बाद से ही अरशद के घर गांववालों की भीड़ लगी रहती है.

इस पूरी घटना को लेकर अरशद और उसके परिवार का Response काफ़ी Positive है. उनका कहना है कि उनका बच्चा जिस भी रूप में पैदा हुआ, वो ऊपर वाली की मर्ज़ी है और वो अपने बच्चे को जितना हो सके, अच्छी परवरिश देंगे.

अरशद कहते हैं, 'उपरवाले ने उसे हमें दिया है. हम उसे यूं ही नहीं छोड़ेंगे. हम उसका साथ तब तक देंगे, जब तक वो ज़िंदा है.'

एक छोटे से शहर में पेंटर का मामूली सा काम करने वाला आदमी जब इतनी ख़ूबसूरत सोच रख सकता है, तो हम क्यों नहीं?

Source: Metro.co.uk