दुनिया ने इस साल के सबसे बड़े और चमकदार चांद के दर्शन किए. इसे पूरी दुनिया में सुपर स्नो मून के नाम से जाना जाता है. वैज्ञानिकों के अनुसार ऐसा तब होता है, जब पूर्णिमा के दिन चांद धरती के काफ़ी करीब आ जाता है. इसके कारण चांद अपने आकार से बड़ा और चमकीला दिखाई देता है.

लैटिन अमेरिका में फ़रवरी के महीने में बर्फ़ पड़ती है. इसलिए इस महीने में होने वाली पूर्णिमा को जब चांद धरती के करीब आ जाता है, तो उसे सुपर स्नो मून कहा जाता है. भारत समेत ये दुनिया के कई देशों में दिखाई दिया. अगर आपने ये मौका खो दिया तो कोई बात नहीं. आपके लिए सुपर स्नो मून की बेस्ट तस्वीरें छांटकर लाए हैं हम.

भारत

भारत में सुपर स्नो मून रात 9.30 बजे दिखाई दिया था.

अमेरिका

सुपरमून के दिन चांद बर्फ़िला या यूं कहें कि दूधिया रंग का दिखाई देता है.

पुर्तगाल

दुनियाभर के खगोल वैज्ञानिकों ने इस नज़ारे को देखने को बेताब थे. ताकी इस अनोखी घटना का अध्ययन कर सकें.

लंदन

खगोल वैज्ञानिकों के अनुसार अगला सुपर स्नो मून 2555 दिनों बाद दिखाई देगा.

कज़ाख़स्तान

हर संस्कृति में सुपर स्नो मून को अलग-अलग नाम से पुकारा जाता है. जैसे Storm Moon,Hunger Moon,Bone Moon आदि

ग्रीस

अंतरिक्ष एजेंसी नासा के अनुसार, इस बार चांद सिर्फ़ 6 घंटे में ही अपनी कक्षा की परिधि तक पहुंचने पर पूर्ण हो गया था.

न्यूयॉर्क

अमेरिका में सुपर स्नो मून मंगलवार सुबह 10.45 मिनट पर अपने पूरे शबाब में था.

स्पेन

बेलारूस

Minnesota, United States

चांद का ये रूप आपको कैसा लगा, कमेंट कर हमसे भी शेयर करें.