बाली के 'ग्रीन स्कूल' ने हाल ही में अपना दसवां स्थापना दिवस सेलिब्रेट किया है. इस स्कूल की ख़ासियत है बांस. यहां पर बच्चों को अपनी क्रिएटिविटी का इस्तेमाल कर बांस से सुंदर और टिकाऊ भवनों का निर्माण करना सीखाया जाता है. बाली का ये स्कूल दुनिया भर में अपने उतकृष्ठ Bamboo Architecture के लिए जाना जाता है.

green school of Bali
Source: qz

दुनिया भर में मशहूर हो चुके इस स्कूल के बारे में लोगों को TED Talks के ज़रिये पता चला. इस स्कूल में पहली से लेकर बारहवीं तक बांस के बारे में ही पढ़ाया जाता है. इस स्कूल से अब तक 500 स्टूडेंट्स को शिक्षित किया जा चुका है. इसका कैंपस बाली के Ubud गांव कें जंगलों में हैं, जहां बांस से बनी एक से बढ़कर एक विशाल और सुंदर इमारतें देखने को मिलती हैं.

बहुउपयोगी है बांस

green school of Bali
Source: ibuku

Tropical Latitudes में बांस हमेशा से ही बहुउपयोगी वस्तु रहा है. यहां पर बांस का इस्तेमाल घर बनाने, बगीचे की बाड़, छत आदि बनाने में किया जाता है. वैसे भी बांस इतना मज़बूत होता है कि वो रिएक्टर स्केल पर 8 तक की तीव्रता वाले भूकंप को सह सकता है.

green school of Bali
Source: balifantastic

बांस में स्टील की तन्य शक्ति होती है और वो इसके मुक़ाबले काफ़ी हल्का भी होता है. इसलिए इसका इस्तेमाल कंस्ट्रक्शन की फ़ील्ड में किया जा सकता है. बांस की इन्हीं ख़ूबियों के चलते ही बांस को और मज़बूत बनाने के लिए कई तरह के एक्सपेरिमेंट्स हुए.

1990 में एक ऑस्ट्रेलियन डिज़ाइनर Linda Garland ने University of Hamburg के एक वैज्ञानिक के साथ मिलकर बांस को व्यवसायिक रूप से बिल्डिंग मटेरियल बनाने पर काम किया. वो इसमें कामयाब भी हुए थे.

green school of Bali
Source: ibuku

पुराने समय में भी बांस का इस्तेमाल भवन निर्माण होता था

प्राचीन काल में चीन और जापान में बांस से बहुत सी इमारतें और पुल बनाए जाते थे. उनके 10वीं सदी के इतिहास में इसका ज़िक्र और चित्र मिलते हैं. इक्वाडोर में बांस से बना एक फ़्यूनरल कक्ष पाया गया था. जिसके बारे में पुरातत्वविदों का कहना है कि ये 7500 ईसा पूर्व में बना होगा.

green school of Bali
Source: inhabitat

ग्रीन स्कूल के संस्थापक John और Cynthia Hardy ने भी बांस की ख़ासियतों को जानते हुए इस अनोखे स्कूल की स्थापना की थी. वो आज के इस मॉर्डन ज़माने में बांस को जीवित रखने के की कोशिश कर रहे हैं.

वर्ल्ड फ़ेमस हैं इनके द्वारा बनाए गए मैजिकल हाउस

green school of Bali
Source: pinterest

उनके द्वारा बनाए गए मैजिकल हाउसेज़ लोगों के आकर्षण का केंद्र बन गए हैं. इनके स्कूल को बनाने में बच्चों और उनके माता-पिता ने भी अहम योगदान दिया है. उन्होंने कैंपस में इस्तेमाल होने वाले सभी सामान को बांस से ही बनाने में मदद की है.

John और Cynthia Hardy की बेटी Elora भी एक आर्किटेक्ट हैं, जो बांस से मज़बूत और अविस्मरणीय स्ट्रक्चर डिज़ाइन करने के लिए जानी जाती हैं. ग्रीन स्कूल की अधिकतर बिल्डिंग्स को इनकी टीम ने ही डिज़ाइन किया है.

जीत चुके हैं कई अवॉर्ड

green school of Bali
Source: wordpress

इनकी टीम बाली और एशिया के कुछ शहरों में स्कूल, किचन, रेस्टोरेंट, होटल आदि का इंटीरियर बांस से कर चुकी है. इनके स्कूल ने नौजवान आर्किटेक्ट की नई पीढ़ी तैयार की है. ये बांस का संपूर्ण इस्तेमाल कर उससे भवन बनाने में माहिर हैं. इन्होंने राष्ट्रीय और अंतराष्ट्रीय स्तर पर बांस से अपनी क्रिएटिविटी दिखाने के लिए कई अवॉर्ड भी जीते हैं

ग्रीन स्कूल बहुत जल्द ही न्यूज़ीलैंड में भी अपनी ब्रांच खोलने की योजना बना रहा है. बांस ही नहीं हमारी प्रकृति ने हमें बहुत कुछ ऐसा दिया है, जिसका इस्तेमाल हम ठीक तरह से करें, तो उसके बाद जो विकास होगा वो पर्यावरण और हमारे लिए भी उपयोगी हो. बांस से इको-फ़्रेंडली भवन बनाने वाले ग्रीन स्कूल ऐसी ही कोशिश में जुटा है. इनकी जितनी सरहाना की जाए कम है.

Life से जुड़े दूसरे आर्टिकल पढ़ें ScoopWhoop हिंदी पर.