भारत का इतिहास सबसे निराला है, जिसे यहां के म्यूज़ियम में संभाल कर रखा है. इसके अलावा क़िताबों से भी इतिहास का बहुत पता चलता है. मगर कुछ म्यूज़ियम ऐसे हैं, जो बहुत ही विचित्र इतिहास का प्रतीक हैं. आज हम आपको भारत के उन्हीं Museums के बारे में बताने जा रहे हैं.

1. ब्रेन म्यूज़ियम, बैंगलुरू

Source: newindianexpress

-86 डिग्री सेल्सियस के ठंडे तापमान के बीच यहां 300 से ज़्यादा दिमागों को सुरक्षित रखा गया है. यहां पर न्यूरोडीजेनेरेटिव (Neurodegenerative) लक्षणों के साथ Schizophrenia के अलावा उन लोगों के भी दिमाग़ हैं, जो एक्सीडेंट में मारे गए हैं. इस बैंक का उद्देश्य केवल तंत्रिका विज्ञान के बारे में जागरूकता फैलाना है.

2. इंडियन म्यूज़ियम, कोलकाता

Source: kolkatatourism

पश्‍चिम बंगाल के कोलकाता में स्‍थित भारतीय संग्रहालय भारत के सर्वश्रेष्ठ संग्रहालयों में से एक है. यहां प्राचीन वस्तुओं, युद्धसामग्री, गहने, कंकाल, ममी, जीवाश्म और मुगल चित्र आदि का दुर्लभ संग्रह है. इसकी स्थापना डॉ. नथानियल वालिक नाम के डेनमार्क के वनस्पतिशास्त्री ने सन् 1814 में की थी.

3. शंकर इंटरनेशनल डॉल्‍स म्‍यूज़ियम, दिल्‍ली

Source: tourmyindia

शंकर इंटरनेशनल डॉल्‍स म्‍यूज़ियम, नई दिल्ली में स्थित है जिसे मशहूर कार्टूनिस्ट के. शंकर पिल्लई ने बनाया था. यहां विभिन्न परिधानों में सजी गुड़ियों का संग्रह है. ye विश्व के सबसे बड़े संग्रहों में से एक है. ये संग्रहालय बहादुर शाह ज़फ़र मार्ग पर चिल्ड्रेन बुक ट्रस्ट के भवन में स्थित है. इस गुड़िया घर को बनाने वाले शंकर गुड़ियों के शौक़ीन थे और वो जहां जाते थे वहां की गुड़ियां ले आते थे, ऐसा करते-करते उनके पास 500 तरह की गुड़ियां हो गईं थीं. एक बार पं. नेहरू अपनी बेटी इन्दिरा गांधी के साथ प्रदर्शनी देखने गए और वो उन्‍हें बेहद पसंद आई उस समय शंकर ने अपनी परेशानी उन्‍हें बताई और नेहरू जी ने उनके लिए एक स्थाई घर का सुझाव दिया. इस तरह unhen गुड़ियों को rakhne के लिए 'गुड़िया घर' नाम का एक अनोखा घर मिल गया. 5184.5 वर्ग फ़ुट आकार वाले इस संग्रहालय में 160 से अधिक कांच के केस में गुड़ियां सजी हैं.

4. सुलभ इंटरनेशनल म्यूज़ियम ऑफ़ टॉयलेट्स, नई दिल्ली

Source: theculturetrip

सुलभ इंटरनेशनल शौचालय म्यूज़ियम दिल्ली में स्थित है जो स्वच्छता और शौचालयों के वैश्विक इतिहास को समर्पित है. टाइम पत्रिका के अनुसार, ये संग्रहालय विश्व के सबसे विचित्र संग्रहालयों में से एक है. यहां पर आपको शौचालय पर फ़नी कार्टून और चुटकुले देखने को मिलेंगे. इस म्यूज़ियम में 2500 ईसा पूर्व के रोमन सम्राटों द्वारा इस्तमाल किए गए सोने और चांदी के शौचालयों से लेकर आज के शौचालयों तक का पूरा इतिहास संग्रहीत हैं.

5. वीचर बर्तन म्यूज़ियम, अहमदाबाद

Source: gujarattourism

ये अनोखा म्यूज़ियम भारतीय शिल्पकारों की कला और सांस्क-तिक विरासत का एक हिस्सा है. इस म्यूज़ियम में 4,000 से अधिक बर्तन हैं. इनमें 1,000 साल पुराने जग से लेकर मॉर्डन कांच के बर्तन तक और कांसे और पीतल से लेकर जर्मन सिल्वर तक हर धातु के बर्तन शामिल हैं.

6. मायोंग ब्लैक मैजिक और जादू टोना म्यूज़ियम, गुवाहाटी

Source: wordpress

ब्लैक मैजिक और जादू टोना म्यूज़ियम, मायोंग गांव में है. मायोंग को जादू टोना और काले जादू की उत्पत्ति भूमि माना जाता है. माना जाता है कि स्थानीय लोग यहां और वहां की अलौकिक गतिविधियों में सक्रिय रूप से संलग्न हैं. पूरे गांव में ऐसी अफ़वाहे हैं कि यहां के लोग हवा में गायब हो जाते हैं, तो कुछ जानवरों में बदल जाते हैं. इसके अलावा, यहां आपको खोपड़ी मिलेगी, विशेष उपकरण जो टोना और हाथ की बनी गुड़िया के लिए उपयोग किए जाते हैं.

बहुत ही विचित्र म्यूज़ियम है ये सारे. Life से जुड़े आर्टिकल पढ़ने के लिए क्लिक करें.