कहीं घूमने जाने से पहले आप उस जगह पर रहने के लिए होटल्स ढूंढते हैं और जिसका रिव्यू सबसे अच्छा होता आप उसे बुक कर लेते हैं. इस दौरान आपको कई अच्छे-अच्छे ऑफ़र्स भी बताए जाते हैं ताकि आप उस होटल को बुक कराने के लिए मजबूर हो जाएं. मगर उस होटल में पहुचंने के बाद आपको सब कुछ वैसा मिला जैसा उन्होंने बोला था. अगर ऐसा है, तो आप बहुत किस्मत वाले हैं. क्योंकि, आज हम जिन लोगों के अनुभव आपसे शेयर करने वाले हैं उनके साथ बिल्कुल भी वैसा नहीं हुआ जैसा उन्हें बताया गया था.

इन लोगों ने अपने अनुभव Bored Panda की वेबसाइट पर शेयर किए हैं, जो हम आपके लिए लेकर आए हैं.

1. ये गार्डन नहीं, बल्कि एक मॉटेल का स्वीमिंग पुल है.

2. ये होटल रूम का सिंक है, बनाने वाला कुछ ज़्यादा ही जल्दी में था.

3. ऐसा कार्पेट कौन लगाता है?

4. डिस्प्ले में कुछ होता है और जब वहां जाओ, तो कुछ और ही होता है.

5. जिन्होंने ये होटल बुक किया, भगवान उनको ऐसी तस्वीर के सामने खाना खाने शक्ति दें.

6. इस होटल रूम के कमरे में ही ओपन बाथरूम है.

7. अपना काम स्वयं करो.

8. इससे अच्छा तो मेरे घर की बालकनी का व्यू है.

9. पाइप वेस्ट न हो इसलिए इन्होंने स्पेशल रास्ता बना दिया.

10. ये हॉरर मूवी का सेट नहीं, होटल रूम के पर्दे हैं.

11. ठंड में सही है, नहाकर सीधे धूप में बैठ जाओ.

12. कितनी मेहनत कराओगे?

13. ये रूम किसी इंटीरियर डिज़ाइनर ने नहीं, बल्कि जासूस ने डिज़ाइन किया होगा. तभी शीशे से अंदर का सब दिख सकता है.

14. भाई क्या गोलमाल है, बनाना ही होता तो यहां क्यों आते?

15. इन्होंने बताया था, इनके मॉटेल में जिम है!

16. इससे बड़ी खिड़की तो सरकारी ऑफ़िस की होती है.

17. शावर है, लेकिन इस्तेमाल कर पाओ, तो कर लो.

18. बुक करते समय सिर्फ़ 99 डॉलर का बिल था. बिल भरने के टाइम दोगुने से भी ज़्यादा हो गया.

19. यहां पर Self Service है.

20. भाई एडजस्ट करने से ही दुनिया चल रही है!

21. ऐसा व्यू देखा है कहीं!

22. इस लिफ़्ट में नंबर्स की जगह महीनों के नाम लिखे गए हैं.

23. ढूंढ लो, तो चले जाओ अंदर.

24. इसमें HIV ढूंढो तो जाने!

25. इस होटल रूम के बाथरुम की दीवार शीशे और पर्दे से बनी है. 

26. सब लाइन में थीं, तो एक को क्यों अलग कर दिया?

27. अपनी चीज़ वापस लेने के लिए इस होटल में 25 डॉलर देने होते हैं. 

28. संभल के नहाना, कहीं बह न जाना!

29. अगर बालकनी व्यू अच्छा लगता है, तो यहां बिल्कुल न जाएं.

30. ये कैसा शीशा है?

31. जब इन्हें अलमारी बनानी थी, तो ये सोफ़ा कम बेड इतना बड़ा क्यों बनाया?

32. खिड़की के पास सोएं, तो ज़रा संभल के!

33. आधी सीढ़ियां चढ़ने के बाद इसमें लिफ़्ट है.

34. ये होटल का मूवी रूम है. इससे बड़े टीवी तो घर के हॉल में होते हैं. 

35. खंभे जैसा खड़ा है, टीवी देखना मुश्किल है.

36. टीवी यहां रखने का दिमाग़ किसने लगाया?

अगर आपके पास भी ऐसे ही कुछ अनुभव हों, तो हमसे ज़रूर शेयर करिएगा.