कॉमिक बुक्स हमें हमारे बचपन की याद दिलाती हैं और उनके कैरेक्टर्स हमारे पुराने साथी की. इन कॉमिक्स के बारे में सोचते ही कई सारे किरदार आंखों के सामने आ जाते हैं नागराज, सुपर कमांडो ध्रुव, परमाणु और भी बहुत से कैरेक्टर्स जो हमें कल्पनाओं के संसार में ले जाते हैं. मगर आज हम भारतीय कॉमिक्स के उन पॉवरफ़ुल कैरेक्टर्स की बात करेंगे जिनके ऊपर कोई फ़िल्म या सीरीज़ बननी चाहिए.

1. नागराज

nagraj
Source: comicvine

एक 'इछादारी नाग' और ऐतिहासिक 'विषमनुष्य'. नागराज की कहानियों में पौराणिक कथाओं, कल्पना और जादू का एक अच्छा मिश्रण हैं, जिसकी वजह से यह कैरेक्टर हर बच्चे का पसंदीदा था. नागराज का हरा शरीर और उसके ख़ास हेयर स्टाइल की तो बात ही कुछ अलग है. इस पर क्या ग़ज़ब की Sci-Fi फ़िल्म बनेगी. 

2. भोकाल 

Bhokal
Source: rajecomic

भोकाल 'राज कॉमिक्स' में दिखने वाला एक सुपरहीरो था. भोकाल परीलोक का एक योद्धा था जिसके पास सुपर-नेचुरल शक्तियां थी. उसकी तलवार जो किसी भी चीज़ को काट सकती थी और समय आने पर 'ज्वाला शक्ति' भी निकाल सकती थी. एक ऐसी ज्वाला जो कुछ ही क्षण में किसी भी चीज़ को जला दे. 

3. परमाणु   

Parmanu comic
Source: comicvine

'राज कॉमिक्स' के सबसे पसंदीदा कैरेक्टर्स में से एक परमाणु था. परमाणु कोई ऐसा सुपरहेरो नहीं था जिसे विरासत में शक्तियां मिली हों या उसके अंदर हो. उसकी सारी शक्तियां उसके सूट में थी जो उसे एक बेहद ही छोटे साइज़ में बदल देता था. (बिलकुल Ant Man की तरह) उसका सूट उसे परमाणु हेरफेर कर अलौकिक करतब करने की शक्तियां देता था.

4. सुपर कमांडो ध्रुव

super commando dhruva
Source: deviantart

ध्रुव कॉमिक बुक की दुनिया में शायद सबसे वास्तविक सुपरहीरो था जिससे बच्चे रिलेट कर सकते थे. निर्माता ध्रुव को बच्चों के लिए एक आदर्श बनाना चाहते थे. वह बच्चों को यह दिखाना चाहते थे कि मज़बूत होने के साथ-साथ तमीज़दार होना भी ज़रूरी है. ध्रुव के पास सुपरनेचुरल पॉवर थी जिससे वो कई जानवरों से बात कर सकता है.   

5. डोगा 

doga
Source: scoopwhoop

डोगा 1992 में 'राज कॉमिक्स' द्वारा बनाया गया एक मशहूर किरदार था जो बिना किसी सुपर नेचुरल शक्तियों के लड़ता था. वह सूरज नाम का एक अनाथ युवा था जिसने जीवन में बहुत विषम परिस्थितियों का सामना किया था. उसने बचपन में इतना कुछ झेला था कि बड़े होकर उसने ख़ुद अपने शहर को अपराध और भ्रष्टाचार से मुक्त करने का फ़ैसला किया. जिसके लिए वो डॉग मास्क पहनकर अपनी असली पहचान छिपाता और असामाजिक तत्वों को सबक सिखाता था. डोगा हमेशा कहता था 'डोगा मुश्किलों को हल नहीं करता उन्हें जड़ से उखाड़ देता है.'

6. इंस्पेक्टर स्टील 

inspector steel
Source: comicvine

एक जानलेवा दुर्घटना में अपने शरीर के कई हिस्से और अंग खोने के बाद इंस्पेक्टर अमर का दिमाग़ एक मशीनी बॉडी में रख दिया जाता है. जिसके बाद वो एक Cyborg( एक जीवित प्राणी जिसकी शक्तियों को कंप्यूटर या मशीनी अंगों द्वारा बढ़ाया जाता है) बन जाता है. अब उसके पास कई सारी शक्तियां आ जाती हैं जैसे X-Ray दृष्टि, स्वचालित गोलियां एवं रॉकेट फ़ायरिंग उपकरण और भी कई उपकरण. साधारण गोलियां और बॉम्ब उसका कुछ भी नहीं कर सकते हैं.

7. शक्ति

shakti comic
Source: comicvine

'राज कॉमिक्स' द्वारा प्रकाशित किया गया एक और कॉमिक किरदार जो सुपरहीरो नहीं सुपर'हीरोइन' है. 'चंदा' एक साधारण गृहिणी है, जिसे एक दिन पता चलता है कि उसका पति अपनी बेटियों को गर्भ में ही मार रहा है. इस अन्याय से क्रोधित होकर चंदा 'देवी काली' की मदद से 'शक्ति' में बदल जाती है और अपने पति से बदला लेती है. चंदा एक सामाजिक कार्यकर्ता बन जाती है उसका दूसरा रूप 'शक्ति' उन सभी महिलाओं की मदद करता है जो मुसीबत में होती हैं. 

8. अंगारा 

angara
Source: indiancomicology

हिन्द महासागर में एक निर्जन द्वीप होता है जिसका नाम 'अंगारा द्वीप' है. वहां कई जानवर रहते हैं जिनके देवता डॉ. कुणाल होते हैं. एक दिन अमेरिकी सैनिक हमला कर वहां तबाही मचा देते हैं. डॉ. कुणाल छः जानवरों के साथ वहां से बच निकलते हैं. बाक़ी जानवरों की रक्षा के लिए उन छः जानवरों के बलिदान से वह 'अंगारा' नाम का एक शक्तिशाली सुपर हीरो बनाते हैं. अंगारा का शरीर, जानवरों के शरीर के अंगों से बना होता है और वह बहुत शक्तिशाली होता है. 

 9. तिरंगा 

tiranga
Source: comicvine

तिरंगा एक भारतीय सुपरहीरो है जो तिरंगे को कपड़े की तरह पहनता है. उसकी गुप्त पहचान अभय देशपांडे है, जिन्हें भारत देशपांडे के नाम से भी जाना जाता है. वह अपने आधुनिक तिरंगा जैसे दिखने वाली कवच से देशवासियों को असामाजिक तत्वों से बचाता है. तिरंगा, एक जासूस के रूप में काम करता है और बहुत बुद्धिमान है.

10. भेड़िया

bheriya raj comic
Source: comicvine

भेड़िया की कहानी तकरीबन पचास हज़ार साल पूर्व, वुल्फ़ानों नामक एक राज्य से शुरू होती है. भेड़िया असम के जंगलों में रहता है और वहां के वनवासियों की रक्षा करता है. अपराधियों के बीच काल के तौर पर लोग उसे "जंगल का ज़ल्लाद" के नाम से पुकारते थे. भेड़िया एक धुरंधर योद्धा, कई प्राचीन युद्ध कला का जानकार और बेहद बुद्धिमान भी है.