कोरोना के चलते कई परिवार बिछड़ गए हैं. उन्हें लॉकडाउन की वजह से अपने घरों से दूर भूखे-प्यासे रहना पड़ रहा है. दिन पर दिन कोरोना पीड़ितों की संख्या बढ़ती ही जा रही है. इससे बचने के लिए लोग पूरी एहतियात बरत रहे हैं मगर अभी भई कुछ ऐसे लोग हैं, जिनके पास कोरोना से बचने के लिए पर्याप्त साधन नहीं हैं, वो मास्क तक नहीं खरीद सकते. ऐसे लोगों के लिए मसीहा बनी हैं पंजाब के मोगा में रहने वाली 98 साल की गुरदेव कौर धालीवाल.

98 year old corona warrior gurdev kaur stitches masks for the needy.
Source: bhaskar

गुरदेव काफ़ी कमज़ोर और बूढ़ी हैं. आंखें भी अब साथ नहीं देती हैं. इन सब बातों की परवाह किए बिना वॉकर के सहारे चलने वाली गुरदेव रोज़ सुबह जल्दी उठकर पूजा करती हैं. फिर घंटों बैठकर ऐसे लोगों के लिए मास्क बनाती हैं, जो इन्हें खरीदने में असमर्थ हैं.

98 year old corona warrior gurdev kaur stitches masks for the needy.
Source: ndtv

गुरदेव कौर की बहू अमरजीत कौर ने बताया,

उनकी सास की आंखें काफ़ी कमज़ोर हैं उन्हें ठीक से दिखाई भी नहीं पड़ता है. इसके बावजूद वो पूरे जोश के साथ मास्क बनाती हैं. इनके इस अतुल्य काम के लिए राज्य के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने उन्हें ट्वीट कर धन्यवाद कहा.

अमरजीत ने फ़ोन पर ‘पीटीआई भाषा' को बताया,

हमारे मोहल्ले में कई सब्ज़ी बेचने वाले बिना मास्क के आते थे. हमने उनसे मास्क पहनने के लिए कहा तो उन्होंने बताया उनके पास मास्क खरीदने के पैसे नहीं है. इसके बाद ही हमने मास्क बनाकर ज़रूरतमंद लोगों को फ़्री में देने का फ़ैसला लिया.
98 year old corona warrior gurdev kaur stitches masks for the needy.
Source: bhaska

अमरजीत ने बताया,  

अब कई लोग हमारे घर मास्क लेने आते हैं. अब तो मेरी सास की मदद करने के लिए पड़ोसी भी आते हैं. कई लोगों ने मास्क बनाने के लिए कपड़े भी दिए हैं.
98 year old corona warrior gurdev kaur stitches masks for the needy.
Source: tribuneindia

आपको बता दें, पंजाब सरकार ने मास्क पहनना अनिवार्य कर दिया है. राज्य में अबतक कोरोना वायरस से संक्रमित पीड़ितों की संख्या 202 है.

Women और Life से जुड़े आर्टिकल ScoopWhoop हिंदी पर पढ़ें.