ज़िंदगी पहले से तय निर्देशों के साथ नहीं आती. ये तो बस अपने समय के हिसाब से चलती रहती है. कभी अच्छा समय आता है तो कभी जब हम अपनी सारी उम्मीद खो बैठते हैं, तो अचानक से एक रोशनी दिखाई देती है. हम सभी का जीवन उतार-चढ़ाव, दुःख-सुख से बना होता है बस जीवन रूपी इन लहरों से झूझते हुए हमें बस थोड़ा सा संयम और विश्वास रखने की ज़रूरत है. 

तेजस की ज़िंदगी में तब तूफ़ान आया जब उसके पिता को व्यापार में एक भारी नुकसान झेलना पड़ा और पूरे परिवार के ऊपर अचानक से मुसीबत आ पड़ी. 

जब मैं 10वीं क्लास में था तब मेरे पिता को व्यापार में एक बहुत बड़ा नुक़सान हुआ था. हमारे पास हमारा कुछ भी नहीं रह गया था. हम एक छोटे से घर में शिफ्ट हो गए थे और अपने सारे ख़र्चे बंद कर दिए थे. हमें कोई उम्मीद नहीं दिख रही थी. 
Tejas
Source: facebook

अपने परिवार पर आई मुसीबत को देखते हुए तेजस ने एक वेटर की नौकरी करने का फ़ैसला किया. 

जब एक बार मेरे दोस्त ने एक इवेंट के लिए वेटर की नौकरी के बारे में बताया जो कि 250 रुपये वेतन की थी, तो मैंने बिना दोबारा सोचे वो नौकरी ले ली. मुझे पता था की मेरे माता-पिता नहीं मानेंगे इसलिए मैं उनको ये बोल कर निकल गया था कि अपने दोस्त के यहां सोने जा रहा हूं. जब मैं उस जगह पहुंचा तो उन्होंने मुझे बाहर सोने को कहा और खुले में शौच करने को भी. मैं उस वक़्त 15 साल का था. 
tejas jotangia
Source: instagram
अगली सुबह जब इवेंट शुरू हुआ तो लोगों को खाना देने के बजाय मुझे लोगों का झूठा खाना, गंदे प्लेट्स और कूड़ा उठाने को कहा गया. मुझे बहुत बुरा लगा पर फिर भी मैं उस इवेंट की चकाचौंध से मोहित हो गया था. इवेंट मैनेजर ने बहुत ही बड़ा इवेंट किया था और सभी मेहमान बहुत ख़ुश लग रहे थे. मैं तभी समझ गया था कि मुझे यही बनना है. इसके बाद भी मैं इवेंट्स पर इसी तरह के काम करता रहा. अंत में मेरे माता-पिता को पता चल ही गया था कि मैं क्या कर रहा हूं लेकिन उन्होंने मेरा साथ दिया, हमें रुपये की ज़रूरत थी. मैंने अपनी पढ़ाई के लिए भी काफ़ी रुपये बचा लिए था. मैंने पढ़ाई और काम दोनों को समय दिया. मुझे अभी भी इस 5 स्टार होटल में अपनी पहली शादियों के इवेंट में से एक याद है- मेरा एकमात्र सपना किसी दिन एक अतिथि के रूप में कदम रखना था. 

तेजस और उसका परिवार अपने हालातों से डट कर लड़ रहे थे. जैसे की परेशानियों के बाद अच्छा समय आना तय है कुछ ऐसा ही यहां हुआ. 

आख़िरकार, मेरे पिता को नौकरी मिल गई तो मैंने काम करना बंद कर दिया. मैंने अपने ग्रेजुएशन पर ध्यान दिया और एक फाइनेंस कंपनी में नौकरी पा ली. मगर मुझे उस काम में मज़ा नहीं आ रहा था. मेरे दिमाग में अपने 15 साल के रूप की तस्वीर बार-बार चल रही थी, जिसको इवेंट्स की दुनिया का हिस्सा बनना था. तो मैंने अपनी नौकरी छोड़ी और दोबारा इवेंट्स ज्वाइन कर लिए. कुछ ही सालों के अंदर मैं प्रियंका चोपड़ा और निक जोनस की शादी के लिए काम कर रहा था. मैंने अम्बानी की शादी में भी काम किया है. 
tejas
Source: instagram

तेजस की पूरी ज़िंदगी बदल गई थी उसने अपनी मेहनत और लगन से अपने सपनों को पा लिया था जो एक वक़्त उसे धुंधले से नज़र आ रहे थे. 

एक लड़का जो कभी वेटर का काम करता था और लोगों के झूठे बर्तन उठाता था आज अंतररष्ट्रीय स्तर पर इवेंट्स पर काम करता है और हज़ार से भी ज़्यादा लोगों को संभालता है. अगर आज भी आप मुझसे पूछेंगे तो मैं अपने अतीत को लेकर बिलकुल भी शर्मिंदा नहीं हूं. मैंने हमेशा इस बात पर यकीन किया है कि कोई भी काम छोटा या बड़ा नहीं होता है, जब तक अंत में ये आपको शीर्ष पर ले जाता है - जहां आपके सपने सच होते हैं.