बिहार के मुज़फ़्फ़रपुर में एक घर लोगों के लिए चर्चा का विषय बन गया है. गन्नीपुर इलाके में बना 6 फ़ीट चौड़ा और 5 मंज़िला मक़ान अब सेल्फ़ी पॉइंट बन चुका है. लोग इसे दूर-दूर से देखने आते हैं. कोई इसे मुज़फ़्फ़रपुर का एफ़िल टावर बुलाता है तो कोई इसे आदमी द्वारा बनाया गया अजूबा घर कहता है. ख़ास बात ये है इतनी छोटी सी जगह पर बनी ये पांच मंज़िला इमारत सभी बुनियादी सुविधाओं से लैस है.

संतोष और अर्चना इस घर के मालिक हैं. दरअसल, उन्होंने अपनी शादी के ठीक बाद ये ज़मीन ख़रीदी थी. ज़मीन की चौड़ाई महज़ 6 फ़ीट है, इसलिए लोगों ने इसे बेचने की सलाह दी थी. लेकिन शादी की यादगार वाली इस ज़मीन को दंपति ने बेचने से इनकार कर दिया. उन्होंने ठान लिया था कि वो अब इस पर मक़ान बनाकर रहेंगे. उन्होंने ख़ुद ही घर का नक्शा तैयार किया और 2012 में नक्शा पास होने के बाद 2015 में ये भवन बनकर तैयार हुआ.

एक फ़्लोर को कौशल विकास केंद्र के लिए ट्रेनिंग सेंटर को किराये पर दिया गया है. यहां क़रीब 20 छात्र कंप्यूटर की ट्रेनिंग लेते हैं. वहीं, ऊपरी फ़्लोर पर बैचलर स्टूडेंट्स रह रहे हैं. कमरे में एक बेड के साथ ही स्टडी टेबल, बैठने की कुर्सी, किचेन और शौचालय की व्यवस्था है. सबसे ऊपर छत पर जाकर शहर का नज़ारा भी देखने को मिलता है. दिलचस्प बात ये है कि 5 मंज़िला इस मकान का आगे का आधा हिस्सा सीढ़ियों से बना है, जबकि दूसरे हिस्से में घर बना हुआ है.

इन फ़ोटोज़ में देखिए मुज़फ़्फ़रपुर के एफ़िल टावर का नज़ारा.

Image Source: News18