हमारे देश में होनहार और पढ़े-लिखे लोगों की कमी नहीं है. अगर किसी चीज़ की कमी है, तो वो है रोज़गार. कई बार टैलेंटेड होने के बाद भी युवाओं को जॉब इसलिये नहीं मिल पाती, क्योंकि उनके पास कोई जुगाड़ यानि सोर्स नहीं होता है और ये जानने के बाद मन को काफ़ी दुख़ होता है.

Source: navodayatimes

वहीं कई कॉलेज छात्र ऐसे हैं, जिन्हें डिग्री मिलने के बाद सालों तक जॉब के लिये इधर-उधर भटकना पड़ा है. इसमें से कुछ ऐसे भी होते हैं, जो नौकरी न मिलने पर परेशान होकर घर चलाने के लिये कुछ भी काम करने के लिये तैयार रहते हैं. इसी मुद्दे को लेकर हाल ही में एक Reddit यूज़र ने एक घटना शेयर की, जिसे जानने के बाद किसी भी इंसान का मन बेचैन हो जाये.

एक यूज़र ने शेयरिंग थ्रेड Reddit पर अपना अनुभव शेयर करते हुए लिखा कि उसके पास एक ऐसा डिलीवरी बॉय आया था, जिसके पास इंजीनियरिंग की डिग्री थी.

यूज़र के इस पोस्ट से कई लोग दुखी दिखे, तो कई लोगों का आक्रोश जग गया है, जैसा कि आप इन कमेंट्स में देख सकते हैं.

1. एक यूज़र ने कहा कि भारत में Hiring का सिस्टम पूरी तरह चेंज होना चाहिए, क्योंकि यहां लोग दूसरों का शोषण करने से बाज़ नहीं आयेंगे.

2. वहीं किसी ने कहा कि अब समय आ गया है कि कनाडा या स्वीडन शिफ़्ट हो जाना चाहिए.

3. एक यूज़र ने लिखा कि भारत में इंजीनियरिंग की हालत काफ़ी बुरी है.

4. वहीं एक यूज़र का कहना था कि उन्होंने देखा कि इंडस्ट्री में लोग फ़्रेशर्स के साथ कितना ज़्यादा भेदभाव करते हैं.

हांलाकि, ये पहली ऐसी घटना नहीं है, इससे पहले इसी तरह की कहानी का ज़िक्र कोलकाता के एक युवा ने भी किया था.

ये वाकया हमारे देश में बेरोज़गारी की दयनीय स्थिति को दर्शाता है. वहीं रिपोर्ट के मुताबिक, 45 वर्षों में अगर 2017 और 18 की बात की जाये, तो Unemployment रेट में 6.1% का इज़ाफ़ा देखा गया है, जो कि हमारे लिये बिल्कुल अच्छी ख़बर नहीं है.