भारत एक ऐसा देश जहां हर धर्म के लोग रहते हैं. हर धर्म, हर मज़हब को देश में समान अधिकार प्राप्त हैं. पर फिर भी कुछ लोग अपने फ़ायदे के लिए धर्म के नाम पर आपसी मतभेद पैदा करते हैं. कुछ दिनों पहले सर्फ़ एक्सल के एक विज्ञापन को लोगों का विरोध प्रदर्शन झेलना पड़ा था, जबकि उसमें ऐसा कुछ भी नहीं था. पर लोगों के पास ज़्यादा ही टाइम है ये सब करने के लिए कि उनको उस ऐड में लव-जिहाद दिख गया कहां से पता नहीं. होली के मौके पर निकाला गया ये ऐड धार्मिक सौहार्द्र और प्रेमभावना को ही दिखा रहा है. पर लोगों को तो चुल मची रहती है, न. खैर, ऐसे लोगों को करारा जवाब दे रही है एक फ़ोटो और चार दोस्तों की छोटी सी कहानी.

आगे कुछ बताने से पहले आप ये फ़ोटो देखिये, जिसे Humans of Bombay ने अपने फ़ेसबुक पेज पर शेयर किया है.

Source: Humans of Bombay

गंगा-जमुनी तहज़ीब और आपसी प्रेम-सौहार्द्र की अनूठी मिसाल है ये कहानी. इस फ़ोटो में दिख रहे हैं 4 युवा, जिनमें से तीन मुस्लिम समुदाय के हैं और एक हिन्दू समुदाय का. साथ ही ये फ़ोटो मस्जिद की सीढ़ी पर खींची गई है. इस फ़ोटो के साथ ये लिखा गया है कि

हम चारों बहुत अच्छे दोस्त हैं और यहां शाम की नमाज़ अदा करने के लिए आये हैं. हममें से एक हिन्दू है लेकिन ये हर दिन हमारे साथ अपना काम ख़त्म करके यहां आता है. ताकि हम साथ में वक़्त बिता सकें. हम उसके लिए दुआ करते हैं और वो हमारे लिए प्रार्थना करता है. इतना ही नहीं उसको कुरान की कई आयतें भी पता हैं और हमने भी उससे गायत्री मंत्र सीखा है. इसके साथ ही इन दोस्तों ने कहा कि ऊपर वाला एक ही है और वो सबकी सुनता है चाहे आप किसी भी जाति, धर्म या समुदाय से हों. उसके सामने सब एक हैं और वो किसी में कोई भेदभाव नहीं करता है.

कितनी अच्छी बात कही है इन दोस्तों ने,

अगर पूरी दुनिया इस बात को समझ ले, तो क्या हम धरती को भी स्वर्ग नहीं बना सकते हैं?

धार्मिक प्रेम और सौहार्द्र की इससे अच्छी मिसाल आपको देखने को नहीं मिलेगी. क्या धर्म और जाति के नाम पर लड़ने वाले इस छोटी सी बात को नहीं समझ सकते कि भगवान ने सबको एक बनाया है और सबको जीने का अधिकार दिया है?