'कुछ करने की ठान लो, तो आंधियां भी नहीं रोक सकतीं मंज़िल पर पहुंचने से'

ये सच है और इसे साबित किया है UPSC की परीक्षा पास करने वाली 23 साल की सौम्या शर्मा ने. सौम्या ने ये परीक्षा बिना कोचिंग के पहली बार में ही पास की है. परीक्षा के दौरान सौम्या को 102 बुखार था. इसके बावजूद भी उन्होंने ख़ुद को हारने नहीं दिया और टॉप टेन में अपनी जगह बनाकर ऑल इंडिया में 9वीं रैंक हासिल की. सौम्या की साउथ वेस्ट दिल्ली के ज़िला मजिस्ट्रेट के अंतर्गत असिस्टेंट कमिश्नर की ट्रेनिंग चल रही है.

Girl With Hearing Impairment Cracks UPSC
Source: bhaskar

इतना ही नहीं दिल्ली की रहने वाली सौम्या 16 साल की उम्र से ही सुनने में असक्षम हैं और वो सुनने वाली मशीन का सहारा लेती हैं. इसके चलते सौम्या को विकलांग कैटेगरी में रखा गया था, लेकिन उन्होंने इस कैटेगरी के तहत फ़ॉर्म भरने से इंकार कर दिया और जनरल कैटेगरी का में फ़ॉर्म भरा. 

Delhi’s Saumya Sharma.
Source: twitter

सौम्या कहती हैं, 

मेरे लिए UPSC परीक्षा को पास करना किसी भी अन्य परीक्षा को पास करने जैसा ही था. इसे पास करने के लिए सही और उचित जानकारी होनी बहुत ज़रूरी है.  
Union Public Service Commission.
Source: femina

आपको बता दें, दिल्ली के नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी से एलएलबी करने के दौरान ही सौम्या ने UPSC की तैयारी करनी शुरू कर दी थी. इसके बाद साल 2017 में UPSC प्रीलिम्स और UPSC मेन्स परीक्षा दी. उन्होंने 10वीं क्लास में भी टॉप किया था. सौम्या के पेरेंट्स डॉक्टर हैं.