हम जिस समाज में रहते हैं, वहां बहुत से मिथक भरे पड़े हैं. ख़ासकर महिलाओं और जेंडर इक्वेलिटी(लैंगिक समानता) को लेकर. मगर अच्छी बात ये है कि धीरे-धीरे हमारे समाज की सोच भी बदल रही है. कुछ समय पहले महाराष्ट्र से एक अच्छी ख़बर आई थी. वो ये कि वहां पर टेक्ट बुक्स में लैंगिक समानता को बनाए रखने के लिए पुरुषों को महिलाओं वाले और महिलाओं को पुरुषों के कार्य करते हुए दिखाया गया था.

अब इंग्लैंड से भी ऐसी ही एक पहल हुई है. यहां की एक मां ने अपने बच्चे को Menstruation के बारे में बताया है, वो भी बड़े सहज अंदाज़ में. इसके पीछे उनका मकसद समाज में Menstruation को लेकर बनी ग़लत धारणाओं को तोड़ना है.

इस महिला का नाम है Milly Bhaskara. इनका एक चार साल का बच्चा है Eli. उन्होंने इंस्टाग्राम पर एक तस्वीर शेयर की है, इसमें उनका बेटा एक बोर्ड लेकर बैठा है, इसके ज़रिये उन्होंने एक सकारात्मक संदेश देने की कोशिश की है.

इस पोस्ट में उन्होंने बताया है कि Eli को कुछ साल पहले ही पीरियड्स के बारे में उन्होंने बता दिया था. जब पहली बार उसने अपनी मां के कपड़ों पर पीरियड्स का ख़ून देखा था. लेकिन उन्होंने इसके साथ ही ये भी बताया कि ये सिर्फ़ महिलाओं के साथ नहीं होता. बल्कि कुछ मर्दों को भी पीरियड्स आते हैं. जैसे Trans Men और Genderqueer.

View this post on Instagram

Some men have periods. Some non-binary people have periods. Some women have periods. Eli has been told about periods since he saw blood on my pants a couple of years ago (I no longer have them now and tbh it is shit when it’s seen as like the ultimate feminine superpower because I’m still a woman so 🖕🏻). I didn’t use the language of women have periods because it’s not entirely inclusive. I told him that SOME women, SOME non binary people and SOME men have periods. It was easy for him to accept as he hadn’t had to unlearn the engrained societal norm but if a 4 year old can grasp it I’m sure most of us can have a crack at unlearning transphobic/misinformed norms and open our minds... ya think? 🙄 Trans men may have ‘female’ sex organs and still experience periods and some non binary people have periods too therefore removing a female logo off the front of sanitary products helps include us all 😊 isn’t that wholesome and a nice gesture? Why I’m the name of Lizzo should that affect ANY of us... it’s not insulting to women, it’s not discrediting women, it’s opening up the community to make it a safe space for those who don’t identify as women but still have periods. Stop being a asshat. Grasp it. 💛 —— Image description: Eli who is the cutest slice of pie is holding a pin board sign. It says ‘some men have periods too, if I can grasp it so can you’.

A post shared by Milly Bhaskara 🌻 (she/her) (@millykeepsgoing) on

Milly की इस पोस्ट पर लोगों की मिलीजुली प्रतिक्रिया देखने को मिल रही है. कुछ लोग कह रहे हैं कि इससे बच्चा कन्फ़्यूज हो जाएगा तो कुछ लोग Milly से सहमत नज़र आ रहे हैं.

अगर हम भी चाहते हैं कि समाज में लैंगिक समानता को बढ़ावा मिले तो हमें भी इस तरह की ग़लत धारणाओं को तोड़ना होगा. आप इस बारे में क्या सोचते हैं, कमेंट कर हमसे भी शेयर करें.

Life से जुड़े दूसरे आर्टिकल पढ़ें ScoopWhoop हिंदी पर.