अलीगढ़ के एक मोटर मैकेनिक के बेटे ने अमेरिका में देश का नाम रौशन किया है. पिछले साल स्कॉलरशिप पर अमेरिका पढ़ने गए इस गुदड़ी के लाल ने वहां के हाईस्कूल की परीक्षा में टॉप किया है. उसने ये साबित कर दिया है कि अगर क़ाबिलियत हो तो ग़रीबी के पहाड़ को चीर कर भी सफ़लता हासिल की जा सकती है.

अमेरिका में भारत का डंका बजाने वाले इस स्टूडेंट का नाम है शादाब. उनके पिता यूपी के अलीगढ़ में पिछले 25 सालों से मोटर मैकेनिक का काम करते हैं. उनके घर की आर्थिक स्थिति ठीक नहीं है. 

Aligarh motor mechanic son tops at US high school
Source: hindustantimes

उनके बेटे शादाब ने पिछले साल Kennedy-Lugar यूथ एक्सचेंज स्कॉलरशिप जीती थी. जिसमें उसको अमेरिका में पढ़ाई करने के लिए 20 लाख रुपये मिले थे. उसके बाद शादाब अमेरिका चला गया और वहां ख़ूब मन लगाकर पढ़ाई की.

Aligarh motor mechanic son tops at US high school
Source: indianewengland

इस साल हाईस्कूल की परीक्षा में बैठे अपने स्कूल के 800 छात्रों में टॉप कर शादाब ने सबको हैरान कर दिया. इसी साल उसको फ़रवरी में स्टूडेंट ऑफ़ द मंथ भी चुना गया था. शादाब ने ANI से बात करते हुए कहा- 'मेरे घर के हालात अभी भी ठीक नहीं हैं. मैं अपने पैरेंट्स को सपोर्ट करना चाहता हूं और उनका नाम पूरी दुनिया में रौशन करना चाहता हूं.'

Aligarh motor mechanic son tops at US high school
Source: bhaskar

इस स्कॉलरशिप के लिए भारत सरकार द्वारा चुने जाने के लिए शादाब ने धन्यवाद भी कहा है. उसके पिता का नाम अरशद है. वो चाहते हैं कि उनका बेटा पढ़ लिख कर आईएएस अधिकारी बने और देश की सेवा करे.

Aligarh motor mechanic son tops at US high school
Source: yesprograms

वहीं शादाब का सपना है कि वो संयुक्त राष्ट्र में मानवाधिकार अधिकारी बन लोगों की सेवा करे. इसके लिए वो जी तोड़ मेहनत भी कर रहा है. 

Life से जुड़े दूसरे आर्टिकल पढ़ें ScoopWhoop हिंदी पर.