दीपावली ख़ुशियों का त्यौहार होता है और ख़ुशियां हमेशा ही मुंह मीठा करके बांटी जाती हैं. इसलिये दिवाली के अवसर पर घर पर तरह-तरह की मिठाईयां आती हैं. हांलाकि, इस दौरान बाज़ार में बहुत सी नकली मिठाईयां भी बिकती हैं. यही वजह है कि त्यौहार पर ज़्यादातर लोग घर पर ही मीठी चीज़ें बनना पसंद करते हैं.

वहीं अगर आप घर पर मिठाई बनाने के लिये तैयार नहीं हैं, तो बाज़ार से लेते समय थोड़ा जांच परख लें. इस कार्य में आपकी थोड़ी मदद हम भी कर देते हैं. ताकि आप मिठाई को मुंह में रखने से पहले असली या नकली की पहचान कर लें.

कैसे जानें मिठाई असली है या नकली?

1. अगर खोया लाकर घर पर मिठाई बनानी है, तो थोड़े से खोये को लेकर अंगूठे के नाखून पर रगड़ें. मावा असली होने पर उसमें से घी की महक आयेगी और ज़्यादा देर तक रहेगी.

Mava
Source: vegrecipesofindia

2. मावे में चीनी मिला कर उसे गर्म करें. अगर उसमें से पानी निकलता है, तो मावा नकली है.

Khoya
Source: foodviva

3. गर्म पानी में आयोडीन मिला कर थोड़ी सी मिठाई डालें. अगर वो पानी में घुल जाती है तो समझ जाइये आपको नकली माल बेचा गया है.

Sweets
Source: ndtv

4. कुछ मिठाईयों पर चांदी का वर्क होता है, जिसमें से ज़्यादातर मिठाईयों का वर्क नक़ली होता है. इस तरह की मिठाई लेने से पहले उसे हाथ पर रगड़ें, अगर रगड़ते ही चांदी अलग हो गई, तो मिठाई नक़ली है.

Kaju Katri
Source: indiamart

5. बूंदी के लड्डू ख़रीदते समय ध्यान रहे कि उसमें केसरी रंग और टाटराजीन कलर ज़्यादा नहीं होना चाहिये. अगर लड्डू का रंग गहरा है, तो उसमें ख़राबी है.

Booni Ke Laddu
Source: freepik

6. कोई भी मिठाई लेते समय उसे सूंघे. कई बार लोग बासी और बदबूदार मिठाई पैक करके बेच देते हैं.

Sweets
Source: pinterest

7. इसके साथ ही मावा ख़रीदते समय थोड़ा सा टेस्ट करें. अगर खाने पर दानेदार लगता है, तो उसमें मिलावट की गई है.

Mava
Source: tarladalal

मिठाई ख़रीदते समय इन बातों का ध्यान रखें, बाकि दिवाली स्वस्थ और अच्छी बितेगी.

Lifestyle के और आर्टिकल पढ़ने के लिये ScoopWhoop Hindi पर क्लिक करें.