रिश्ते बनाना आसान होता है, लेकिन इसे निभाना बहुत मुश्किल होता है. क्योंकि हर रिश्ते की अपनी अलग सोच और अपनी अलग पहचान होती है. उसे समझना बहुत ज़रूरी होता है. क्योंकि किसी को अपने करियर से प्यार होता है, तो किसी को परिवार से. इसी प्यार के चक्कर में रिश्तों में नेगेटिव चीज़ें घर बना लेती हैं और पता भी नहीं चलता.

Source: gabrielruhl

क्या है Toxic Relationship?

Source: depositphotos

मनोविज्ञान विषेशज्ञ Lillian Glass, ने अपनी बुक Toxic People में Toxic Relationship के बारे में बताने की कोशिश की है. इसके अनुसार Toxic Relation वो होता है, जिसमें दो लोगों को आपसी सहमति नहीं होती है. जिसमें एक तरफ़ संघर्ष है, तो दूसरी तरफ़ Completion. मगर Toxic Relationship और Abusive Relationship में अंतर होता है.

किसी भी रिश्ते में Bad Energy से नकारात्मकता आती है. ऐसा किसी भी समय हो सकता है. चाहे वो बचपन की कोई घटना हो या कोई ट्रॉमा. किसी भी रिश्ते में डर और प्यार एक साथ नहीं रह सकते हैं. क्योंकि इससे रिश्ते अंदर ही अंदर ही खोखले होते जाते हैं.

आइए बताते हैं कौन से हैं वो 7 Signs, जो रिश्ते को खोखला करते हैं:

1. पूरे समय सिर्फ़ बहस होना

Source: picdn

अगर आप किसी बात से सहमत और उसे समझने को तैयार नहीं होते हैं, तो वो बहस का कारण बन जाता है. इससे सिर्फ़ अपमान और रिश्ते में खटास आती है.

2. एक दूसरे से शिकायत करते रहना

Source: relateinstitute

अगर कोई ग़लती हो जाए, तो उसे भूल जाना चाहिए, जो लोग ऐसा न करने की बजाय सिर्फ़ सामने वाले को नीचा दिखाते हैं, हर वक़्त शिकायतों की झड़ी लगाकर रखते हैं, तो उनके रिश्ते को डोर कमज़ोर होने लगते हैं.

3. जब कुछ भी शेयर करना बंद कर देते हैं

Source: bewiseprof

ऑफ़िस में कैसा रहा या आप में से कोई वर्किंग नहीं है, तो पूरा दिन कैसा बीता. ये सब शेयर करने से रिश्ता मज़बूत होता और एक-दूसरे के बारे में पता चलता है. जब आप ऐसा करना बंद कर देते हैं और एक-दूसरे को कुछ नहीं बताते तो इसका रिश्ते पर नकारात्मक असर होता है.

4. पार्टनर के साथ ख़ुशी न मिलना और असहज होना

Source: bustle

हम रिश्ते क्यों बनाते हैं? ताकि एक-दूसरे से सुख-दुख बांट सकें. उसके साथ रहने पर सहज महसूस कर सकें. जब ऐसा कुछ न रह जाए, तो वो रिश्ते के टूटने की शुरूआत होती है.

5. जब एक-दूसरे के एहसास अजनबी हो जाएं

Source: allure

जब आप अपने पार्टनर को दुखी देखकर भी उसे ताने दें. उसके दुख को न समझें. उसे सिर्फ़ उसकी ग़लतियां बताते रहें. इससे रिश्ते में नकारात्मकता आने लगती है.

6. एक-दूसरे के साथ निजी पल कम बिताना

Source: blogspot

एक-दूसरे की तारीफ़ और आपसी प्रेम ही रिश्ते को अटूट बनाता है, लेकिन जब वही पार्टनर आपको अच्छा न लगे. उसका साथ आपको खले और उसके साथ निजी पलों को भी बिताना असहज हो जाए, तो ये आपके रिश्ते की सबसे बड़ी हार है.

7. एक-दूसरे के लिए अच्छी और पॉज़िटिव बातें न करना

अपने पार्टनर की सफ़लता और असफ़लता पर उसे प्रोत्साहित न करना. उसके किसी अच्छे काम के लिए उसे कॉम्प्लिमेंट न करना. रिश्ते को खोखला कर देता है.

रिश्ता है, तो कसौटी भी होगी. उसे पार करके रिश्ते को नई दिशा देना ही ज़िंदगी है. अगर इन तरह के आर्टिकल में दिलचस्पी है, तो इसी तरह के और आर्टिकल पढ़ने के लिए क्लिक करें.